केवल मीठा खाने से नहीं, बल्कि इन कारणों से भी हो जाती है डायबिटीज, इन बातों को रखें विशेष ध्यान…

21

नई दिल्ली-न्यूज टुडे नेटवर्क : आज के वक्त में डायबिटीज यानि मधुमेह ऐसी बीमारी बन गई है जो सबसे तेजी से और जल्दी से लोगों को होने लगी है। यह बीमारी सुनने में भले ही छोटी और आम लगती है लेकिन असल में यह उतनी ही खतरनाक है। डायबिटीज किसी भी उम्र के व्यक्ति को अपना शिकार बना सकती है। अगर इसके कारणों की बात करें तो लोगों को लगता है कि यह बीमारी केवल अधिक मीठा खाने वाले लोगों को ही होती है जबकि यह केवल एक मिथक है। असल में यह एक लाइफस्टाइल संबंधित बीमारी है और इसके होने के कई कारण हैं। ज्यादातर लोगों को ऐसा लगता हैं कि डायबिटीज सिर्फ ज्यादा मीठा खाने से ही होती है। जबकि यह एक मात्र मिथ है। डायबिटीज होने के कई कारण है। आज हम आपको डायबिटीज होने के कुछ मुख्य कारण बताएंगे।

dibitig

वजन बढऩा

एक सही शरीर में ही एक स्वस्थ आत्मा का निवास होता हैं। समय से खाना ना खाना, ज्यादातर जंकफूड पर आश्रित रहना आपके मोटापे का मुख्य कारण होता हैं। यदि आपका वजन काफी ज्यादा बढ़ रहा हैं और आपका बीपी भी हाई रहता है और इसके साथ ही साथ आपका कॉलेस्ट्रॉल भी नियंत्रण में नहीं है तो हो सकता हैं कि आपको डायबिटीज हो। बहुत अधिक मीठा खाने, खाने के बाद तुरंत सो जाने, कम पानी पीने, एक्सरसाइज ना करने, इन सभी कारणों से आपको डायबिटीज हो सकती हैं।

खून में शुगर का बढऩा

डायबिटीज रोगी को बार-बार पेशाब आता है और इसकी मुख्य वजह यह होती हैं डायबिटीज के कारण इंसुलिन के कम निर्माण से रक्त में शुगर अधिक हो जाती है। शरीर की ऊर्जा कम होने से रक्त में शुगर जमा होने लगती है जिससे कि इसका निष्कासन मूत्र के जरिए होता है।

dibities_3

जेनेटिक भी है वजह

डायबिटीज होने का एक बड़ा कारण है आपके जीन्स। अगर आपके परिवार के किसी भी सदस्य को शुगर है तो हो सकता हैं कि आपको भी भविष्य में डायबिटीज हो जाये।

maxresdefault (1)

नहीं हो पता है इंसुलिन का निर्माण

इंसुलिन के जरिये पहुंचाई गई शुगर से ही सेल्स को एनर्जी मिलती है और डायबिटीज के कारण ही इंसुलिन हार्मोंन का निर्माण कम होने लगता हैं होना। इसके कम होने के चलते कोशिकाओं तक और रक्त में शुगर ठीक से नहीं पहुंच पता हैं। इसके चलते शरीर की एनर्जी कम होने लगती है और इसी कारण से बेहोशी आना, दिल की धडक़न तेज होना इत्यादि समस्याएं होने लगती हैं।