Uttarakhand Government
Uttarakhand Government
Home उत्तरप्रदेश सरकार सहेजेगी गुमनाम पुरातात्विक धरोहरें

सरकार सहेजेगी गुमनाम पुरातात्विक धरोहरें

हल्द्वानी- इस दंपती ने बताया “कपल चैलैंज” का असली मतलब, अब हो रही वाहवाही

सोशल मीडिया में इन दिनों कपल चैलेंज ट्रेंड कापी चर्चाओं में है। पिछले 3 से 4 दिनों में करीब 29 लाख लोगो द्वारा इस...

भारत सरकार के एक सर्वेक्षण में हुआ अहम खुलासा, देश के लगभग इतने बच्चों को है नशे की लत

भारत सरकार (Government of India) के एक सर्वेक्षण में बहुत ही अहम खुलासा हुआ है। देश में बच्चों में नशे की लत एक अहम...

किच्छा: रेलवे ब्रिज से गिरे अध्यापक, फिर क्या हुआ

रुद्रपुर । पुलभट्टा में नदी के ऊपर बने रेलवे ब्रिज के किनारे साइकिल से जा रहे एक अध्यापक की पुल से गिर कर मौत...

देहरादून- किसान बिल के खिलाफ इस बड़े आंदोलन की तैयारी में कांग्रेस, प्रदेश अध्यक्ष ने किया ये ऐलान

कृषि से संबंधित तीन कानूनों के विरोध में उत्तराखंड में राजभवन कूच की तैयारी कांग्रेस ने करीब-करीब पूरी कर ली है। 28 सितंबर यानी...

देहरादून- देश के धार्मिक इतिहास को ऐसे सवारेगी उत्तराखंड सरकार, तैयार की ये नई योजना

उत्तराखंड में आने वाले समय में महाभारत, रामायण व सीता सर्किट से धार्मिक पर्यटन के नए रास्ते खो जाएंगे। प्रदेश सरकार ने इन तीनों...

Step toward beautification of Heritage Sites: देश (Country) में न जाने कितनी ऐसी धरोहर (Heritage) हैं। जो अब खंडहर का रूप ले चुकी है। लेकिन सरकार (Government) अब इन सभी छोटी-बड़ी धरोहरों को सहेजेगी। इसके लिए देश भर में नए सिरे से सर्वेक्षण (Survey) की योजना बनाई गई है। अभी तक देश में पुरातात्विक (Archaeological) महत्व के लगभग 36 सौ स्थल सूची में शामिल है। पुरातात्विक महत्व की छोटे-बड़े सभी स्थलों की पहचान की जाएगी और स्थलों के महत्व को देखते हुए इन्हें केंद्र और राज्य (Center & state) की सूची में शामिल किया जाएगा।

यह भी पढ़ें-उत्तराखण्ड- राज्य सरकार देगी प्रत्येक घरों को पानी की सुविधा, पढ़िये पूरी जल मिशन योजना
khandar
संस्‍कृति मंत्रालय (Ministry of Culture) ने इसको लेकर जल्द ही राज्यों के संस्कृति मंत्रियों की एक बैठक बुलाने की तैयारी की है। ताकि पुरातात्विक स्थलों को समय रहते संरक्षण हो सके। देश में काफी संख्या में ऐसे पुरातात्विक स्थल है जो अभी किसी भी सूची में शामिल नहीं है और इन पर लगातार अतिक्रमण बढ़ रहा है। देश में पुरातात्विक महत्व के स्थलों की संख्या इस सर्वेक्षण में काफी बढ़ जाएगी। इसकी संख्या लगभग 10 हजार तक पहुंच सकती है।

इस समय लोग पुरातात्विक धरोहरों (Archaeological Heritage) के संरक्षण की काफी मांग कर रहे हैं। और मंत्रालय ने भी सही समय पर पुरातत्व महत्व के स्थलों को सहेजने की मुहिम शुरू की है। केंद्र सरकार राज्यों के साथ मिलकर देश में उपस्‍थित ऐसे सभी स्थलों को देश के सामने लाना चाहती हैं।

Uttarakhand Government

Related News

हल्द्वानी- इस दंपती ने बताया “कपल चैलैंज” का असली मतलब, अब हो रही वाहवाही

सोशल मीडिया में इन दिनों कपल चैलेंज ट्रेंड कापी चर्चाओं में है। पिछले 3 से 4 दिनों में करीब 29 लाख लोगो द्वारा इस...

भारत सरकार के एक सर्वेक्षण में हुआ अहम खुलासा, देश के लगभग इतने बच्चों को है नशे की लत

भारत सरकार (Government of India) के एक सर्वेक्षण में बहुत ही अहम खुलासा हुआ है। देश में बच्चों में नशे की लत एक अहम...

किच्छा: रेलवे ब्रिज से गिरे अध्यापक, फिर क्या हुआ

रुद्रपुर । पुलभट्टा में नदी के ऊपर बने रेलवे ब्रिज के किनारे साइकिल से जा रहे एक अध्यापक की पुल से गिर कर मौत...

देहरादून- किसान बिल के खिलाफ इस बड़े आंदोलन की तैयारी में कांग्रेस, प्रदेश अध्यक्ष ने किया ये ऐलान

कृषि से संबंधित तीन कानूनों के विरोध में उत्तराखंड में राजभवन कूच की तैयारी कांग्रेस ने करीब-करीब पूरी कर ली है। 28 सितंबर यानी...

देहरादून- देश के धार्मिक इतिहास को ऐसे सवारेगी उत्तराखंड सरकार, तैयार की ये नई योजना

उत्तराखंड में आने वाले समय में महाभारत, रामायण व सीता सर्किट से धार्मिक पर्यटन के नए रास्ते खो जाएंगे। प्रदेश सरकार ने इन तीनों...

रुद्रपुर: आधी रात बेटी के कमरे में गई मां तो निकल गई चीख, जानिए किस वजह से यह था नजारा

रुद्रपुर । पाश्चात्य संस्कृति की बयार में बह रही एक किशोरी को अपने ही पिता की डांट बर्दाश्त नहीं हुई और उसने आधी रात...