PMS Group Venture haldwani

सितारगंज- नौ साल की मासूम की हत्या, आरोपियों को उम्रकैद, ऐसे दिया था घटना को अंजाम

सितारगंज में नौ साल की मासूम की हत्या करने का मामला सामने आया है। बताया जा रहा कि इस घटना में चार लोग शामिल थे। जिनमें तीन युवकों को हत्या के जुर्म में कोर्ट द्वारा उम्र कैद की सजा सुनाई गई है। लेकिन चैथा आरोपी घटना को अंजाम तक पहुंचाने के बाद फरार है। पुलिस द्वारा फरार आरोपी को खोजने के प्रयास किए जा रहे है। जानकारी के अनुसार सितारगंज में रहने वाले बख्तावर सिंह अपने परिवार के साथ पास में ही रहते थे।

haldwani news

और कन्हैया नामक युवक उनके घर में किराए पर रहता था। इस दौरान एक अप्रैल को बख्तावर सिंह किसी काम से बिलासपुर चले गए थे। और घर में उसकी दो पुत्री 9 साल की ज्योति एवं 7 साल की गुरप्रीत एवं पुत्र राजदीप था। जिस दौरान किराएदार कन्हैया ने घर में केवल बच्चों के होने का गलत फायदा उठाया और घर में घुस गया उसने राजदीप को ठंडा पिलाने के बहाने बाहार छोड़ आया। और फिर दुबारा से घर में आकर बच्चियों को डराने व धमकाने लगा और ज्योति व गुरप्रीत दोनों को कमरे में बंद कर दिया। और घर में पडे़ सभी नगदी और जेवरात लूट ले गया।

जब कुछ समय के बाद राजदीप घर आया तो ज्योति कौर मृत पड़ी हुई थी। गुरप्रीत कमरे में सहमी थी। इस दौरान गुरप्रीत ने पूरी घटना बताई। घटना की सूचना पुलिस को दी गई पुलिस ने कन्हैया को सितारगंज में पकड़ लिया और आरोपी से लूटे गए 1.75 लाख रुपये की नगदी और जेवरात बरामद किए पुलिस के द्वारा पूछे जाने पर आरोपी कन्हैया ने बताया कि इस घटना में उसके तीन अन्य साथी अनिल, टिंकू और रोहित भी शामिल है। पुलिस ने तीन आरोपियों को पकड़ लिया है। और चैथा आरोपी रोहित फरार है जिसे पुलिस की तलाश कर रही है।

(कोरोना वायरस)उत्तराखंड के पहले ट्रेनी IFS अफसर जिन्होंने मौत को मात दी, देखिये पूरी कहानी