inspace haldwani
Home उत्तराखंड हल्द्वानी- 2019 लोकसभा चुनाव के लिए गजराज बिष्ट ने ठोकी दावेदारी,...

हल्द्वानी- 2019 लोकसभा चुनाव के लिए गजराज बिष्ट ने ठोकी दावेदारी, कहा इस गुरु ने सिखये राजनीतिक गुर

हल्द्वानी- न्यूज टुडे नेटवर्क: लोकसभा चुनाव का समय जैसे-जैसे नजदीक आता जा रहा है वैसे-वैसे भाजपा से चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों की लिस्ट लंबी होती जा रही है। कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य व कालाढूंगी विधायक बंशीधर भगत के बाद अब प्रदेश महामंत्री गजराज बिष्ट ने भी लोकसभा चुनाव लड़ने की अपनी दावेदारी पेश की है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2009 व 2014 में उनके द्वारा पहले भी चुनाव लड़ने की दावेदारी पेश की गई थी। जिसके बाद अब 2019 लोकसभा चुनाव के लिए वह केन्द्र और प्रदेश नेतृत्व के सामने नैनीताल से चुनाव लड़ने के लिए अपनी बात रख चुके है। प्रदेश महामंत्री ने कहा कि उनको यकीन है की पार्टी उनके 30 वर्ष के कार्याकाल जिसमें पार्टी द्वारा सौंपे गए हर पद पर उन्होंने कार्य किया है, उसको जरूर समझेगी और चुनाव लड़ने का उनको मौका प्रदान करेगी।

नहीं था राजनीति का शौक

प्रदेश महामंत्री व मण्डी परिषद के अध्यक्ष गजराज बिष्ट ने कहा कि उनका राजनीति में आने का कोई विचार नहीं था। राजनीति में आने का सफर उनका पहली बार एबीवीपी से कॉलेज चुनाव लड़कर शुरू हुआ। जहां चुनाव लड़वाने वाले वह राजनीतिक सफर में मार्गदर्शक बनकर उनके साथ रहने वाले कोई और नहीं वल्की आदित्य कोठारी है। जिनको राजनीति में वह अपना गुरू मानते है। गजराज ने कहा कि चाहे वो युवा मोर्चा में प्रदेश अध्यक्ष का कार्य हो या जिला महामंत्री का पद अपने गुरू द्वारा दिए गए ज्ञान को वे हर संभव पड़ाव पर इस्तेमाल करते रहे है। वही 2019 लोकसभा चुनाव के लिए भी वह खुद को तैयार मानते है। कहा कि पार्टी में 30 साल के कार्याकाल में उन्होंने निंरतर कार्य किया है। जिससे उनकी एक मज़बूत पहचान न केवल कार्यकर्ताओं में है वल्की जनता और युवाओं में भी है। जिसको देखते हुए उन्होंने ये दावेदारी पेश की है।

पहाड़ी क्षेत्रों में खुलेंगे कलेक्शन सेंटर

उत्तराखंड मण्डी परिषद के अध्यक्ष गजराज बिष्ट ने बताया कि पर्वतीय क्षेत्रों के किसानों के छोटे उत्पादों को मण्डी तक पहुंचाने में आ रही दिक्कतों का उनको पता चला। जिस पर मंडी परिषद ने निर्णय लेते हुए जल्द ही पहाड़ी क्षेत्रों में कलेक्शन सेंटर खोलने का फैसला लिया है। जिसमें मण्डी तक नहीं पहुंच पाने वाले उत्पादों को खरीदा जाएगा। मण्डी परिषद के अध्यक्ष गजराज बिष्ट ने बताया कि किसानों के पास पर्याप्त मात्रा में फल सब्जियों की उपज है लेकिन फल सब्जियों को हल्द्वानी मण्डी में पहुंचाने में उन्हें कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है, क्योंकि उत्पादों की लागत से ज्यादा परिवहन में खर्च लगता है। जिससे किसानों को नुकसान होता है और पहाड़ का काश्तकार कर्ज के बोझ तले दब जाता है। लिहाजा किसानों की सुविधाओं को देखते हुए जल्द ही मंडी परिषद दूरस्थ क्षेत्रों में जगह-जगह खरीद सेंटर खोलेगी।

Related News

देहरादून- पेयजल टेरिफ पुनरीक्षण के लिए सीएम त्रिवेन्द्र ने किया समिति का गठित, जलापूर्ति के लिए बनाई ये योजना

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने प्रदेश में पेयजल टेरिफ पुनरीक्षण के लिये नगर विकास मंत्री मदन कौशिक एंव उच्च शिक्षा राज्य मंत्री डा. धन...

रुद्रपुर: मंत्री अरविंद पांडेय कोर्ट में हुए पेश, जानिए किस मामले में जारी था वारंट

रुद्रपुर। प्रदेश के पंचायतीराज एवं शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय शनिवार को कोर्ट में उपस्थित हुए। कोर्ट ने उनके खिलाफ वारंट जारी कर रखा था। शनिवार...

हल्द्वानी- नैनीताल डिस्टिक कोऑपरेटिव बैंक ने इन पदों पर निकाली भर्ती, ऐसे करें आवेदन

नैनीताल डिस्टिक कोऑपरेटिव बैंक ने सहयोगी गार्ड की भर्ती निकाली है। बैंक द्वारा 21 पदों पर निकाली गई भर्ती के लिए इच्छुक अभ्यर्थी 16...

त्रिवेंद्र सरकार का बेरोजगारो के हित में फैसला,नर्सिंग भर्ती में अनुभव की शर्तो के बदले नियम।

उत्तराखंड में बेरोजगार युवाओ के हित में फैसला लेते हुए सरकार ने नर्सिंग भर्ती में एक साल के अनुभव की शर्त को हटा दिया...

रुद्रपुर: एक झूठ पर सस्पेंड हो गए दारोगा जी, जानिए क्या है पूरा मामला

रुद्रपुर । बाजपुर दोराहा चौकी इंचार्ज को अपनी लोकेशन गलत बताना भारी पड़ गया। एसऍएसपी दिलीप सिंह कुंवर ने झूठ बोलने पर चौकी इंचार्ज...

रुद्रपुर: किसान आंदोलन की अनदेखी का खामियाजा भुगतेगी बीजेपी: नागेश

रुद्रपुर। कांग्रेस के प्रदेश सचिव नागेश त्रिपाठी ने कहा कि केंद्र सरकार को दो माह से सड़क पर बैठे हजारों किसानों की चिंता नहीं...