drishti haldwani

ठगी का अड्डा बैंको को बना रहे बदमाश, ऐसे जाल बुन लगा रहे लोगों को चूना

170

ठगों के हौसले इतने बुलंद है कि अब इन्होंने ठगी के लिए बैंको को ही अनपा अड्डा बना डाला है। रामनगर में ऐसा ही एक मामला प्रकाश में आया है। यहां ठकों ने बैंक से पैसे निकालने आये युवक को अपनी ठगी के जाल में फसाकर उसे पचांस हजार का चूना लगा दिया। जिसके बाद ठग वहा से फरार हो गए। ठगी का शिकार हुए पीड़ित ने मामले की जानकारी पुलिस को दी है। इधर पुलिस जांच में संदिग्‍धों की तस्वीर सीसीटीवी फुटेज में कैद हुई है। पुलिस आरोपितों की तलाश कर रही है।

iimt haldwani

ramnagar bank fraud

मदद करना पड़ा भारी

जानकारी मुताबिक मोहल्ला बड़ी मस्जिद निवासी वसीर अहमद राज मिस्त्री हैं। गुरुवार को एक मकान मालिक द्वारा उन्हें 50 हजार रुपये निकालने के लिए चेक दिया गया था। वसीर ने पंजाब नेशनल बैंक से 50 हजार रुपये निकाले तो वह नोट गिनने लगे। इस बीच एक व्यक्ति आया उसने कहा कि उसे अभी 50 हजार रुपये एक युवक को देने है। जबकि उसके पास गड्डी में बंधे चार लाख रुपये है, लेकिन यह पूरे पैसे उसे अपने खाते में जमा करने है। यह पैसे जमा करके वह तत्काल खाते से 50 हजार रुपये निकालकर वापस कर देगा।

वसीर ने मदद करने के लिए उसे 50 हजार रुपये दे दिए। ठग ने 50 हजार रुपये मौके पर पहुंचे युवक को थमा दिए। गड्डी में बंधे अपने चार लाख रुपये उसे थमाते हुए कहा कि वह युवक को बाहर तक छोड़कर आ रहा है। ठग बैंक नहीं पहुंचा तो वसीर ने नोटों की गड्डी खोली तो उसके भीतर सारे कागज के टुकड़े मिले। ठगी होने पर उसने कोतवाली पहुंचकर पुलिस को जानकारी दी। पुलिस ने बैंक व आसपास के सीसीटीवी चेक किए। पुलिस ने ठग के हुलिए के आधार पर जांच शुरू कर दी है।