inspace haldwani
Home Uncategorized रुद्रपुर- 1000 छात्रों को भारतीयम ऐसे दे रहा घर बैठे शिक्षा, अभिभावकों...

रुद्रपुर- 1000 छात्रों को भारतीयम ऐसे दे रहा घर बैठे शिक्षा, अभिभावकों ने की शिक्षकों की सराहना

देहरादून-बीजेपी ने राज्यसभा चुनाव के लिए नरेश बंसल को टिकट दिए, पढ़िए इनका राजनैतिक कैरियर

उत्तर प्रदेश एवं उत्तराखंड के लिए भारतीय जनता पार्टी ने अपने राज्यसभा की सीटों का निर्धारण कर दिया है उत्तराखंड के लिए...

टिहरी- यहां पड़ोस के चाचा ने पड़ोसन के साथ किया दुष्कर्म, घटना के बाद जेवरात लूटकर हुआ फरार, पढ़े पूरा मामला

टिहरी के ब्लॉक क्षेत्र जाखणीधार के एक गांव से एक ऐसी खबर सामने आई जहां पड़ोस के चाचा ने महिला के साथ दुष्कर्म कर...

रूड़की- यहां इंसानियत हुई शर्मसार, युवक ने बाइक के पीछ कुत्ता बांधकर दो किलोमीटर घसीटा

रूड़की में इसांनियत को शर्मसार कर देने वाली खबर सामने आई है। दरअसल रूड़की में एक युवक ने अपनी बाइक के पीछे अपना पालतु...

उत्तराखंड- अब भराड़ीसैंण को किया जायेगा टूरिस्ट डेस्टिनेशन के रूप में विकसित, जानिये क्या है सरकार की यह योजना

उत्तराखंड की ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण (भराड़ीसैंण) में अब प्राकृतिक वन विकसित किया जा रहा है। अब प्रदेश सरकार भराड़ीसैंण को एक टूरिस्ट डेस्टिनेशन के...

टिहरी- यहां गुलदार के आंतक से गांववासियों को मिली राहत, शिकार के बजाय गुलदार को मिली मौत

उत्तराखंड के टिहरी जिले में गुलदार के आतंक से परेशान लोगों को अब राहत मिल गई है। दरअसल गुलदार का आतंक टिहरी के नरेंद्रनगर...

आज जहाँ हर स्कूल में बच्चों को क्लास लेने में परेशानी हो रही है लेकिन भारतीयम इंटरनेशनल स्कूल सुबह सुबह 1000 विद्यार्थियों की डेली क्लासेज लगा रहे हैं। वह इसलिए क्योंकि आज पूरी दुनियां कोरोना जैसी गंभीर बीमारी शहरों तक पहुँच गई है। सरकार का आदेश कहे या डॉक्टरों की नसीहत घर से बाहर निकलना खतरे से खाली नहीं है। व्यापारी और नौकरीपेशा लोग फोन और इंटरनेट के माध्यम किसी तरह घर से काम कर अपना काम चला रहे है, पर ऐसे में

Feedback received from Dr. Sanjay Kumar and Dr. Suparna parents of Shivika. Thank you parents for kind words of…

Bhartiyam International School, Rudrapur ಅವರಿಂದ ಈ ದಿನದಂದು ಪೋಸ್ಟ್ ಮಾಡಲಾಗಿದೆ ಮಂಗಳವಾರ, ಮಾರ್ಚ್ 31, 2020

अभिभावकों को बच्चों की चिंता सता रही है। स्कूल बंद, ट्यूशन बंद, एक्टिविटी क्लासेज बंद, यहा तक की पार्क में खेलना बंद, दोस्तों से मिलना बंद, दोस्तों के घर जाना बंद, दोस्तों को घर बुलाना बंद, अब ऐसे में बच्चे करें तो क्या करें। टीवी और इन्टरनेट की भी अपनी सीमाएं है। ऐसे में अभिभावकों का परेशान होना लाजमी है।

Bhartiyum school

इस कठिन दौर का सही उपयोग करने के लिए भारतीयम इंटरनेशनल स्कूल अपनी वर्चुअल क्लासेज शुरू कर दी है। जिसकी शुरुआत करते हुए स्कूल ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के द्वारा अपना परीक्षा परिणाम घोषित किया था। जिसमें अभिभावकों ने बच्चों के साथ स्कूल के अध्यापकों के मुखातिब हुए। अध्यापकों के साथ-साथ अभिभवकों के लिए भी ये नया अनुभव था जिसे अभिभवकों द्वारा खूब सराहा गया। इस दौरान अभिभावक डॉ. रेणुका मिश्रा ने कहा कि स्कूल के द्वारा उठाया गया कदम वाकई सराहनीय है। अभिभावक अनुभा त्यागी ने कहा कि बच्चों को लेकर उनकी चिंता अब खत्म हो गई है। यह सभी संभव हुआ है ज़ूम ऐप्प के माध्यम से जँहा पढ़ाई आसान हो गई है।

