iimt haldwani

नई दिल्‍ली-मायावती का बड़ा बयान हमें अली और बजरंगबली दोनों चाहिए, योगी पर ऐसे साधा निशाना

80

नई दिल्‍ली-न्यूज टुडे नेटवर्क-जैसे दूसरे चरण के मतदान की तिथि नजदीक आ रही है वैसे-वैसे नेताओं के एक के बाद एक बड़े बयान सामने आ रहे है। लोकसभा चुनाव में बसपा प्रमुख मायावती ने बुलंदशहर में चुनावी रैली के दौरान कहा कि हमें अली और बजरंगबली दोनों चाहिए क्‍योंकि वह दलित समाज से हैं। हमारे अली भी है और बजरंगबली भी हैं। उन्‍होंने कहा कि ये जाति की पहचान भी मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने की है, हमने नहीं। मायावती ने कहा कि मैं चप्पल उतारकर ही मंच पर आती हूं, आरएसएस, पूंजीवादियों को जरूर सत्ता से बाहर भेजना है। चौकीदारी की ये नई नाटकबाजी इन्हें नहीं बचा पाएगी। कहा कि कोई आपकी जाती पूछे तो उसको जाति नहीं बतानी है। आप लोग बोल देना जाति का क्‍या लेना है। आप जाति बताने को अवॉइड करना। हवा हवाई घोषणा पत्रों के बहकावे में नहीं आना है।

drishti haldwani

खाना बाद में पहले वोट देना-मायावती

उन्‍होंने कहा कि सरकार आने पर पश्चिम यूपी का और बुलन्दशहर का विशेष ध्यान रखा जाएगा। क्योंकि यहां से मैने पहले उपचुनाव भी लड़ा है।् मुझे आप लोग अपनी पार्टी का नेता मानते हैं तो आप अपने घर में खाना बाद में खायेंगे। सुबह उठते ही अपने बूथों पर लाइन लगाकर वोट देना है। आपको वोट के लिए जाते समय आपको पुलिस प्रशासन के लोग उलझा सकते है। लड़ाई नही करनी है। मेरे लिए भी उल्टा सीधा बोल सकते हैं पर आपको कुछ नहीं बोलना है चुपचाप अपना वोट डालना है। बाकी इनको मैं देख लूंगी। नरेंद्र मोदी ईमानदार और गंभीर होते तो इन्हें चुनाव घोषित होने से पहले ही इन्हें पूरा करना चाहिए था। बल्कि इन्होंने धन्नासेठों को मालामाल किया और इनकी चौकीदारी में ही लगे रहे।