रामनगर-लाइसेंस के लिए एआरटीओं विभाग ने कर दिया परेशान, तो युवक ने उठाया ये घातक कदम हालत गंभीर

Slider

Ramnagar News- सरकारी विभागों की लापरवाही एक बार फिर सामने आयी। जहां फाइले धीरे-धीरे खिसकती है। जहां कई महीनों तक सुनवाई नहीं होती है। ऐसे में तंग आकर एक युवक ने आत्मघाती कदम उठा लिया। बताया जा रहा है कि रामनगर में लाइसेंस नहीं मिलने से परेशान युवक ने एआरटीओ में ही जहर खा लिया। जिसके बाद विभागीय कर्मचारियों के हाथ-पांव फूले। आनन-फानन में उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया लेकिन युवक की हालत गंभीर होने से उसे हल्द्वानी रैफर कर दिया गया।

Slider

गुलरघट्टी नई बस्ती निवासी जाहिद अली का आठ माह पूर्व हल्‍दुवा के पास मवेशी ले जाने पर चालान कर दिया गया था। चालक जाहिद के वाहन के कागज व लाइसेंस पुलिस ने जब्त कर लिए थे। वह काफी दिनों से लाइसेंस के लिए विभाग के चक्कर लगा रहा था। लेकिन हर बार कोई न कोई बहाना बनाकर उसे टरकाया जा रहा था। बता दे कि नया मोटर वावन एक्ट लागू होने के बाद सभी कागज अनिवार्य है। ऐसे में विभाग की भारी लापरवाही उसके जान पर आ गई। उसे लाईसेंस के लिए कभी काशीपुर तो कभी हल्द्वानी भेजा गया। काशीपुर पहुंच तो रामनगर भेजा गया। रामनगर पहुंचने के बाद एआरटीओ में भी उसे लाइसेंस नहीं मिला तो परेशान होकर उसने जहर खा लिया। हालत गंभीर होने पर उसे हल्द्वानी रेफर कर दिया। इसमें विभाग की भारी लापरवाही सामने आयी जिससे क्ष्ुाब्ध होकर युवक ने जहर खाया।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें