iimt haldwani

नई दिल्ली- सेना की चेतावनी जो बंदूक उठायेगा ढेर हो जायेगा, भटके बेटों को संभाल ले कश्मीर की माताएं

253

नई दिल्ली- न्यूज टुडे नेटवर्क- पुलवामा हमले के बाद आज सेना ने पहली बार मीडिया से बात की। भारतीय सेना, सीआरपीएफ और जम्मू-कश्मीर पुलिस ने आज संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में भारतीय सेना के लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्लों ने कश्मीर में नौजवानों की मांओं से अपने बेटों को बंदूक का रास्ता छोडऩे की अपील की। उन्होंने कहा कि आवाम से सेना की अपील है कि वे एनकाउंटर क्षेत्र से दूर रहें। उन्होंने कहा कि 100 घंटे में जैश के आतंकियों को मार गिराया। उन्होंने कश्मीर के नौजवानों की मांओं से सेना की अपील कि अपने बेटों को समझाएं कि घर वापस लौट जाएं। जैश के बड़े आतंकियों की तलाश जारी, जो बंदूक उठाएगा उसे मार गिराएंगे। उन्होंने साफ कहा कि हम किसी भी नागरिक को नुकसान नहीं पहुंचाना चाहते।

amarpali haldwani

पाक और आईएसआई के इशारे पर हुआ हमला

उन्‍होंने सख्‍त संदेश देते हुए कहा कि कश्‍मीर में जो बंदूक उठाएगा, मारा जाएगा। उन्‍होंने कहा कि पाकिस्‍तान की सेना और आईएसआई के इशारे पर पुलवामा में हमला हुआ। सेना ने कहा कि पुलवामा हमले में पाकिस्तान और आईएसआई का हाथ होने से इंकार नहीं किया जा सकता है। ये हमला पाकिस्तान की सेना और आईएसआई के इशारे पर हुआ है इससे इंकार नहीं किया जा सकता है। क्योंकि पाकिस्तानी सेना और आईएसआई की जैश ए मोहम्मद को कंट्रोल कर रही है। इन आतंकियों को किसी भी कीमत पर छोड़ा नहीं जाएगा।