हल्द्वानी- पीएम मोदी की रैली का सामना करने राहुल गांधी आ सकते है देवभूमी, इन मुद्दों को लेकर हो रही तैयारियां

हल्द्वानी- न्यूज टुडे नेटवर्क: लोकसभा चुनाव का माहौल गरमाते ही सभी राजनीतिक पार्टियां जनता को लुभाने की तैयारियों में जुट चुकी है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कुमाऊं दौरे और रुद्रपुर में भाजपा रैली का जवाब देने के लिए कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी फरवरी माह के अंत में बाजपुर में विशाल रैली कर सकते है। किसानों की समस्याओं और बेरोजगारों के मुद्दों के साथ कांग्रेस ने 2019 की तैयारियों शुरू कर दी है। बता दें कि तीन राज्यों में किसानों के समर्थन के बाद भाजपा की हुई हार को देखते हुए कांग्रेस अब आक्रामक मुद्रा में है। हालहीं में भाजपा द्वारा पेश किए गए अंतिम बजट में सम्मान योजना के तहत किसानों के खातों के पैसे डालने की घोषणा का कांग्रेस पहले ही मजाक बना चुकी है। जिसके बाद अब 14 फरवरी को रुद्रपुर में प्रधानमंत्री मोदी की रैली के बाद राहुल गांधी द्वारा बाजपुर में की जा रही रैली की बात ने दोनों पार्टियों को एक बार फिर आमने-सामने लाकर खड़ा कर दिया है।

प्रदेश कार्यकारिणी का जल्द होगा विस्तार

कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव में भाजपा को उसी की मांद में घेरने के लिए तैयारी तेज कर दी है। इस कड़ी में सबसे पहले लोकसभा की पांच सीटों पर प्रत्याशी तय किए जाएंगे। साथ ही प्रदेश कार्यकारिणी का भी जल्द विस्तार किया जाएगा। भाजपा से सबक लेते हुए प्रमुख प्रतिपक्षी पार्टी ने जिला और निचले स्तर पर बूथ तक अपने कार्यकर्ताओं पर भरोसा जताया है। मजबूत और जिताऊ प्रत्याशियों का चयन इन्हीं निचले स्तर के कार्यकर्ताओं की रायशुमारी से किया जाएगा। जानकारी मुताबिक कांग्रेस की स्टेट स्क्रीनिंग कमेटी को 20 फरवरी तक संभावित प्रत्याशियों का पैनल तैयार कर केंद्रीय चुनाव समिति को सौंपने के निर्देश हैं। फरवरी माह के आखिर या अगले माह मार्च के पहले हफ्ते तक पांचों सीट पर प्रत्याशी घोषित किए जा सकते हैं।