iimt haldwani

ऋषिकेष-इतनी-सी बात पर सीनियर छात्रों ने कर दी 7वीं के छात्र की हत्या, स्कूल प्रबंधक ने भी शव स्कूल में दफनाया

89

ऋषिकेष-न्यूज टुडे नेटवर्क-देवभूमि में एक छात्र की सनसनीखेज हत्या का मामला सामने आया। रानीपोखरी थाना अंतर्गत भोगपुर स्थित चिल्ड्रन होम ऐकेडमी में सातवीं कक्षा के छात्र की हत्या का खुलासा करते हुए पुलिस ने स्कूल के प्रबंधक, वार्डन व व्यायाम शिक्षक सहित दो बालिग छात्रों को गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि मृतक छात्र की एक छोटी सी गलती के कारण सभी बच्चों की आउंटिंग पर लगाए गए प्रतिबंध के चलते उसके दो सीनियर छात्रों ने क्रिकेट के बैट व विकेट से बेरहमी से पीटकर उसकी हत्या कर दी थी। जबकि स्कूल प्रबंधन ने इस पूरी घटना को छुपाने का प्रयास किया। पुलिस ने हत्या के आरोप में छात्र शुभांकर पुत्र गंगाधर निवासी एमडीडी, कॉलोनी डालनवाला देहरादून, लक्ष्मण पुत्र मदन राय निवासी परमानंद भटिंडा पंजाब, प्रबंधक प्रवीन मैसी पुत्र जगत सिंह मैसी निवासी बुआखाल पौड़ी गढ़वाल, व्यायाम शिक्षक अशोक सोलोमन पुत्र सोनाराम निवासी भटिंडा पंजाब व वार्डन अजय कुमार पुत्र आसीम कुमार निवासी चिल्ड्रन होम ऐकेडमी भोगपुर थाना रानीपोखरी जनपद देहरादून को गिरफ्तार कर लिया है।

amarpali haldwani

वासु ने दुकान से चुराया था बिस्कुट

घटना का खुलासा करते हुए थानाध्यक्ष रानीपोखरी पीडी भट्ट ने बताया कि घटना के रविवार दस मार्च को सभी बच्चे हॉस्टल से चर्च गए थे, जिसमें वासु यादव भी शामिल था। बताया जा रहा है कि रास्ते में वासु ने लेखपाल सिंह रावत की दुकान पर बिस्कुट का पैकेट चोरी कर लिया था, जिसकी सूचना लेखपाल सिंह ने चर्च में जाकर स्टाफ को दी। इसके बाद स्टाफ ने वासु को डांट लगाई और बिना अनुमति सभी बच्चों की आउटिंग पर रोग लगा दी। इस बात से नाराज कक्षा बारहवीं के छात्र शुभांकर व लक्ष्मण ने हॉस्टल पहुंच कर वासु के साथ क्रिकेट के बैट व विकेट से मारपीट करनी शुरू कर दी। वासु यादव 12 वर्ष, पुत्र झपटू यादव निवासी विवेकानंद कुष्ठ कॉलोनी मेरठ रोड सातवी क्लास का छात्र था।

गिनती में पता चला एक बच्चा है गायब

इसके बाद वार्डन अजय ने देर शाम जब बच्चों की गिनती की तो वासु नहीं मिला। ढूंढने पर वासु स्टडी हॉल में बेहोश मिला। वह उल्टी कर रहा था, जिसे स्कूल स्टाफ ने आनन-फानन में हिमालयन हॉस्पिटल जौलीग्रांट पहुंचाया। जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। विद्यालय प्रबंधन ने हिंदू छात्र के शव को पोस्टमार्टम कराने के बाद ईसाई रीति से विद्यालय परिसर में ही दफना दिया। परिजनों ने दोबारा शव के पोस्टमार्टम कराने और हिंदू रीति से अंतिम संस्कार करने की मांग की है। फिलहालअभी तक शव को नहीं निकाला गया। मृतक वासु के पिता झप्पू यादव ने बताया कि उन्हें देर रात विद्यालय के वार्डन ने उनके बेटे की तबीयत खराब होने की सूचना दी। जब वह सुबह अस्पताल में पहुंचे तो उनके पुत्र की मृत्यु का समाचार उन्हें दिया गया।