नई दिल्ली- अगर जंगल में बम गिराते तो पाकिस्तान क्यों जवाबी हमला करता, एयर स्ट्राइक पर एयरफोर्स चीफ का बयान

0
84

नई दिल्ली-न्यूज टुडे नेटवर्क-आज वायुसेना चीफ एयर मार्शल बीएस धनोआ ने पत्रकारों से वार्ता करते हुए कहा कि वायुसेना का काम अपने टारगेट को हिट करना है। हम ये नहीं गिनते की वहां कितना नुकसान हुआ है। उन्होंने दो टूक कहा कि हमें जो भी टारगेट मिलता है हम सिर्फ उसे ही तबाह करते हैं। उन्होंने कहा कि अगर हमारे टारगेट सही नहीं लगे हैं और सिर्फ जंगल में बम गिराए होते तो पाकिस्तान की ओर से जवाब क्यों आता। उन्होंने क´हा कि इस एयरस्ट्राइक में मिग-21 का इस्तेमाल क्यों हुआ। इस पर भी वायुसेना प्रमुख ने जवाब दिया। उन्होंने कहा कि मिग-21 हमारा एक कामगार विमान है, जिसे अपग्रेड कर दिया गया है। इस विमान के पास बेहतर रडार है।

मिग 21 के इस्तेमाल क्या हर्ज

उन्होंने कहा कि जो भी विमान हमारे बेड़े में है, हम उसे अपनी लड़ाई में इस्तेमाल करते है।अभी भी हमारा ऑपरेशन जारी है, इसलिए ज्यादा जानकारी को सभी के सामने नहीं बता सकते हैं। एयरफोर्स चीफ बीएस धनोआ ने कहा कि अभिनंदन का विमान में उड़ान भरना मेडिकल टेस्ट पर निर्भर करता है। मिग की क्षमता पर कोई सवाल नहीं है और मिग 21 के इस्तेमाल में हर्ज क्या है। उन्होंने कहा कि हमारे पास अपग्रेडेड विमान है। वायुसेना प्रमुख ने कहा कि हमने अपने लक्ष्य को पूरा किया है। एयरफोर्स नहीं गिनती है कि कितने लोग हताहत हुए है। यह काम सरकार का है।