iimt haldwani

नई दिल्ली-महेन्द्र सिंह धौनी का होगा यह अंतिम विश्वकप, टीम इंडिया ऐसे देना चाहेगी विदाई

67

नई दिल्ली-न्यूज टुडे नेटवर्क- 30 मई से शुरू होने विश्वकप के लिए सभी टीमें तैयार है। विश्वकप के लिए भारतीय टीम भी दावेदारों में से एक है। माना जा रहा है कि यह विश्व कप विजेता पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धौनी का अंतिम वनडे विश्व कप होगा। माना जा रहा है कि धोनी विश्वकप में पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी करेंगे। जरूरत के हिसाब से उन्हें चौथे नंबर पर भी उतारा जा सकता है। टीम के सभी युवा क्रिकेटर उन्हें अपना आदर्श मानते है। खुद कप्तान विराट कोहनी धोनी के बिना अपने को मैदान में अधूरा महसूस करते है। ऐसे में भारतीय टीम चाहेगी कि इस विश्वकप को जीतकर वह महेन्द्र सिंह धौनी को यादगार विदाई दे। जिससे अपने पूर्व कप्तान का विश्व कप यादगार बनाया जा सकें। हालांकि माना जा विश्वकप के बाद वह खेलते रहेंगे। हो सकता है यह उनका आखिरी विश्वकप हो।

amarpali haldwani

Mahendra Singh Dhoni

नंबर चार के लिए फिट है धौनी

गौरतलब है कि महेन्द्र सिंह धौनी ने अपनी कप्तानी में 2007 में टी-20 विश्वकप, 2011 का वनडे विश्व कप, 2013 की चैंपियंस ट्रॉफी आइसीसी के इन तीनों ही टूर्नामेंटों में जो सबसे बड़ी समानता थी, वो थी धौनी की कप्तानी में भारत का खिताब जीतना। धौनी का यह चौथा वनडे विश्व कप होगा। उन्होंने 2007 का अपना पहला विश्व कप राहुल द्रविड़ की कप्तानी में खेला था। 2011 और 2015 के विश्व कप में वह कप्तान थे। इस बार वह कप्तान नहीं हैं और ऐसे में उनके पास अपने अंतिम विश्व कप का पूरा लुत्फ उठाने का मौका है। भारतीय टीम की सबसे बड़ी समस्या नंबर चार बल्लेबाज की है, लेकिन धौनी यहां भी कोहली के लिए फायदे का सौदा साबित हो सकते हैं। धौनी ने 30 पारियों में नंबर चार पर बल्लेबाजी की है और एक शतक व 12 अर्धशतक की मदद से 1358 रन बनाए हैं।