iimt haldwani

नई दिल्ली- पश्चिमी बंगाल में ममता को लगा फिर बड़ा झटका, 12 पार्षद व एक विधायक भाजपा में शामिल

128

नई दिल्ली-बंगाल की सीएम ममता बनर्जी की मुश्किले कम होने का नाम नहीं ले रही है। एक तरफ पूरे देश में डॉक्टरों ने हड़ताल की हुई है ममता उस समस्या से निपटने की कोशिश में जुटी है तो तो दूसरी तरफ उनकी पार्टी ने उन्हें बड़ा झटका दे दिया है। आज तृणमूल कांग्रेस के नौपाड़ा विधायक सुनील सिंह समेत पार्टी के 12 पार्षद भी अब भाजपा में शामिल हो गए हैं। इससे पहले लोकसभा चुनाव में भी कई विधायक भाजपा में शामिल हो गये थे। इसके बाद लोकसभा चुनाव में ममता को करारी हार का सामना करना पड़ा। लोकसभा चुनाव में भाजपा बंपर सीटों से जीती है। पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस विधायकों और नेताओं का पाला बदलने का सिलसिला जारी है। राज्य में विधानसभा चुनाव नजदीक हैं और ऐसे में विधायकों का पाला बदलना तृणमूल अध्यक्ष ममता बनर्जी की चिंताएं बढ़ा रहा है।

drishti haldwani

bjp Bangal

ममता की तानाशाही से तंग है पार्टी-विजयवर्गीय

भाजपा में शामिल हुए सभी पार्षदों और विधायक ने कैलाश विजयवर्गीय और मुकुल रॉय की मौजूदगी में शपथ ली। हाल ही में दार्जिलिंग नगर निगम के 30 में से 17 पार्षद भी शनिवार को भाजपा में शामिल हुए हैं। इससे लोकसभा चुनाव के बाद से पश्चिम बंगाल की तीन बार रही नगर निगम भी अब भाजपा द्वारा शासित होगी। कभी ममता बनर्जी के दाहिने हाथ रहे राज्यसभा सांसद मुकुल राय की उपस्थिति में इन पार्षदों ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। पीएम मोदी ने कहा था कि 40 विधायक हमारे संपर्क है कभी भी पार्टी में शामिल हो सकते है। इस बार भाजपा विधान सभा में मजबूत दिखाई दे रही है। कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि सब ममता की तानाशाही से तंग आकर भाजपा में शामिल हो रहे है।