नई दिल्ली-विश्व कप के लिए भारतीय टीम की घोषणा, इस खिलाड़ी की लगी लॉटरी, ऋषभ पंत बाहर

20

नई दिल्ली-न्यूज टुडे नेटवर्क-आईसीसी विश्व कप 2019 के सबसे बड़े टूर्नामेंट के लिए टीम इंडिया का एलान कर दिया गया है। आज भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने टीम का ऐलान कर दिया गया है। टीम में उत्तराखंड के ऋषभ पंत और अंबाती रायडू को जगह नहीं मिल पाई है। जबकि विजय शंकर और केदार जाधव को टीम में शामिल किया गया है। टीम में पंत को जगह नहीं दी गई है। दिनेश कार्तिक को मौका दिया गया है। इस बार की विश्व कप टीम में पिछली विश्व कप टीम के कई खिलाडिय़ों को शामिल किया गया है। वर्ष 2015 में ऑस्ट्रेलिया-न्यूजीलैंड में संयुक्त रूप से खेले गए विश्व कप में महेंद्र सिंह धौनी की कप्तानी में टीम इंडिया का सफर सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया से हारकर खत्म हो गया था। इस बार विराट की कप्तानी में एक बार फिर से टीम इंडिया तीसरी बार विश्व कप खिताब को अपने घर लाने को बेताब है।

इस बार विश्व कप में सात नये चेहरे


इंग्लैंड में 30 मई से शुरू हो रहे वनडे विश्व कप के लिए 15 सदस्यीय भारतीय टीम का ऐलान कर दिया गया है। वर्ष 2015 विश्व कप में धौनी की कप्तानी में टीम इंडिया को पूल बी में रखा गया था। इस पूल में भारत के अलावा दक्षिण अफ्रीका, पाकिस्तान, वेस्टइंडीज, आयरलैंड, जिम्बाब्वे और संयुक्त अरब अमिरात जैसे देश शामिल थे। भारत ने लीग मैचों में सभी देशों को हराते हुए 12 अंक के साथ अपने पूल में शीर्ष स्थान हासिल किया था। इसके बाद क्वार्टर फाइनल में भारत का मुकाबला बांग्लादेश के साथ हुआ था जहां टीम इंडिया को जीत मिली थी। पिछले विश्व कप में इस टीम के सात खिलाड़ी खेले थे और बाकी के सात खिलाड़ी नए हैं। वर्ष 2015 विश्व कप में में इस विश्व कप टीम के रोहित शर्मा, शिखर धवन, विराट कोहली, धौनी, मो. शमी, रवींद्र जडेजा और भुवनेश्वर कुमार खेले थे। इस बार लोकेश राहुल, केदार जाधव, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, हार्दिक पांड्या, जसप्रीत बुमराह और विजय शंकर पहली बार विश्व कप में हिस्सा लेंगे। दिनेश कार्तिक वर्ष 2007 में विश्व कप टीम का हिस्सा रह चुके हैं।

 222 रन बनाने वाले पंत बाहर 111 बनाने वाले अंदर

विश्व कप में खेलने को लेकर पंत का नाम सबसे आगे था लेकिन अंतिम समय पर चयनकर्ताओं ने उन्हेंं बाहर का रास्ता दिखा दिया। दूसरे विकेटकीपर के लिए ऋषभ पंत पर अनुभवी दिनेश कार्तिक भारी पड़ गये। पंत अभी तक आईपीएल में 222 रन बना चुके हैं, जबकि कार्तिक ने 111 रन बनाए हैं। पंत ने पिछले कुछ मैचों में अपने विकेट खराब शॉट खेलकर
गंवाए। माना जा रहा है उन्हें यह गैरजिम्मेदारी भरे शॉट ही भारे पड़ गए। लेकिन पंत की धाकड़ बल्लेबाजी और जरूरत के समय लंबे छक्के मारने का जोश टीम इंडिया को महंगा पड़ सकता है। चयनकर्ताओं ने चौथे स्पेशलिस्ट पेसर की जगह ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या पर भरोसा जताया है। इसके अलावा विजय शंकर भी मीडियम पेस बॉलिंग करते है। शंकर की
किस्मत का ताला खुल गया।