Bhartiyum school

अभिभावक विभा श्रीवास्तवा ने कहा कि विषम परितिथियों में कदम महत्वपूर्ण साबित होगा और स्कूल खुलने से बाद बच्चों पर पढ़ाई का अतिरिक्त बोझ नहीं पड़ेगा। स्कूल के प्रबंधक भारत गोयल ने बताया कि आज के समय में आधुनिकता का महत्व सिर्फ मनोरंजन तक ही सीमित नहीं है जरुरत है। हर आयाम को देखने की, बच्चे भले ही स्कूल न आ रहे, पर हम उन तक पहुच रहे है। उन्होंने बताया कि बच्चे ही देश का भविष्य है और अभी जो माहौल देश में है, उसमें हमारी जिम्मेदारी है कि बच्चों की शिक्षा में कोई कमी न आये।

Bhartiyum school

स्कूल की प्रधानाचार्या शिखा गौतम ने बताया कि आगामी सत्र के लिए वो पूरी तरह से तैयार है। बच्चों की पढ़ाई को विभिन्न वर्गों में बांटा गया है। जिसमें पढ़ाई के साथ साथ योग, ड्राइंग, म्यूजिक और डांस के भी ऑनलाइन सेशन रखे गए है। उन्होंने कहा के हर विषय के समय सीमा निर्धारित की गई है और वर्कशीट भी दी जाएंगी ताकि बच्चे मोबाइल या कंप्यूटर पर सुनियोजित तरीके से समय बिताएं। उन्होंने बताया कि सभी अध्यापक कठिन परिश्रम कर रहे है और अभिभावकों की ओर से मिली सराहना से उनका मनोबल बढ़ा है।

Related News

देहरादून-बीजेपी ने राज्यसभा चुनाव के लिए नरेश बंसल को टिकट दिए, पढ़िए इनका राजनैतिक कैरियर

उत्तर प्रदेश एवं उत्तराखंड के लिए भारतीय जनता पार्टी ने अपने राज्यसभा की सीटों का निर्धारण कर दिया है उत्तराखंड के लिए...

टिहरी- यहां पड़ोस के चाचा ने पड़ोसन के साथ किया दुष्कर्म, घटना के बाद जेवरात लूटकर हुआ फरार, पढ़े पूरा मामला

टिहरी के ब्लॉक क्षेत्र जाखणीधार के एक गांव से एक ऐसी खबर सामने आई जहां पड़ोस के चाचा ने महिला के साथ दुष्कर्म कर...

रूड़की- यहां इंसानियत हुई शर्मसार, युवक ने बाइक के पीछ कुत्ता बांधकर दो किलोमीटर घसीटा

रूड़की में इसांनियत को शर्मसार कर देने वाली खबर सामने आई है। दरअसल रूड़की में एक युवक ने अपनी बाइक के पीछे अपना पालतु...

उत्तराखंड- अब भराड़ीसैंण को किया जायेगा टूरिस्ट डेस्टिनेशन के रूप में विकसित, जानिये क्या है सरकार की यह योजना

उत्तराखंड की ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण (भराड़ीसैंण) में अब प्राकृतिक वन विकसित किया जा रहा है। अब प्रदेश सरकार भराड़ीसैंण को एक टूरिस्ट डेस्टिनेशन के...

टिहरी- यहां गुलदार के आंतक से गांववासियों को मिली राहत, शिकार के बजाय गुलदार को मिली मौत

उत्तराखंड के टिहरी जिले में गुलदार के आतंक से परेशान लोगों को अब राहत मिल गई है। दरअसल गुलदार का आतंक टिहरी के नरेंद्रनगर...

हरिद्वार- यहां पत्नी मांग रही थी गाड़ी पति ने भी कर डाली ससुर की कार चोरी, फिर जो हुआ आप भी पढ़े

हरिद्वार में एक ऐसा मामला सामने आया जहां ससुर द्वारा बेटी को कार न देने पर दामाद ने कार ही चोरी कर डाली। मामला...