inspace haldwani
Home उत्तरप्रदेश प्रयागराज: माघ मेला का आज तीसरा बड़ा स्नान, जानिए मौनी अमावस्या का...

प्रयागराज: माघ मेला का आज तीसरा बड़ा स्नान, जानिए मौनी अमावस्या का महत्व…

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। प्रयागराज में श्रद्धालुओं का भारी जन सैलाब उमड़ पड़ा है। माघ मेले का आज तीसरा प्रमुख स्नान है। मौनी अमावस्या के प्रमुख स्नान को लेकर अखाड़ों के महंतों और अनुयायियों का पहुंचना लगातार जारी है। इस मौके पर तीर्थों के तीर्थ कहे जाने वाले संगम नगरी प्रयागराज में लोग घाटों पर मोक्ष की डुबकी लगाएंगे। बुधवार रात 12:00 बजे से ही प्रयागराज संगम पर श्रद्धालुओं का आना शुरू हो गया था। प्रातः 4:00 बजे से हर हर गंगे व हर हर महादेव के जयकारों के साथ श्रद्धालुओं ने स्नान दान प्रारंभ कर दिया।

भारी भीड़ को देखते हुए मेला प्रशासन ने 8 घाटों पर स्नान की व्यवस्था की है। चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा कर्मी तैनात किए गए हैं। एटीएस ,एनडीआरएफ ,एसडीआरएफ व जल पुलिस के अलावा सिविल पुलिस को तैनात किया गया है। पूरे मेला क्षेत्र की ड्रोन कैमरों से निगरानी हो रही है। मान्यता है कि संगम तट पर और गंगा नदी में देवताओं का वास रहता है। इसमें स्नान करना अधिक फलदाई माना जाता है।

इस साल मकर राशि में ग्रहों का दुर्लभ संयोग बनने के कारण इसका महत्व कई गुना बढ़ जाता है। शास्त्रों में मौनी अमावस्या के दिन सुबह से मौन व्रत रखते हुए ध्यान चिंतन आदि करना अति उत्तम माना गया है। पूरे साल में 12 अमावस्या होती हैं। इनमें मौनी अमावस्या का अपना बेहद खास महत्व है। इस दिन तिल ,तेल ,सूखी लकड़ी, कपड़े ,गर्म वस्त्र ,कंबल और जूते दान करने का विशेष महत्व है।

मौनी अमावस्या पर संगम में लगभग 40 लाख श्रद्धालुओं के डुबकी लगाने की संभावना है। ऐसे में भीड़ को देखते हुए अक्षय वट के दर्शन पर रोक लगा दी गई है। मेला परिक्षेत्र में झूले व अन्य मनोरंजन के साधनों को भी बंद कराया गया है। मेला प्रबंधक विवेक शुक्ला का कहना है कि एक जगह बहुत भीड़ रूकने ना पाए इसलिए यह निर्णय लिया गया है।

पूरे स्नान के समय 24 घंटे मेडिकल सेवाएं वहां उपलब्ध रहेंगी। सभी घाटों पर एंबुलेंस और मेडिकल की टीमों को तैनात किया गया है। मरीजों के इलाज और कोविड जांच की व्यवस्था भी की गई है। वहीं शहर के बेली और एसआरएन अस्पताल में 20- 20 बेड रिजर्व रखे गए हैं। मेला क्षेत्र के सभी 16 प्रवेश द्वार पर थर्मल स्क्रीनिंग से जांच की जा रही है

Related News

Hardoi- प्रेमी की बाहों में बैठी थी बेटी, पिता ने सिर धड़ से अलग किया

न्यूज टुडे नेटवर्क, हरदोई। एक पिता ने खौफनाक वारदात को अंजाम देते हुए अपनी बेटी का ही गला काट दिया। इसके बाद कटे गले...

बरेली: विश्‍व श्रवण दिवस पर एसआरएमएस में लगा कैम्‍प, 200 मरीजों की जांच

न्‍यूज टुडे नेटवर्क, बरेली। विश्‍व श्रवण दिवस पर कानों की सुनने की क्षमता के प्रति जागरूक करने के लिये श्री राम मूर्ति अस्‍पताल ने...

योगी: विपत्ति जब आती है, कायर को ही दहलाती है, सूरमा नहीं विचलित होते, क्षण एक नहीं धीरज खोते

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। आज विधानसभा में बजट सत्र का 9वां दिन था। सदन में बजट पर विपक्ष के सवालों का जवाब देते हुए मुख्‍यमंत्री...

काम की खबर: शिक्षा के अधिकार अधिनियम के तहत प्रवेश शुरू, इस दिन तक करें आवेदन

न्यूज टुडे नेटवर्क, बरेली। निशुल्क एवं अनिवार्य बाल शिक्षा अधिकार अधिनियम के तहत नए शैक्षिक सत्र में अलाभित समूह व दुर्बल वर्ग के बच्चों...

बरेली: डेलापीर चौराहे पर रात 10 बजे हुआ हादसा, ऐसे चली गयी एमबीए छात्रा की जान

न्‍यूज टुडे नेटवर्क, बरेली। पेपर देकर अपने दोस्‍त के साथ घर लौट रही एमबीए की छात्रा को तेज रफ्तार ट्रक ने टक्‍कर मार दी।...

Bareilly-जिला अस्पताल व मेडिकल कॉलेज में सप्ताह में छह दिन लगेगी कोविड वैक्सीन, नई गाइडलाइन आई

न्यूज टुडे नेटवर्क, बरेली। जिला अस्पताल व सभी मेडिकल कॉलेजों में सप्ताह के 6 दिन कोविड वैक्सीनेशन किया जाएगा। शासन की तरफ से नई...