drishti haldwani

अब हाईस्कूल में ये विषय नहीं होगा अनिवार्य, बोर्ड ने भेजा शासन को प्रस्ताव….

164

रामनगर-न्यूज टुडे नेटवर्क : उत्तराखंड विद्यालयी शिक्षा परिषद की कोशिशें परवान चढ़ीं, तो राज्य की हाईस्कूल परीक्षा में गणित विषय की बाध्यता समाप्त हो सकती है। इसके अलावा हाईस्कूल व इंटरमीडिएट के छात्र-छात्राओं को सीबीएसई पैटर्न पर कम्पार्टमेंट परीक्षा (बैक) की सहूलियत भी मिल सकती है।

iimt haldwani

Capture

उत्तराखंड विद्यालयी शिक्षा परिषद मुख्यालय रामनगर में बोर्ड सदस्यों की बैठक में इन प्रस्तावों की रूपरेखा पर चर्चा करने के बाद मंजूरी के लिए शासन को भेजा गया है। परिषद के प्रभारी शिक्षा निदेशक माध्यमिक बीएस नेगी की अध्यक्षता व शोध अधिकारी मनोज पाठक के संचालन में उत्तराखंड बोर्ड के सदस्यों की बैठक के दौरान कई प्रस्तावों पर चर्चा की गई। नहीं

math

25 प्रस्तावों पर चर्चा

बैठक में शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ाने के लिए कुल 25 प्रस्तावों पर चर्चा की गई। सीबीएसई पैटर्न पर हाईस्कूल व इंटरमीडिएट की बोर्ड परीक्षा में अनुत्तीर्ण होने वाले छात्र-छात्राओं के लिए कम्पार्टमेंट परीक्षा (बैक) की सुविधा देने पर गंभीरता से चर्चा हुई।

math3

दिव्यांग अभ्यर्थियों के लिए विशेष व्यवस्था

बोर्ड परीक्षा में दिव्यांग अभ्यर्थियों को परीक्षा के लिए अतिरिक्त समय देने व कापी के पहले पन्ने पर विशेष पहचान कोड की व्यवस्था करने, योग व खेल को पाठ्यक्रम का हिस्सा बनाने, इतिहास विषय में प्रयोगात्मक विषय प्रणाली शुरू करने, इण्टर में गणित विषय में परियोजना कार्य व आंतरिक मूल्यांकन करने व मूल्यांकन पारिश्रमिक बढ़ाने पर चर्चा हुई। बैठक में बोर्ड सचिव डा. नीता तिवारी, अपर सचिव बृजमोहन सिंह रावत, प्रशासनिक अधिकारी केएन गहत्याड़ी, एनसी पाठक सहित कई अन्य अधिकारी मौजूद रहे।