inspace haldwani
Home देश राम मंदिर मामला : सुप्रीम कोर्ट में सुवनाई टली, 10 जनवरी...

राम मंदिर मामला : सुप्रीम कोर्ट में सुवनाई टली, 10 जनवरी से तीन जजों की नई बेंच करेगी सुनवाई, जजों के नाम का ऐलान 6 या 7 जनवरी को

नई दिल्ली-न्यूज टुडे नेटवर्क : लंबे समय से सुप्रीम कोर्ट में लंबित अयोध्या के राम जन्मभूमि विवाद पर सुनवाई की उम्मीद जगी है। राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद पर में सुप्रीम कोर्ट अब 10 जनवरी को अगली सुनवाई होगी। 10 जनवरी को मामला सुप्रीम कोर्ट की तीन जजों की स्पेशल बेंच के सामने जाएगा। 6 या 7 जनवरी को इस बेंच में शामिल जजों के नाम का ऐलान कर दिया जाएगा। जस्टिस दीपक मिश्रा के रिटायर होने के बाद इस मामले में सुनवाई के लिए कोई विशेष पीठ नहीं थी। सीजेआई ने कहा कि इस मामले की सुनवाई के लिए एक रेग्युलर बेंच बनेगी, जो 10 जनवरी को इस मामले में आगे के आदेश परित करेगी।

मामले की सुनवाई 30 सेकेंड भी नहीं चली

प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई और न्यायमूर्ति एस के कौल की पीठ ने कहा, ‘एक उपयुक्त पीठ मामले की सुनवाई की तारीख तय करने के लिए 10 जनवरी को आगे के आदेश देगी।’ सुनवाई के लिए मामला सामने आते ही प्रधान न्यायाधीश ने कहा कि यह राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद मामला है और इस पर आदेश पारित किया। अलग-अलग पक्षों की ओर से पेश हुए वरिष्ठ अधिवक्ता हरिश साल्वे और राजीव धवन को अपनी बात रखने का कोई मौका नहीं मिला। मामले की सुनवाई 30 सेकेंड भी नहीं चली। अब अयोध्या भूमि विवाद मामले को आगे ले जाने के लिए तीन सदस्यीय एक पीठ का गठन किया जाएगा। इस मामले में इलाहाबाद उच्च न्यायालय के वर्ष 2010 के आदेश के खिलाफ 14 याचिकाएं दायर हुई हैं।

rammandir

सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार

मोदी की यह टिप्पणी आरएसएस समेत हिंदुत्व संगठनों की तेज होती उस मांग के बीच आई थी कि मंदिर के जल्द से जल्द निर्माण के लिए एक अध्यादेश लाया जाए। हाल ही में प्रधानमंत्री ने भी एक साक्षात्कार में कहा था कि राम मंदिर पर जब तक कानूनी प्रक्रिया चल रही है तब तक अध्यादेश लाने का कोई विचार नहीं है। सरकार अयोध्या में राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार करेगी।

rammandir (1)

तीन जजों की बेंच तय करेगी सुनवाई

उस दिन तीन जजों की बेंच यह तय करेगी कि मामले में सुनवाई की दशा और दिशा क्या होगी। वर्तमान बेंच ने शुक्रवार को सुनवाई के दौरान कहा कि हम तीन जजों की बेंच नहीं हैं और ऐसे में हम इस मामले में सुनवाई तय नहीं कर सकते। बता दें कि पिछली सुनवाई पर कोर्ट ने मामले को जनवरी के पहले सप्ताह में तारीख तय करने के लिए लगाने का आदेश दिया था।

Related News

नई दिल्ली- रेलवे ने शुरू की ई-कैटरिंग सुविधा, सीट पर बैठे-बैठे यात्रियों को मिलेगी ये सुविधा

इंडियन रेलवे ने ट्रेनों में ई-कैटरिंग सेवा को फिर से शुरू करने का फैसला लिया है। रेलवे द्वारा जारी जानकारी के अनुसार फिलहाल ये...

नहीं रहे क्रिकेटर हार्दिक पांड्या के पिता, इस बीमारी से हुआ निधन

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। पिता की मौजूदगी सूरज की तरह होती है सूरज गर्म जरूर होता है लेकिन अगर ना हो तो अंधेरा छा जाता...

नई दिल्ली- इस दिन होगी 2021 नीट पीजी परीक्षा, खबर में देखें परीक्षा का पूरा पैर्टन

नेशनल बोर्ड ऑफ एगजामिनेशन (NBE) ने मेडिकल के पीजी कोर्सेस में एडमिशन के लिए प्रवेश परीक्षा नीट पीजी 2021 की तारीख की घोषणा कर...

लोन देने वाले ऐप चुरा सकते हैं आपका पर्सनल डाटा, गूगल ने इतने ऐप्स‍ कर दिए हैं बैन

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। अगर आप पर्सनल लोन लेने के इच्‍छुक हैं तो सीधे आथोराइज्‍ड बैंक या सरकारी एजेंसी से ही सम्‍पर्क करें। इंटरनेट के...

विधान परिषद चुनाव: बीजेपी ने प्रदेश अध्यक्ष और डिप्टी समेत दो उम्मीदवार उतारे, सपा ने दो बड़े नेताओं को बनाया प्रत्याशी

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी में विधान परिषद चुनावों की सरगर्मियां तेज हो गई हैं। यूपी में विधान परिषद की 12 सीटों पर 28 जनवरी...

65वें जन्मदिन पर बोलीं बसपा प्रमुख- 2022 में यूपी में बसपा की सरकार, अकेले चुनाव लड़ेगी पार्टी

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। बसपा सुप्रीमो मायावती ने ऐलान किया है कि 2022 का विधानसभा चुनाव उनकी पार्टी बसपा अकेले ही लड़ेगी। गौरतलब है कि...