(बड़ी खबर)-सूरज की हत्या से गुस्साएं बेकाबू नानकमत्ताा के ग्रामीणों ने तोड़े बस के शीशे, मची अफरा-तफरी

Slider

नानकमत्ता-आईटीबीपी की भर्ती में आये सूरज की हत्या के बाद नैनीताल और ऊधमसिंह नगर में उबाल है। जहां देर शाम लोगों ने हल्दूचौड़ में आईटीबीपी और पुलिस का जमकर विरोध किया वही आज नानकमत्ता में ग्रामीणों ने सितारगंज-खटीमा मार्ग पर जाम लगा दिया। इस दौरान प्रदर्शन कर रहे लोगों में आक्रोश देखने को मिला। लोगों ने आईटीबीपी के जवानों को सजा देने की मांग की। जाम की सूचना पुलिस को दी गई मौके पर पुलिस फोर्स पहुंची तो गुस्साई भीड़ आक्रोशित हो और बेकाबू हो गई । भीड़ ने खटीमा की ओर से आ रही परिवहान की बस हमला कर दिया और बस के शीशे तोड़ दिये।

bus

Slider

पुलिस प्रशासन के पसीने छूटे

इस दौरान अफरा-तफरी मच गई। वही जाम के चलते पुलिस प्रशासन के पसीने छूट गये। सीओ महेश चन्द्र बिंजोला और व्यपार मंडल अध्यक्ष ने गुस्साई भीड़ को बमुश्किल समझा बुझाकर शांत किया और आवश्यक कार्रवाई का भरोसा देकर आरोपितों सजा दिलाने वादा किया। जिसके बाद लोगों ने जाम खोल दिया। बता दें कि आइटीबीपी परिसर हल्दूचौड़ में अर्धसैनिक बल एसएससी के जीडी कांस्टेबल की भर्ती चल रही है।

Suraj Hatyakand

16 अगस्त को ऊधमसिंह नगर जिले के नानकमत्ता निवासी ओमप्रकाश सक्सेना का 24 वर्षीय पुत्र सूरज सक्सेना भी भर्ती में शामिल होने के लिए यहां पहुंचा था। बताया जा रहा है कि दौड़ क्वालिफाई करने के बाद मिलने वाले टोकन नंबर को लेकर सूरज का भर्ती प्रक्रिया में शामिल आइटीबीपी के कुछ जवानों से विवाद हो गया। आइटीबीपी के जवानों ने सूरज की जमकर पिटाई लगा दी। जिसके बाद वह परिसर से भाग गया था।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें