रुद्रपुर- स्पोट्र्स स्टेडियम में रैगिंग पर हंगामा, बोले खिलाड़ी साहब सीनियर करवाते हैं मसाज

Slider

Rudrapur News- एक बार फिर ऊधमसिंह नगर जिला सुर्खियों में है। पहले पंत विवि को लेकर यूएस काफी चर्चाओं में रहा है। अब एथलेटिक्स छात्रावास में खिलाडिय़ों के बीच हुई मारपीट चर्चा का विषय बना है। मारपीट में रैगिंग का मामला सामने आया। सूचना जिला क्रीड़ा अधिकारी तक पहुंची तो उन्होंने मौके पर पहुंचकर दोनों पक्षों को फटकार लगाई। साथ ही कार्रवाइ्र की चेतावनी दी।

Slider

सीनियरो ने जूनियरों को पीटा

बता दें कि आवासीय एथलेटिक्स छात्रावास में 25 खिलाड़ी प्रशिक्षण ले रहे हैं। इनमें 15 पुराने एवं 10 नए खिलाड़ी खटीमा, चंपावत सहित अन्य पहाड़ी जिलों से है। बताया जा रहा है कि रविवार की रात सीनियर ओर जूनियर खिलाडिय़ों के बीच मारपीट हो गई। सोमवार को सूचना मिलने पर जिला क्रीड़ा अधिकारी रासिका सिद्दीकी छात्रावास पहुंच गईं और दोनों पक्षों तथा उनके परिजनों को बुलाकर पूछताछ की। इस दौरान जूनियर खिलाडिय़ों ने कहा कि सीनियर उनसे मसाज करवाते है नहीं करने पर मारपीट करते है। ऐसा उनके साथ कई बार हो गया लेकिन उन्होंने डर से शिकायत नहीं की। लेकिन देर रात हुई मारपीट के बाद खिलाडिय़ों ने इसका विरोध कर दिया।

Rudrapur Spots Hostel

मारपीट के डर से हॉस्टल छोडऩे लगा खिलाड़ी

वही सीनियरों का आरोप है कि बिना अनुमति के ही स्कूल के बहाने तैराकी करने जाते हैं और मनमानी करते हैंए इसलिए उन्हें मना किया गया था। जिला क्रीड़ा अधिकारी ने दोनों पक्षों की बात सुनकर दोनों पक्षों से शपथ पत्र लिखवाकर माफी दे दी। जूनियर खिलाडियों ने हॉस्टल वार्डन हरीश पर भी गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि सीनियर को पीटने के लिए वहां के वार्डन शह देते हैं। कहा कि पहली बार जब जूनियर के साथ मारपीट हुई तो कोच को बताने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हुई थी। मारपीट के डर से खटीमा का एक खिलाड़ी हॉस्टल से बाहर भागने लगा। यह देख वार्डन और कर्मचारियों के हाथ-पाव फूलने लगे। वह किसी तरह खिलाड़ी को समझा-बुझाकर वापस हॉस्टल ले आए। जिला क्रीड़ा अधिकारी ने कहा है कि हॉस्टल में सिर्फ एक सीसीटीवी कैमरा लगा था। लेकिन अब सभी कमरों में भी कैमरे लगाए जाएंगे।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें