नई दिल्‍ली-अब राहुल की शैक्षिक योग्यता पर उठे सवाल, जेटली बोले बिना एमए किये कैसे मिल गई एमफिल की डिग्री

55

नई दिल्‍ली-न्यूज टुडे नेटवर्क-शैक्षिक योग्यता को लेकर पहले स्मृति ईरानी सुर्खियों में रही। लोकसभा चुनाव के लिए केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने अमेठी से नामांकन दाखिल किया था। स्मृति ईरानी ने हलफनामे में अपनी शैक्षिक योग्यता 12वीं पास बताई थी। जिसके बाद ईरानी की डिग्री पर कांग्रेस द्वारा निशाना साधने के बाद अब वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की डिग्री पर सवाल खड़े कर दिए हैं। डिग्री पर सियासी दलों में खूब घमासान मचा है। अरुण जेटली ने सोशल मीडिया पर ब्लॉग के जरिये राहुल गांधी की पढ़ाई पर कटाक्ष करते हुए पूछा है कि कांग्रेस अध्यक्ष ने बिना मास्टर डिग्री (एमए) की पढ़ाई के एमफिल की डिग्री कैसे पूरी कर ली। जेटली ने कहा कि विपक्ष के पास कोई मुद्दा नहीं बचा है, इसलिए ऐसे प्रोपेगेंडा फैलाए जा रहे हैं।

डिग्री पर 2009 में भी हुआ था विवाद

जेटली ने फेसबुक पर अपने ब्लॉग में इंडियाज़ ओपोजिशन इज ऑन, रेंट, कॉज कैंपेनश् में लिखा है कि बीजेपी उम्मीदवारों स्मृति ईरानी की शैक्षणिक योग्यता पर सवाल उठाए जा रहे हैं, लेकिन राहुल गांधी की शैक्षणिक योग्यता को सब भुला दे रहे हैं। राहुल गांधी की शैक्षणिक योग्यता को लेकर कई सवाल हैं, जिनका जवाब नहीं मिला है। बेशक उन्होंने एमफिल की डिग्री बिना मास्टर डिग्री का कोर्स किए पूरी की है। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी की शैक्षणिक योग्यता को लेकर कई सवालों के जवाब अबतक नहीं मिले हैं। गौरतलब है कि राहुल गांधी की विदेश में ली गई डिग्री पर साल 2009 में भी विवाद हुआ था। राहुल ने लोकसभा चुनाव 2004 और 2009 में बताया था कि उन्होंने कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी के ट्रिनिटी कॉलेज से डेवलपमेंट इकोनॉमिक्स में एमफिल किया है।