PMS Group Venture haldwani

नई दिल्ली- इस ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर को अदालत ने सुनाई 5 साल की सचा, महिला के साथ किया था ये घिनौना काम

नई दिल्ली- न्यूज टुडे नेटवर्क: एक ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर को इंग्लैंड की अदालत ने एक महिला के साथ बलात्कार का आरोपी माना और पांच साल की सज़ा सुनाई। इंग्लिश काउंटी क्रिकेट में वूस्टरशायर की तरफ से खेलने वाले ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर एलेक्स हेपबर्न को इंग्लैंड में रेप के आरोप में 5 साल की सजा सुनाई गई। 23 साल के इस खिलाड़ी पर 1 अप्रैल 2017 को यूके में एक महिला से रेप का आरोप लगा था। पिछले महीने कोर्ट में चले रीट्रायल में यह साबित हो गया कि हेपबर्न ने अपने साथी खिलाड़ी के बेडरूम में सो रही महिला के साथ जबरदस्ती यौन संबंध बनाए।

‘सेक्सुअल गेम’ से था प्रभावित

हेयरफोर्ड क्राउन कोर्ट मंगलवार को सुनवाई के बाद इस नतीजे पर पहुंचा कि हेपबर्न वॉट्सएप ग्रुप में चल रहे एक ‘सेक्सुअल गेम’ से प्रभावित थे। इस गेम में ग्रुप के सदस्यों को ज्यादा से ज्यादा महिलाओं के साथ संबंध बनाकर उसकी जानकारी ग्रुप में अपडेट करनी होती थी। पीड़िता ने कोर्ट को बताया था कि कमरे में अंधेरा था जिसकी वजह से उन्हें यह नहीं पता चला कि वह हेपबर्न के साथ हैं। उन्हें लगा था कि वह जो क्लार्क के साथ हैं जिनसे वह एक नाइट क्लब में मिली थीं। हेपबर्न के बालों को छूने के तरीके और ऑस्ट्रेलियाई एक्सेंट में बात करने से पता चला कि वह क्लार्क के साथ नहीं बल्कि हेपबर्न के साथ हैं।

व्हॉट्सएप गेम में ज्यादा स्कोर की कोशिश

अदालत में बचाव पक्ष के वकील ने दलील दी कि इस पूर्व ऑल राउंडर खिलाड़ी ने (अप्रैल 2017) अधिक से अधिक महिलाओं के साथ सोने की प्रतियोगिता की वजह से यह गलती की। रिपोर्ट के मुताबिक हेपबर्न ने अपने दोस्तों के साथ एक व्हॉट्सएप गेम में ज्यादा स्कोर करने की कोशिश में यह काम किया। हेयरफोर्ड क्राउन कोर्ट के जज जिम टिंडल ने इस पर टिप्पणी करते हुए कहा, ‘अपरिपक्व क्रिकेटर और उसके साथियों ने यह माना कि वे सभी ‘बेहूदा सेक्सिस्ट खेल’ को अंजाम दिया। इन्हें लगा कि ये खेल इनकी हीरोपंती को दर्शाएगा लेकिन इनके इस व्यवहार ने उन्हें यौन-उत्पीड़न का दोषी बना दिया।’ जज ने कहा, ‘इस बर्ताव ने महिला का अपमान किया है और दुष्कर्म ने उसे परेशान किया है। अभी तक आपने ऐसे बर्ताव को हलके में लिया, अब आपको पता चलेगा कि यह कितना गंभीर अपराध था।’

Coronavirus vaccine) वैज्ञानिकों ने ढूँढ निकाला कोरोना का सबसे सस्ता इलाज, 100 रुपए में ऐसे होगा कोरोना की जाँच