inspace haldwani
inspace haldwani
Home उत्तरप्रदेश New Education Policy: नई शिक्षा नीति हुई तैयार, इसके बाद होगी लागू

New Education Policy: नई शिक्षा नीति हुई तैयार, इसके बाद होगी लागू

शौंचालय निर्माण में नहीं हो रहा मानक कै अनुरुप सामग्री का प्रयोग

पीलीभीतःशौचालय निर्माण में मानक के अनुरुप सामग्री  प्रयोग नहीं किए जाने से ग्रामीणों  में काफी रोष है ।थाना हजारा क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम शास्त्री...

ऑल इंडिया कल्चर एसोसिएशन द्वारा बैठक का आयोजन

बरेली l कौमी एकता सप्ताह छठा दिन 24 नवम्बर आल इण्डिया कल्चरल एसोसिएशन ( ऐका ) बरेली द्वारा मनाये जा रहे कौमी एकता सप्ताह...

शिक्षक एमएलसी चुनाव मतदाता सम्मेलन

बरेली l भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी डॉ हरी सिंह ढिल्लों के समर्थन में भाजपा महानगर द्वारा मतदाता सम्मेलन का आयोजन संगम पैलेस कुदेशिया...

तहसील से घर लौट रहे 28 वर्षीय प्राइवेट कर्मचारी की चाकु से गोदकर हत्या,जांच में जुटी पुलिस

बरेलीःतहसील से घर लौट रहे एक प्राइवेट कर्मचारी की हत्यारो ने चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी। हत्यारो ने कर्मचारी के शव को गन्ने...

प्रॉपर्टी डीलर ने अपने पूरे परिवार को कुल्हाड़ी से काट डाला

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। पंजाब के लुधियाना से दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है. यहां के हंबड़ा रोड स्थित मयूर विहार में एक व्यक्ति...

समय की मांग के साथ शिक्षा नीति में बदलाव भी बहुत जरूरी है। इसी के चलते पिछले कई दिनों से नई शिक्षा नीति (new education policy) तैयार की जा रही थी। आप केंद्रीय मानव संसाधन विकास (Human Resource Development) मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने बताया कि नई शिक्षा नीति का मसौदा तैयार हो गया है। संसद से मंजूरी मिलते ही नई शिक्षा नीति लागू कर दी जाएगी।
uttarakhand education news
नई शिक्षा नीति दुनिया की पहली ऐसी शिक्षा नीति होगी जिसमें करोड़ों लोग शामिल हुए हैं। इसमें शिक्षाविदों, गांव पंचायत, राजनेताओं, वैज्ञानिकों, छात्र और अभिभावकों से परामर्श ली गई है। अब दूरदर्शन और रेडियो (Doordarshan and radio) से शहरों के साथ-साथ ग्रामीण इलाकों में भी ऑनलाइन शिक्षा (online education) पहुंचाई जाएगी।

मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि बच्चे देश का भविष्य है। इसलिए इनको अच्छी शिक्षा और इनकी सुरक्षा हमारी सबसे बड़ी जिम्मेदारी है। ऐसी मुश्किल हालात में शिक्षकों के चलते ही छात्र शिक्षा से जुड़े रहे। असल मायने में शिक्षक भी कोरोना वॉरियर (corona warriors) हैं। अगर किसी शिक्षक को किसी प्रकार की शिकायत या दिक्कत हो तो वह यूजीसी (UGC) के शिकायत प्रकोष्ठ से सम्पर्क करें। इसके अलावा मंत्रालय से भी संपर्क कर सकते हैं।

Related News

शौंचालय निर्माण में नहीं हो रहा मानक कै अनुरुप सामग्री का प्रयोग

पीलीभीतःशौचालय निर्माण में मानक के अनुरुप सामग्री  प्रयोग नहीं किए जाने से ग्रामीणों  में काफी रोष है ।थाना हजारा क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम शास्त्री...

ऑल इंडिया कल्चर एसोसिएशन द्वारा बैठक का आयोजन

बरेली l कौमी एकता सप्ताह छठा दिन 24 नवम्बर आल इण्डिया कल्चरल एसोसिएशन ( ऐका ) बरेली द्वारा मनाये जा रहे कौमी एकता सप्ताह...

शिक्षक एमएलसी चुनाव मतदाता सम्मेलन

बरेली l भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी डॉ हरी सिंह ढिल्लों के समर्थन में भाजपा महानगर द्वारा मतदाता सम्मेलन का आयोजन संगम पैलेस कुदेशिया...

तहसील से घर लौट रहे 28 वर्षीय प्राइवेट कर्मचारी की चाकु से गोदकर हत्या,जांच में जुटी पुलिस

बरेलीःतहसील से घर लौट रहे एक प्राइवेट कर्मचारी की हत्यारो ने चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी। हत्यारो ने कर्मचारी के शव को गन्ने...

प्रॉपर्टी डीलर ने अपने पूरे परिवार को कुल्हाड़ी से काट डाला

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। पंजाब के लुधियाना से दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है. यहां के हंबड़ा रोड स्थित मयूर विहार में एक व्यक्ति...

कोरोना काल में एनीमिया से बचाव बेहद जरूरी खानपान का रखें विशेष ध्यान

सीतापुुुरः कोरोना काल में इस बात पर विशेष जोर दिया जा रहा है कि शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होनी चाहिए। आज की...