drishti haldwani

नई दिल्ली-गूगल ने डूडल बनाकर इस अंदाज में किया दिग्गज एक्टर अमरीश पुरी को याद, जानिये अमरीश पुरी की जिंदगी से जुड़े दिलचस्प किस्से

121

नई दिल्ली-आज अमरीश पुरी का जन्मदिन है। अमरीश पुरी का जन्म 22 जून 1932 को पंजाब राज्य के जालंधर में हुआ था। 1967 में उनकी पहली मराठी फिल्म शंततु! कोर्ट चालू आहे आई थी। बॉलीवुड में उन्होंने 1971 में रेशमा और शेरा से डेब्यू किया था। इन जयंती पर गूगल ने डूडल बनाकर उनको याद किया है। बता दें कि अमरीश पुरी भारतीय सिनेमा के सबसे प्रतिभाशाली अभिनेताओं में से एक थे। अमरीश पुरी एक्टर सिंगर केएल सहगल के कजिन थे। अमरीश पुरी अपने पहले स्क्रीन टेस्ट में फेल हो गए थे और उन्हें एम्प्लॉइज स्टेट इंश्योरेंस कॉर्पोरेशन मिनिस्ट्री ऑफ लेबर ऐंड एंप्लॉयमेंट में नौकरी करने लगे। नौकरी के साथ ही पृथ्वी थिएटर में नाटक करने शुरू कर दिए थे। वे रंगमंच की दुनिया का दिग्गज नाम बन गए और उन्हें 1979 में संगीत नाटक एकेडमी के पुरस्कार से भी नवाजा गया। इसके बाद रंगमंच की इस पहचान ने उन्हें पहले टीवी की दुनिया और फिर सिनेमा जगत में आगे बढऩे का मौका दिया। लगभग 40 साल की उम्र में उनका फिल्मी करियर परवान चढ़ सका।

iimt haldwani

लोगों को पसंद था उनका निगेटिव रोल

अमरीश पुरी का निगेटिव किरदार दर्शकों को भी बहुत भाता था। फिल्म मिस्टर इंडिया, शहंशाह, करण-अर्जुन, कोयला, दिलजले, विश्वात्मा, राम-लखन, तहलका, गदर, नायक, दामिनी जैसी फिल्मों में वह निगेटिव किरदार में थे, लेकिन इन फिल्मों को सुपरहिट बनाने में अमरीश पुरी का बड़ा योगदान रहा था। 12 जनवरी 2005 को अमरीश पुरी ने इस दुनिया को छोड़ कर चले गए थे। भले ही वह आज हमारे बीच ना हों लेकिन उनके किरदारए, डायलॉग्स आज भी लोगों की पसंद हैं। अमरीश पुरी को 1980 की सुपरहिट फिल्म हम पांच से पहचान मिली जिसमें उन्हें विलेन का रोल निभाया था।