Uttarakhand Government
Uttarakhand Government
Home उत्तरप्रदेश नैनीताल-यूपीएससी भर्ती को लगा झटका, हाईकोर्ट ने निरस्त की इन पदों पर...

नैनीताल-यूपीएससी भर्ती को लगा झटका, हाईकोर्ट ने निरस्त की इन पदों पर नियुक्ति

एनसीबी ने दीपिका, श्रद्धा, सारा समेत इन लोगों के मोबाइल फोन किए जब्त, खंगाली जाएगी ड्रग्स चैट

सुशांत सिंह राजपूत केस (Sushant Singh Rajput Case) से जुड़े ड्रग्स मामले में एनसीबी (NCB) ने शनिवार को दीपिका पादुकोण, सारा अली खान और...

‘मन की बात’ कार्यक्रम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कर रहे हैं देश को संबोधित, जानिए प्रधानमंत्री ने क्या-क्या कहा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) आज यानी रविवार को अपना 69वां मासिक रेडियो प्रोग्राम 'मन की बात' (Maan Ki Baat) करेंगे। प्रधानमंत्री का...

अयोध्या में दीप महोत्सव को लेकर योगी सरकार कर रही है जोरों से तैयारी, इस बार ऐसे मनाया जाएगा दीप महोत्सव

कोरोना संक्रमण (Corona Infection) के चलते दीपोत्सव (Deepotsav) को लेकर दिक्कतें सामने आ रही हैं। अधिकतम दीप प्रज्वलन की वर्चुअल प्रतियोगिता (Virtual Competition) l...

बरेली की राजनीति के पुरोधा राजेश अग्रवाल को दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी के संगठन में मिली अहम् जिम्मेदारी

बात अगर बरेली की राजनीती की हो और राजेश अग्रवाल का नाम न आये ऐसा तो हो ही नहीं सकता , रुहेलखंड में भाजपा...

Mathura: श्रीराम जन्म भूमि के बाद श्रीकृष्ण जन्मभूमि का मामला पहुंचा कोर्ट

अयोध्या में श्रीराम लला के मंदिर (Ram Mandir) का निर्माण शुरू हुई हो पाया था कि अब मथुरा में श्री कृष्ण जन्म भूमि (Shri...

UPSC Jobs- नैनीताल हाईकोर्ट ने प्रदेश के महाविद्यालयों में सहायक प्राध्यापक चित्रकला के चार पदों पर की गई चयन प्रक्रिया को नियम विरुद्ध बताते हुए उसे निरस्त कर दिया है। मुख्य न्यायाधीश रमेश रंगनाथन एवं न्यायमूर्ति आलोक कुमार वर्मा की खंडपीठ के समक्ष मामले की सुनवाई हुई। चमोली निवासी मधु बहुगुणा ने हाईकोर्ट में याचिका दायर कर कहा था कि उत्तराखंड लोक सेवा आयोग की ओर से प्रदेश के महाविद्यालयों में सहायक प्राध्यापक चित्रकला के चार पदों के लिए 4 अगस्त 2017 में विज्ञप्ति निकाली गई थी। याचिकाकर्ता ने भी आवेदन किया था। साक्षात्कार के बाद 4 जनवरी 2019 को आयोग ने उत्तीर्ण अभ्यर्थियों की लिस्ट जारी की। याची ने उक्त नियुक्ति प्रक्रिया को हाईकोर्ट में चुनौती दी थी।

high court decision on panchayat elevtion 2019

याचिकाकर्ता का कहना था कि आयोग ने उसकी शैक्षिक योग्यता व शैक्षिक अनुभव को दरकिनार कर उससे कम योग्यता व शैक्षिक अनुभव वाले को उक्त पद पर विधि विरुद्ध प्रक्रिया अपनाते हुए चयनित किया है। जिसके बाद उसने चयन प्रक्रिया को निरस्त करने की मांग की थी। याची के अधिवक्ता सीडी बहुगुणा ने तर्क दिया कि आयोग के साक्षात्कार बोर्ड में चार सदस्य शामिल थे, जिनमें शामिल एक सदस्य के अंडर में चयनित अभ्यर्थी पीएचडी कर रही है। इस सदस्य के माध्यम से ही चयन प्रक्रिया को प्रभावित किया गया। साथ ही यह भी कहा गया कि सहायक प्राध्यापक के पद पर चयन के लिए आयोग ने 100 फीसदी अंक साक्षात्कार के रखे थे, जो कि सुप्रीम कोर्ट के सर्वमान्य सिद्धांत की अवहेलना है। अधिवक्ता के मुताबिक मामले में फरवरी 2019 में स्टे मिल गया था। पक्षों की सुनवाई के बाद हाईकोर्ट की खंडपीठ ने आयोग की चयन प्रक्रिया को निरस्त कर दिया है।

Uttarakhand Government

Related News

एनसीबी ने दीपिका, श्रद्धा, सारा समेत इन लोगों के मोबाइल फोन किए जब्त, खंगाली जाएगी ड्रग्स चैट

सुशांत सिंह राजपूत केस (Sushant Singh Rajput Case) से जुड़े ड्रग्स मामले में एनसीबी (NCB) ने शनिवार को दीपिका पादुकोण, सारा अली खान और...

‘मन की बात’ कार्यक्रम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कर रहे हैं देश को संबोधित, जानिए प्रधानमंत्री ने क्या-क्या कहा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) आज यानी रविवार को अपना 69वां मासिक रेडियो प्रोग्राम 'मन की बात' (Maan Ki Baat) करेंगे। प्रधानमंत्री का...

अयोध्या में दीप महोत्सव को लेकर योगी सरकार कर रही है जोरों से तैयारी, इस बार ऐसे मनाया जाएगा दीप महोत्सव

कोरोना संक्रमण (Corona Infection) के चलते दीपोत्सव (Deepotsav) को लेकर दिक्कतें सामने आ रही हैं। अधिकतम दीप प्रज्वलन की वर्चुअल प्रतियोगिता (Virtual Competition) l...

बरेली की राजनीति के पुरोधा राजेश अग्रवाल को दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी के संगठन में मिली अहम् जिम्मेदारी

बात अगर बरेली की राजनीती की हो और राजेश अग्रवाल का नाम न आये ऐसा तो हो ही नहीं सकता , रुहेलखंड में भाजपा...

Mathura: श्रीराम जन्म भूमि के बाद श्रीकृष्ण जन्मभूमि का मामला पहुंचा कोर्ट

अयोध्या में श्रीराम लला के मंदिर (Ram Mandir) का निर्माण शुरू हुई हो पाया था कि अब मथुरा में श्री कृष्ण जन्म भूमि (Shri...

Bareilly: कोरोना के रोकथाम के लिए नवनीत सहगल बनाएंगे रणनीति, लिए जाएंगे यह कदम

बरेली में कोरोना वायरस (Corona virus) धीरे धीरे बढ़ता जा रहा है। अब इसकी रोकथाम के लिए सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम और ग्रामोद्योग...