हल्द्वानी-खटी-मीठी यादों के साथ संपन्न हुआ मतदान, जानिये कहां हुआ सबसे अधिक और सबसे कम मतदान

Slider

हल्द्वानी- न्यूज टुडे नेटवर्क- प्रदेशभर में 92 में से 84 नगर निकायों के चुनाव के लिए रविवार को खटी-मीठी यादों के साथ संपन्न हो गये। जिसमेंं 1257 मतदान केंद्रों के 2664  मतदेय स्थलों में सुबह आठ बजे से शुरू हुआ मतदान शाम 5 बजे तक चला। कुमाऊं जोन में कई जगह प्रत्याशियों की झड़प भी हुई। तो कई जगह मतदाताओं के वोटर लिस्ट में नाम न होने से हो-हल्ला भी हुआ। हल्द्वानी में दो प्रत्याशी आपस में भिड़ गये। वहीं एक बूथ कर्मचारी को बदला गया। साथ ही एक मतदाता पर वोट देने के दौरान फोटो लेकर फेसबुक डालने से मुकदमा दर्ज कराया गया। वही यूएसनगर के दिनेश में एक बूथ मोहर खो गई। इसके अलावा काशीपुर में काशीपुर के वार्ड 31 में बेलेट पेपर में पार्षद प्रत्याशियों के चुनाव चिह्न गलत छपने के कारण चुनाव स्थगित कर दिया गया है। यहां अब सोमवार को मतदान हो गया। कुल मिलाकर झड़प, उत्साह और जोश के साथ निकाय चुनाव संपन्न हो गये। दो बजे तक नैनीताल जिले में 39 प्रतिशत मतदान हुआ था वहीं चार बजे तक 52 प्रतिशत चला गया। जबकि मतदान समाप्त होने के बाद प्रतिशत रहा।

Slider

सबसे आगे रहा लालकुआं

वही इस बार निकाय चुनाव में बैलेट पेपर होने के बावजूद मतदाताओं ने बढ़-चढक़र हिस्सा लिया। चार बजे तक कुमाऊं के नैनीताल में 52 प्रतिशत, हल्द्वानी में 54 प्रतिशत, रामनगर में 61 प्रतिशत, भीमताल में 53प्रतिशत, कालाढूंगी में 59 प्रतिशत, लालकुआं में 73 प्रतिशत, और भवाली में 57 प्रतिशत मतदान हुआ। वहीं मतदान संपन्न होने के बाद नैनीताल- 66.94, भवाली- 71.05, भीमताल- 68.78, कालाढूंगी- 71.07, रामनगर – 72.68, लालकुआँ- 83.82, हल्द्वानी- काउंटिंग प्रचलित हुआ।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें