inspace haldwani
inspace haldwani
Home देश नई दिल्ली-बजट 2019-20 में गरीब और किसानों मोदी सरकार का बड़ा तोहफा,...

नई दिल्ली-बजट 2019-20 में गरीब और किसानों मोदी सरकार का बड़ा तोहफा, ऐसे खिल उठे किसानों के चेहरे

काशी: क्रूज पर सवार होकर बाबा विश्वनाथ के दर्शनों कों पहुंचे पीएम मोदी

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। वाराणसी में बाबा काशी विश्‍वनाथ के दर्शन करने पीएम मोदी क्रूज से पहुंचे हैं। मोदी आज सोमवार दोपहर काशी पहुंचे। शाम...

काशी में बोले पीएम मोदी- कृषि कानूनों पर किसानों को भ्रम में डाला जा रहा है

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। किसानों के आंदोलन के बीच प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा है कि कृषि कानूनों को लेकर किसानों के बीच भ्रम फैलाया...

वाराणसी: भव्य दीपदान महोत्सव की तैयारियां पूरी, पीएम मोदी बनारस पहुंचे

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। देव दीपावली के भव्‍य दीपदान उत्‍सव का दीदार करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी वाराणसी पहुंच गए हैं। देव दीपावली उत्‍सव...

बिहार के भोजपुर में रोक के बावजूद हर्ष फायरिंग, दुल्हन के भाई को लगी गोली

न्यूज टुडे नेटवर्क। हर्ष फायरिंग पर सरकार ने रोक लगाई हुई है। बावजूद इसके शादीसमारोह आदि में हर्ष फायरिंग के मामलों में कमी नहीं...

राजनाथ आज करेंगे अपने संसदीय क्षेत्र का दौरा, लखनऊ पहुंचे, मंत्रियों, विधायकों ने किया रिसीव

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। रक्षामंत्री राजनाथ सिहं आज अपने संसदीय क्षेत्र का एक दिनी दौरा करेंगे। दौरे के लिए अभी कुछ देर पहले ही रक्षामंत्री...

नई दिल्ली-किसानों की उम्मीदों पर मोदी सरकार का बजट खरा उतरा है। अपने भाषण में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि गांव, गरीब और किसानों को कई तोहफे दिए। उन्होंने साफ कहा कि असल भारत, गांव में ही बसता है। उन्होंने किसानों और गरीबों के लिए इस बजट में कई बड़ी बातें कहीं।

इससे पहले 1970 में इंदिरा गांधी ने देश का पहला यूनियन बजट पेश किया था लेकिन वह वित्त मंत्री के साथ ही प्रधानमंत्री भी थीं। निर्मला सीतारमण ने दूसरे सेक्टर्स के साथ ही इस बजट में गांव, गरीब और किसानों का भी विशेष ध्यान रखा और उनके लिए कई तरह की घोषणाएं की।

sitaraman, Budget2019-20

जीरो बजट खेती पर जोर

वित्त मंत्री ने कहा कि जीरो बजट खेती पर जोर दिया जाएगा। खेती के बुनियादी तरीकों पर लौटना इसका उद्देश्य है। इसी से किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य पूरा होगा। खाद्यानों, दलहनों, तिलहनों, फलों और सब्जियों की स्व-पर्याप्तता और निर्यात पर विशेष रूप से जोर दिया गया। बजट देख किसानों के चेहरे खिल उठे। वित्त मंत्री ने कहा कि साल 2022 तक 10 हजार नए किसान उत्पादक संगठन बनाए जाएंगे। मछुआरों की आजीविका को सुधारने के लिए प्रधानमंत्री मतस्य संपदा योजना के तहत मत्स्यिकी ढांचे की स्थापना होगी। वित्त वर्ष 2019-20 के दौरान 100 नए बांस, शहद और खादी कलस्टर की स्थापना होगी।

Related News

काशी: क्रूज पर सवार होकर बाबा विश्वनाथ के दर्शनों कों पहुंचे पीएम मोदी

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। वाराणसी में बाबा काशी विश्‍वनाथ के दर्शन करने पीएम मोदी क्रूज से पहुंचे हैं। मोदी आज सोमवार दोपहर काशी पहुंचे। शाम...

काशी में बोले पीएम मोदी- कृषि कानूनों पर किसानों को भ्रम में डाला जा रहा है

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। किसानों के आंदोलन के बीच प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा है कि कृषि कानूनों को लेकर किसानों के बीच भ्रम फैलाया...

वाराणसी: भव्य दीपदान महोत्सव की तैयारियां पूरी, पीएम मोदी बनारस पहुंचे

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। देव दीपावली के भव्‍य दीपदान उत्‍सव का दीदार करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी वाराणसी पहुंच गए हैं। देव दीपावली उत्‍सव...

बिहार के भोजपुर में रोक के बावजूद हर्ष फायरिंग, दुल्हन के भाई को लगी गोली

न्यूज टुडे नेटवर्क। हर्ष फायरिंग पर सरकार ने रोक लगाई हुई है। बावजूद इसके शादीसमारोह आदि में हर्ष फायरिंग के मामलों में कमी नहीं...

राजनाथ आज करेंगे अपने संसदीय क्षेत्र का दौरा, लखनऊ पहुंचे, मंत्रियों, विधायकों ने किया रिसीव

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। रक्षामंत्री राजनाथ सिहं आज अपने संसदीय क्षेत्र का एक दिनी दौरा करेंगे। दौरे के लिए अभी कुछ देर पहले ही रक्षामंत्री...

कोरोना संकट:जम्मू कश्मीेर में अभी 31 दिसंबर तक शैक्षिक संस्‍थान बंद रखने का आदेश

न्यूज टुडे नेटवर्क। जम्‍मू कश्‍मीर में अभी 31 दिसंबर तक  सभी शैक्षणिक संस्थान बंद रखने का आदेश जारी किया है। शासन की ओर से...