PMS Group Venture haldwani

नई दिल्ली- (पुलवामा हमला) -अकाली दल और सिद्धू के बीच विधानसभा में गहमा-गहमी, जलाई सिद्धू की कई तस्वीरें

380

नई दिल्ली-न्यूज टुडे नेटवर्क-पुलवामा हमले के बाद जिस तरह नवजोत सिंह सिद्धू ने बयान दिया उसके बाद देशभर में माहौल गर्म है। आज विपक्षी शिरोमणि अकाली दल ने पुलवामा हमले के बाद दिए बयानों के चलते पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू को बर्खास्त करने की मांग की है। वहीं अकाली नेता बिक्रम सिंह मजीठिया और क्रिकेटर से राजनेता बने सिद्धू के बीच इस मुद्दे पर कहासुनी भी हुई। पंजाब विधानसभा के बजट सत्र की शुरुआत से पहले मजीठिया के नेतृत्व में अकाली दल के नेताओं ने उन तस्वीरों को जलाया जिनमें सिद्धू पाकिस्तान सेना प्रमुख से गले मिलते नजर आ रहे थे। सिद्धू गत वर्ष 18 अगस्त को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में शिरकत करने पाकिस्तान गए थे। पुलवामा हमले के बाद अपने बयान को लेकर पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू विवादों के घेरे में फंसे हुए हैं।

Shree Guru Ratn Kendra haldwani

पुलवामा हमले में बयान के बाद बढ़ा विवाद

उन्हें भारी आलोचना का सामना करना पड़ रहा है। सिद्धू के खिलाफ पंजाब की विधानसभा में जमकर नारेबाजी हुई। इस दौरान शिरोमणि अकाली दल के नेताओं ने सिद्धू के बयान पर उनसे सफाई मांगे जाने की मांग की। इस दौरान गर्मागर्मी काफी बढ़ गई और विधायक एक-दूसरे के सामने आ गए। पंजाब विधानसभा में हाईवोल्टेज ड्रामा देखने को मिला। सदन में मुख्यमंत्री पंजाब मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने पुलवामा आतंकी हमले को लेकर निंदा प्रस्ताव पारित किया। हालांकि, इस दौरान सदन में नवजोत सिंह सिद्धू के खिलाफ नारेबारी भी हुई।

सिद्धू को मंत्रिमंडल से बाहर करने की मांग

शिरोमणि अकाली दन के बीएस मजीठिया ने कहा कि कैबिनेट में एक आदमी है, जिन्होंने पाकिस्तान की प्रशंसा की। हम उनके खिलाफ सदन में प्रस्ताव पारित कराना चाहते थे। लेकिन हमें इजाजत नहीं दी गई। उन्होंने आगे कहा कि अगर हमें सदन में बोलने की इजाजत नहीं है तो फिर हम कहां बोलेंगे। पूर्व अकाली मंत्री ने कहा कि हम चाहते हैं कि सिद्धू को उनके बयानों के लिए मंत्रिमंडल से बाहर कर दिया जाए। प्रश्न काल शुरू होते ही शिअद-भाजपा के विधायकों ने सिद्धू के खिलाफ नारेबाजी करना शुरू कर दी। शिअद-भाजपा विधायकों ने काले बैज लगाए थे।