inspace haldwani
Home उत्तराखंड अब उत्तराखंड में भी ले सकेंगे नीदरलैंड के सेब का स्वाद ,...

अब उत्तराखंड में भी ले सकेंगे नीदरलैंड के सेब का स्वाद , इस जिले में होगी पैदावार

उत्तराखंड में विकल्प बन कर उभरी है आप, जानिए आप नेताओं ने उठाए कौन से मुद्दे

किच्छा । आम आदमी के प्रदेश अध्यक्ष एसएस कलेर एवं प्रदेश प्रभारी दिनेश मोहनिया ने कहा कि आम आदमी पार्टी उत्तराखंड में विकल्प बन...

देहरादून- भ्रष्टाचार पर करारे वार का दंश झेल रहे हैं त्रिवेंद्र,अब सीबीआई करेगी दूध का ढूध पानी का पानी

देहरादून। मामला झारखंड का और दांव पर उत्तराखंड की अस्मिता। जी हां, अजब है पर सच है। झारखंड के एक आधारहीन मसले को उछालकर...

उत्तराखंड- ट्रेन में अकेले सफर करने वाली महिलाओं के लिए रेलवे का फैसला, शुरू किया खास मेरी सहेली मिशन

महिलाओं की सुरक्षा के लिए रेलवे ने बड़ा फैसला लिया है। जिसके तहत रेलवे स्टेशन और ट्रेन में अकेले सफर करने वाली महिला यात्री...

देहरादून- मुख्यमंत्री ने किया भाजपा प्रशिक्षण शिविर का शुभारंभ, राज्य के लिये कहीं ये बात

उत्तराखंड मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने देहरादून में कार्यकर्ता प्रशिक्षण शिविर का आज शुभारम्भ किया। भारतीय जनता पार्टी केंद्रीय प्रशिक्षण विभाग की ओर से...

उत्तराखंड- अब रेल यात्रियों को मिल सकेंगी और भी बेहतर सुविधायें, यहां बन सकता है प्रदेश का रेल मंडल मुख्यालय

उत्तराखंड में रेल मंडल मुख्यालय बनाये जाने को लेकर चर्चायें जोरों पर है। इस बात की जानकारी नॉर्दर्न रेलवे मेंस यूनियन के राष्ट्रीय महासचिव...

देवभूमि पहाड़ी फलों के उत्पादन के लिये हमेशा से ही जाना जाता है, यहां की पथरीली जमीन पौष्टिक फलों का उत्पादन करने में लोगों के लिये बेहद फायदेमंद साबित होती है। उत्तराखंड के हर जिले मे अनेक प्रकार की फसलों का उत्पादन किया जाता है। बात अगर चम्पावत जिले की करे तो यहां इन दिनों नीदरलैंड की प्रजाति के सेब का उत्पादन किया जा रहा है। चम्पावत में तीन साल पहले नीदरलैंड की फ्लोरिंग नर्सरी से सन लाइट व मौन लाइट प्रजाति के 80 तथा सीआईटीएस जम्मू कश्मीर से 20 पौध लाकर खेतीखान में लगाए गए थे।

इस बार इन पेड़ों पर फल आने से काश्तकारों में खुशी की लहर दौड़ रही है। यहां 100 पौधों में आठ क्विंटल से अधिक सेब का उत्पादन हुआ है।जिसको देखकर अब बायफ संस्था ने यहां गोल्डलेनए रेडलेनए सनलाइटए मून लाइट के पौधों की नर्सरी तैयार करने का निर्णय लिया है। सेब की इन प्रजातियों की विशेषता यह है कि यह महज छह फिट तक लंबे होते हैं तथा एक नाली में 800 से 1200 पेड़ लगाए जा सकते हैं।ये पेड़ तीन वर्ष के अंदर ही फल देने लग जाते हैं। जबकी परंपरागत सेब के पेड़ पांच से छह साल में फल देते हैं।

बायफ परियोजना निदेशक डॉ. दिनेश रतूड़ी ने बताया कि आज से तीन वर्ष पूर्व बायफ ने बंजर पड़े खेतों में नीदरलैंड का सेब उगाने का निर्णय लिया था और इसके लिए करीब 100 पौधे लगाए गए थे। उन्होने बताया कि इन पेड़ों में इस बार आठ क्विंटल से भी अधिक सेब लगा है। सेब की बाजार में अधिक मांग होने के कारण इसे स्थानीय बाजारों में भी पहुंचाया दिया गया है। सेब की पैदावार देख अब खेतीखान के बांजगांव व मानर गांव में नीदरलैंड के सेब की नर्सरी तैयार की जा रही है। इस नर्सरी के पौधे काश्तकारों को भी उपलब्ध किये जायेंगे।

एक पेड़ में लगते है, करीबन 20 किलो सेब

नीदरलैंड के इस सेब की प्रजाति के एक पेड़ में 20 किलो तक फल लगते हैं। इनका स्वाद भी बेहद अच्छा है। चम्पावत का वातावरण इस सेब की खेती के लिये काफी उपयुक्त है। जिस कारण सेब का अधिक उत्पादन होने से इसका प्रयोग सफल हुआ है।

 

Related News

उत्तराखंड में विकल्प बन कर उभरी है आप, जानिए आप नेताओं ने उठाए कौन से मुद्दे

किच्छा । आम आदमी के प्रदेश अध्यक्ष एसएस कलेर एवं प्रदेश प्रभारी दिनेश मोहनिया ने कहा कि आम आदमी पार्टी उत्तराखंड में विकल्प बन...

देहरादून- भ्रष्टाचार पर करारे वार का दंश झेल रहे हैं त्रिवेंद्र,अब सीबीआई करेगी दूध का ढूध पानी का पानी

देहरादून। मामला झारखंड का और दांव पर उत्तराखंड की अस्मिता। जी हां, अजब है पर सच है। झारखंड के एक आधारहीन मसले को उछालकर...

उत्तराखंड- ट्रेन में अकेले सफर करने वाली महिलाओं के लिए रेलवे का फैसला, शुरू किया खास मेरी सहेली मिशन

महिलाओं की सुरक्षा के लिए रेलवे ने बड़ा फैसला लिया है। जिसके तहत रेलवे स्टेशन और ट्रेन में अकेले सफर करने वाली महिला यात्री...

देहरादून- मुख्यमंत्री ने किया भाजपा प्रशिक्षण शिविर का शुभारंभ, राज्य के लिये कहीं ये बात

उत्तराखंड मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने देहरादून में कार्यकर्ता प्रशिक्षण शिविर का आज शुभारम्भ किया। भारतीय जनता पार्टी केंद्रीय प्रशिक्षण विभाग की ओर से...

उत्तराखंड- अब रेल यात्रियों को मिल सकेंगी और भी बेहतर सुविधायें, यहां बन सकता है प्रदेश का रेल मंडल मुख्यालय

उत्तराखंड में रेल मंडल मुख्यालय बनाये जाने को लेकर चर्चायें जोरों पर है। इस बात की जानकारी नॉर्दर्न रेलवे मेंस यूनियन के राष्ट्रीय महासचिव...

उत्तराखंड- छात्रों का इंतजार होगा खत्म, नवम्बर में इस दिन से खुलेंगे डिग्री काॅलेज

लाॅकडाउन के कारण पिछले कई महीनों से बंद डिग्री काॅलेजों को खोलने की तैयारी में अब सरकार जुट गई है। आपकों बता दें कि...