Shahjahanpur: कोरोना के खौफ के चलते कैदियों ने शुरु की ये अनूठी पहल

शाहजहांपुर: कोरोना के संक्रमण (Corona Infection) से जहां देश भर में मास्‍क को लेकर मारा-मारी है। मास्‍क (Mask) की कमी को लेकर कारोबारियों ने कालाबजारी शुरु कर दी है। वहीं शाहजहांपुर जेल में कैदियों ने अनूठी पहल शुरू की है। शाहजहांपुर की जिला जेल में कैदियों ने स्‍वयं के लिए मास्‍क बनाने बनाने शुरु कर दिए हैं। जेल में जिन कैदियों को मास्क बनाने का काम आता है उनसे मास्‍क बनबाने का काम दिया गया है।
mask making at jailजेल अधीक्षक ने जानकारी दी कि जेल में कई कैदी ऐसे हैं जिन्हें सिलाई का काम आता है उनसे मास्‍क बनवाने का काम किया जा रहा है। कैदियों ने अब तक करीब 200 मास्क बनाएं हैं। इन्हीं मास्क को कैदियों को दिया जाएगा ताकि उन्हें कोरोना के संक्रमण से बचाया जा सके। उन्होंने बताया कि बंदियों का पूरा ध्यान रखा जा रहा है। उनकी निगरानी के साथ-साथ जो लोग मिलाई करने आते हैं उनकी भी निगरानी की जा रही है। साथ ही सभी कैदियों की साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है।

एक ओर जहां मास्‍क को लेकर मारा-मारी है कुछ मुनाफाखोर मास्‍क की कालाबजारी कर रहें हैं। सस्‍ते मास्‍क को N-95 मास्‍क (N-95 Mask) बताकर ऊंचे दामों में बेंच रहें हैं। यदि कैदी अधिक मात्रा में मास्क बनाने में कामयाव हो जाते हैं तो उन्‍हें बाजार में भी सप्‍लाई किया जाएगा ताकि सभी लोगों को पर्याप्‍त मात्रा में मास्‍क मिल संके।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें