inspace haldwani
inspace haldwani
Home उत्तराखंड नई दिल्ली-पूर्व सीएम एनडी तिवारी के समर्थकों के लिए बड़ी खबर, मां...

नई दिल्ली-पूर्व सीएम एनडी तिवारी के समर्थकों के लिए बड़ी खबर, मां उज्जवला ने खोले रोहित की मौत के कई राज

हल्द्वानी- इस दिन से एसटीएच शुरू करने जा रहा मरीजों के लिए ये सुविधा, ऐसे पहुंचेगा लाभ

कुमाऊं के सबसे बड़े राजकीय सुशीला तिवारी अस्पताल में एक दिसंबर यानि कल से सभी प्रकार की ओपीडी शुरू हो जाएगी, अब तक सुशीला...

रुद्रपुर: किसानों के आंदोलन पर यह बड़ी बात कही पूर्व मंत्री बेहड़ ने

रुद्रपुर। पूर्व स्वास्थ्य मंत्री व वरिष्ठ कांग्रेसी नेता तिलक राज बेहड़ ने एक बयान में कहा कि काले कृषि कानूनों के खिलाफ देश में...

देहरादून- उत्तराखंड के हालातों पर ये बोले पूर्व सीएम हरीश रावत, अपने ही घर में इसलिए दिया धरना

पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने धान के भुगतान के मसले पर राजधानी देहरादून में अपने आवास पर सांकेतिक उपवास किया। उन्होंने कोरोना के बढ़ते...

बिहार के भोजपुर में रोक के बावजूद हर्ष फायरिंग, दुल्हन के भाई को लगी गोली

न्यूज टुडे नेटवर्क। हर्ष फायरिंग पर सरकार ने रोक लगाई हुई है। बावजूद इसके शादीसमारोह आदि में हर्ष फायरिंग के मामलों में कमी नहीं...

रुद्रपुर: कार की टक्कर से जख्मी को लेकर अस्पताल दर अस्पताल घूमते रहे परिजन, अंत में मचा कोहराम

रुद्रपुर। कार की टक्कर लगने से घायल बाइक सवार को परिजन अस्पताल दर अस्पताल भटकते रहे। अंतत: बाइक सवार ने दम तोड़ दिया। महानगर के...

नई दिल्ली-न्यूज टुडे नेटवर्क-पूर्व सीएम स्व. नारायण दत्त तिवारी के बेटे रोहित शेखर की मौत जांच में एक के बाद एक परत खुल रही है। नये खुलासे के अनुसार रोहित शेखर के पास दो मोबाइल नंबर थे। दोनों की कॉल डिटेल्स के अनुसार शेखर का एक फोन 15 तारीख को शाम 6 बजकर 30 मिनट पर बंद हो गया था और दूसरा फोन 15 तारीख के रात 9 बजकर 30 मिनट के आसपास बंद हुआ हालांकि इसका कारण डिफेंस कालोनी में नेटवर्क न होना भी हो सकता है। वही अगले रोज सुबह एक नंबर पर 11 बजे यानी 16 अप्रैल को एक कंपनी का मैसेज आया जो मोबाइल कंपनी का होता है। यहा फिर कहानी नया मोड़ ले रही है रात 3 बजे से 4 बजे के आसपास शेखर के नंबर से किसी को फोन करने की कोशिश की है लेकिन वो फोन लगा नहीं, यह बात भी सामने आ रही है।

रोहित के पास दो नंबर थे मौजूद

अपूर्वा का मोबाइल भी 15 अप्रैल की शाम करीब 7 बजकर 30 मिनट पर बंद हो गया था। इसका कारण डिफेंस कालोनी इलाके में नेटवर्क न होना भी हो सकता है। इसके बाद अगले दिन 16 अप्रैल सुबह 10 बजकर 30 मिनट पर फोन ऑन हुआ। सुबह एक फोन अपूर्वा ने दिल्ली से बाहर किया। जिस पर क्राइम ब्रांच जांच में जुटी है। एक के बाद एक ख्ुालासों से पूरा देश रोहित की मौत का सच जानना चाहता है। अभी भी शक की सुई अपूर्वा के इर्द-गिर्द घूमी रही है। जांच में पता चला है कि राजीव और उसकी पत्नी कुमकुम भी शेखर के साथ उत्तराखण्ड गए थे। जिसको लेकर अपूर्वा खफा थी। उस घर से झगड़े की दो बार पीसीआर कॉल हुई है।

राजीव के बेटे को देना चाहते थे प्रॉपटी- उज्जवला

उज्जवला का कहना है कि अपूर्वा और उसके परिवार की नजर हमारी प्रॉपर्टी पर थी। जबकि अपूर्वा का कहना कि रोहित का उसके कजन की वाइफ के साथ गलत रिश्ते थे। उज्जवला का कहना है कि ये बात बिल्कुल गलत है। राजीव एनडी तिवारी के ओएसडी रहे हैं और हमारे रिश्तेदार भी। पिछले 20 साल से हमारी सेवा कर रहे थे। उनकी पत्नी भी बहुत सेवा करती थी। उनके साथ मेरे बेटे के कोई गलत रिश्ते नहीं थे। राजीव और उसकी पत्नी मेरे साथ तिलक लेन के घर रहते है। उज्जवला ने कहा कि मेरा बड़ा बेटा सिद्धार्थ अपनी प्रॉपर्टी बाद में राजीव के बेटे को देना चाहता था। इस बात पर भी अपूर्वा को आपत्ति थी। वो चाहती थी कि सारी प्रॉपर्टी उसकी हो। अपूर्वा का परिवार बहुत तंग करता था, रोहित और अपूर्वा की मुलाकात मैट्रिमोनियल साइट के जरिये हुई। उसके बाद इन्होंने शादी करने का फैसला किया था।

Related News

हल्द्वानी- इस दिन से एसटीएच शुरू करने जा रहा मरीजों के लिए ये सुविधा, ऐसे पहुंचेगा लाभ

कुमाऊं के सबसे बड़े राजकीय सुशीला तिवारी अस्पताल में एक दिसंबर यानि कल से सभी प्रकार की ओपीडी शुरू हो जाएगी, अब तक सुशीला...

रुद्रपुर: किसानों के आंदोलन पर यह बड़ी बात कही पूर्व मंत्री बेहड़ ने

रुद्रपुर। पूर्व स्वास्थ्य मंत्री व वरिष्ठ कांग्रेसी नेता तिलक राज बेहड़ ने एक बयान में कहा कि काले कृषि कानूनों के खिलाफ देश में...

देहरादून- उत्तराखंड के हालातों पर ये बोले पूर्व सीएम हरीश रावत, अपने ही घर में इसलिए दिया धरना

पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने धान के भुगतान के मसले पर राजधानी देहरादून में अपने आवास पर सांकेतिक उपवास किया। उन्होंने कोरोना के बढ़ते...

बिहार के भोजपुर में रोक के बावजूद हर्ष फायरिंग, दुल्हन के भाई को लगी गोली

न्यूज टुडे नेटवर्क। हर्ष फायरिंग पर सरकार ने रोक लगाई हुई है। बावजूद इसके शादीसमारोह आदि में हर्ष फायरिंग के मामलों में कमी नहीं...

रुद्रपुर: कार की टक्कर से जख्मी को लेकर अस्पताल दर अस्पताल घूमते रहे परिजन, अंत में मचा कोहराम

रुद्रपुर। कार की टक्कर लगने से घायल बाइक सवार को परिजन अस्पताल दर अस्पताल भटकते रहे। अंतत: बाइक सवार ने दम तोड़ दिया। महानगर के...

कालाढूंगी- यहां इतनी सी बात में किसान ने उठाया से खौफनाक कदम, पलभर में यूं चूर हुई परिवार की खुशियां

देश में किसान बिल को लेकर एक ओर जहां किसानों का हल्लाबोल है। इसी बीच कालाढूंगी से एक किसान की मौत भी खबर ने...