iimt haldwani

रुद्रपुर-काम से लौटा पति तो पत्नी को देख पैरों तले खिसकी जमीन, सुबह रोते हुए मायके गई थी विवाहिता

579

रुद्रपुर-न्यूज टुडे नेटवर्क- महानगर में महिलाओं की आत्महत्या का सिलसिला जारी है। इससे पहले भी कई विवाहिताएं आत्महत्या कर चुकी है। वहीं कई बच्चे भी फांसी के फंदे पर झूल चुके है। वही एक और मामला आज सामने आया है। नगर के ट्रांजिट कैंप में महिला ने साड़ी का फंदा बनाकर आत्महत्या कर ली। जिसके बाद मायके वालों ने दहेज के लिए पुत्री का उत्पीडऩ किए जाने का आरोप लगाया है। मृतका के भाई राजू और मां भूरी ने आरोप लगाया कि संजय दहेज के लिए अक्सर उसकी पुत्री से मारपीट करता था। डेढ़ साल पहले उन्होंने 50 हजार रुपये दिए थे। आज सुबह भी देवकी रोते हुए घर आई और 16 हजार रुपये मांगे थे। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी।

amarpali haldwani

मायके वालों ने लगाया दहेज उत्पीडऩ का आरोप

नई बस्ती, फुलसुंगा, ट्रांजिट कैंप निवासी संजय का विवाह चार साल पहले फरीदपुरए बरेली निवासी देवकी 20 वर्षीय पुत्री स्व. नन्हे लाल से हुआ था। संजय सिडकुल की कंपनी में मजदूरी करता है। रविवार सुबह संजय कहीं गया था। इस दौरान घर में पत्नी देवकी ही अकेली थी। वह दोपहर में लौटा तो दरवाजा अंदर से बंद था। वह पास में रहने वाले अपने ससुरालियों के घर पहुंचा। उसने अपने साले राजू को बताया कि देवकी दरवाजा नहीं खोल रही है। खिडक़ी खोल अंदर झांका। वहां पंखे के कुंडे पर देवकी साड़ी के फंदे पर लटकी थी। शोर होने पर आसपास के लोग एकत्र हो गए। सूचना पर सीओ लाइन सुरजीत कुमार और थानाध्यक्ष ट्रांजिट कैंप विद्या दत्त जोशी पुलिस कर्मियों के साथ पहुंच गए। बाद में पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।