नई दिल्ली-रिजर्व बैंक ने घटाया रेपो रेट, तो कम होगी होम लोन की ईएमआई

Slider

नई दिल्ली-न्यूज टुडे नेटवर्क- रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की मौद्रिक नीति समीक्षा में ब्याज दरों में 25 बेसिस प्वाइंट की कमी की गई है। इसका फायदा होम लोन और करा लोन की ईएमआई देने वाले करोड़ों उपभोक्ताओं को मिलेगा। देश के केंद्रीय बैंक के इस फैसले से बैंकों पर लोन की ब्याज दरों में कमी करने का दबाव बढ़ेगा। इसलिए, आप उम्मीद कर सकते हैं कि अप्रैल, 2019 में जब बैंक अपनी नई दरों का निर्धारण करेंगे तो लोन की ब्याज दरों में भी कमी आएगी। अगर आपने होम लोन लिया है तो, कैसे रिजर्व बैंक का यह फैसला आपकी बचत को बढ़ाएगा। रिजर्व बैंक ने अगस्त, 2017 के बाद पहली बार ब्याज दरों में कटौती की है।

Slider

घटकर 6.25 प्रतिशत हुई रेपो रेट

गौरतलब है कि आरबीआई का रेपो रेट अभी 6.50 प्रतिशत है। जो घटकर 6.25 प्रतिशत के स्तर पर पहुंच गया है। पिछले तीन मॉनिटरी पॉलिसी में आरबीआई ने नीतिगत दर को अपरिवर्तित रखा था। इससे पहले केंद्रीय बैंक ने 1 अगस्त 2018 को रेपो रेट 0.25 फीसदी बढाकर 6.50 प्रतिशत कर दिया था। वही इस कटौती के बाद रिवर्स रेपो रेट 0.25 प्रतिशत घटकर 6.25 प्रतिशत से 6 प्रतिशत हो गया। कच्चे तेल की कीमत में स्थिरता और डॉलर के मुकाबले रुपये में स्थिरता के कारण महंगाई दर में कमी आने के कारण मौद्रिक नीति समीक्षा में नीतिगत दरों को घटाए जाने की उम्मीद थी।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें