रानीखेत-उत्तराखंड के सुर सम्राट के नाम से जाना जायेगा चौखुटियां महाविद्यालय, गोस्वामी परिवार में ऐसे मना जश्न

Slider

Ranikhet News- विगत दिवस गोस्वामी परिवार के लिए एक बड़ा दिन साबित हुआ। एक तरफ बेटे ने देशभर में अपनी गायकी से पिता और परिवार का मान बढ़ाया तो दूसरी तरह सरकार ने भी गोस्वामी परिवार के चेहरे में मुस्कान लौटाई। विगत दिवस राजकीय महाविद्यालय चौखुटिया का नाम बदलकर उत्त्तराखंड के सुर सम्राट स्व. गोपाल बाबू गोस्वामी जी के नाम पर कर दिया गया। यह शासनादेश शासन द्वारा जारी किया गया। इससे पहले लखनऊ में हिन्दुस्तान जन कल्याण संघ आयोजित राष्ट्रीय एकता के कार्यक्रम में संगीत एव गायन के क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए सुर सम्राट स्व. गोपाल बाबू गोस्वामी जी के सुपुत्र लोकगायक रमेश बाबू गोस्वामी को सम्मानित किया गया। यह साथ परिवार में आयी खुशियों से गोस्वामी परिवार गदगद हो उठा।

Ramesh Babu Goswami

Slider

 फूलमालाओं से किया मीरा गोस्वामी का स्वागत

आज उनके निवास स्थान चांदीखेत में ग्रामीणों ने एकत्र होकर सुर सम्राट स्व श्री गोपाल बाबू जी की धर्मपत्नी मीरा गोस्वामी का फूलमालाओं से स्वागत किया। इस मौके पर लोगों ने गोस्वामी परिवार को बधाई दी। अब राजकीय महाविद्यालय चौखुटिया का नाम बदलकर उत्त्तराखंड के सुर सम्राट स्व. गोपाल बाबू गोस्वामी कर दिया गया। इससे छात्रों और कर्मचारियों में भी उत्साह का माहौल देखने को मिला। अपने गीतों से उत्तराखंड की संस्कृति को संवारने वाले सुर सम्राट स्व. गोपाल बाबू गोस्वामी जी को अपनी पहचान मिली। परिजनों ने सरकार का आभार प्रकट किया।

Ramesh babu

बेटे ने जीता गायकी के क्षेत्र में अवार्ड

वही भारत के गौरव सम्मन समारोह में सम्मानित किये जाने पर लोक गायक रमेश बाबू गोस्वामी हिन्दुस्तान जन कल्याण संघ परिवार और संघ अध्यक्ष जितेश गंगवार का आभार प्रकट किया। साथ ही रमेश बाबू ने कहा कि आज दिन दिन हमारे लिए खुशी का दिन है आज उनके पिता का सपना पूरा हो गया। राजकीय महाविद्यालय चौखुटिया का नाम उनके पिता जी के नाम से जाना जायेगा। उन्होंने प्रदेश की त्रिवेन्द्र सरकार के साथ-साथ पूर्व कांग्रेस सरकार का भी आभार प्रकट किया। बता दें कि वर्ष 2016 में तत्कालीन कांग्रेस सरकार में मुख्यमंत्री रहे हरीश रावत ने चौखुटियां महाविद्यालय का नाम सुर सम्राट स्व. गोपाल बाबू गोस्वामी जी के नाम पर रखने की घोषणा की थी लेकिन कुछ कारणवश यह मामला लटका रहा। इस बारे में गोस्वामी परिवार ने द्वाराहाट के महेश नेगी से वार्ता की। उन्होंने गोस्वामी परिवार को भरोसा दिलाया। आज अपने भरोसे पर खरे उतरे विधायक महेश नेगी का गोस्वामी परिवार ने दिल से आभार प्रकट किया।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें