नई दिल्ली- फ्रांस ने लिया बड़ा फैसला, मसूद अजहर की संपत्ति जब्त करेगा फ्रांस

46

नई दिल्ली-न्यूज टुडे नेटवर्क- मास्टर माइंड मसूद अजहर अब एक बड़े शिकंजे में फंस गया है। भारत की ओर से वैश्विक स्तर पर आतंकवाद के खिलाफ मुहिम मे फ्रांस ने बड़ा फैसला लिया है। बताया जा रहा है कि फ्रांस सरकार ने जैश-ए-मुहम्मद प्रमुख मसूद अजहर की फ्रांस में मौजूद सारी संपत्ति जब्त करने के आदेश दिए हैं। फ्रांस के आंतरिक, विदेश और वाणिज्य मंत्रालय ने साझा प्रेस रिलीज जारी कर इस बात की जानकारी दी है। फ्रांस ने कहा है कि वो आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में हमेशा से भारत के साथ है और भविष्य में भी भारत के साथ खड़ा रहेगा।

चीन ने चौथी बार डाला अड़ंगा

गौरतलब है कि विगत 14 फरवरी को पुलवामा में पाकिस्तानी आतंकी संगठन जैश-ए-मुहम्मद के हमले में 40 भारतीय जवानों के शहीद होने के बाद भारत और अमेरिकी संबंधों में बोल्टन और अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोंपियो भारत के बड़े समर्थक बनकर उभरे हैं। वही इससे पहले जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को ग्लोबल टेररिस्ट घोषित किए जाने पर चौथी बार चीन ने अड़ंगा लगाया था। इससे नाराज संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के सदस्यों ने चेतावनी दी कि यदि चीन अपनी इस नीति पर अड़ा रहा तो जिम्मेदार सदस्य परिषद में अन्य कदम उठाने पर मजबूर हो सकते हैं।

आतंकवाद के खिलाफ हम भारत केसाथ- फ्रांस

सुरक्षा परिषद के एक दूत ने चीन को असामान्य कड़ी चेतावनी देते हुए कहा कि यदि चीन इस कार्य में बाधा पैदा करना जारी रखता है, तो जिम्मेदार सदस्य देश सुरक्षा परिषद में अन्य कदम उठाने पर मजबूर हो सकते हैं। ऐसी स्थिति उत्पन्न नहीं होनी चाहिए। दूत ने अपनी पहचान गोपनीय रखने की शर्त पर यह कहा। सुरक्षा परिषद में एक अन्य दूत ने एक प्रश्न के उत्तर में कहा कि चीन ने चौथी बार सूची में अजहर को शामिल किए जाने के कदम को बाधित किया है। चीन को समिति को अपना वह काम करने से रोकना नहीं चाहिए, जो सुरक्षा परिषद ने उसे सौंपा है।