iimt haldwani

नैनीताल- दूसरी शादी रचा रहा था पीएसी का हेड कांस्टेबल, पहली बीवी की धमाकेदार इंट्री से ऐसे पहुंचा अस्पताल

1212

नैनीताल-न्यूज टुडे नेटवर्क- पीएससी के हेड कांस्टेबल का दूसरी शादी के दूसरी शादी करना महंगा पड़ गया। शादी के ऐन वक्त पर पहली दुल्हन ने फिल्मी स्टाइल में इंट्री कर दी फिर जो हुआ उसके गवाह सारे बाराती और घराती बन गये। गुस्से से आग बबूला हुई पहली दुल्हन ने मंडप में लात मार दी तो मंडप टूट गया। जिसे बाद विवाह समारोह में अफरा-तफरी का माहौल बन गया। पहली दुल्हन ने मंडल की सारी सामग्री फेंक दी। जिसे बाद नई दुल्हन पक्ष ने शादी के इनकार कर लिया। जिसके बाद दोनों पक्षों में विवाद हो गया। इसकी सूचना किसी ने पुलिस को दे तो बारात के बीच पुलिस की भी इंट्री हो गई। जब पुलिस दूल्हे को कोतवाली ले जाने लगी तो लोग का गुस्सा फूट पड़ा। उन्होंने दूल्हे की जमकर धुनाई कर दी। जिसके बाद दूल्हे को बेहोशी की हालत में बीडी पांडेय अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहंा से उसे हल्द्वानी को रेफर कर दिया गया।

amarpali haldwani

फिल्मी अंदाज में पहुंची युवती

पीएसी में हेड कांस्टेबल के पद पर तैनात दूल्हा यहां राजभवन सुरक्षा में संबद्ध है। शनिवार को उसकी बारात नैनीताल पहुंची। इस माक्े पर घरातियों ने बारात का जोरदार स्वागत किया। इसके बाद चली रस्मों में जयमाला हो गई थी। जैसे ही फेरे की रस्मे शुरू हो रही थी तो अचानक एक युवती ने समारोह में हंगामा काट दिया। युवती ने मंडप का सारा सामान तोड़ लिया और विवाह की सामग्री फेंक दी। युवती ने कहा कि वह दूल्हा बने हेड कांस्टेबल की पत्नी है। एक माह पूर्व ही उनकी कोर्ट मैरिज हुई है। जिसकी बात सुनकर लोग दंग रह गये। दुल्हन पक्ष ने तत्काल शादी से इनकार कर दिया। इसके बाद दोनों पक्षों में विवाद शुरू हो गया। सूचना पर लगभग 2 बजे पुलिस भी मौके पर पहुंच गई।

 

20 लाख में माना कन्या पक्ष

इस दौरान विवाद बढ़ गया और आक्रोशित लोग दू्ल्हे और बारातियों के साथ मारपीट और अभद्रता करने लगे। इस दौरान पुलिस दूल्हे को कोतवाली ले जाने लगी तो भीड़ ने दूल्हे को धुन दिया। मारपीट में दूल्हा बेहोश हो गया। बेहोशी की हालत में लाए दूल्हे का उपचार डॉक्टर ने किया। गुम चोटों को देखते हुए दूल्हे को हल्द्वानी रेफर कर दिया गया। इसके बाद वर पक्ष ने कन्या पक्ष से समझौते की बात की लेकिन कन्या पक्ष नहीं माना। इस बीच भारी पुलिस बल के बीच वार्ता हुई तो दूल्हे और दुल्हन पक्ष में समझौते के लिए बातचीत हुई। कोतवाली में दोनों परिवारों के बीच क्षेत्रवासियों की मौजूदगी में समझौता नामा हुआ। इसमें दूल्हा पक्ष ने दुल्हन पक्ष को 2 लाख रुपये नगद देने के साथ ही अलग-अलग बैंकों के 18 लाख रुपये के चेक दिए, जिनका भुगतान सोमवार को बैंक खुलने पर होना है। इस पर दोनों पक्षों में समझौता हो गया।

पहली बीवी थी तलाकशुदा

विवाह समारोह में पहुंची महिला ने पुलिस को बताया कि वह पूर्व से शादीशुदा है, उसका छह साल का बच्चा भी है। शादी के बाद से ही उसका हेड कांस्टेबल से प्रेम प्रसंग था। 30 मार्च 2014 से दोनों साथ रह रहे हैं। एक महीने पहले तीन लाख रुपये का भुगतान कर पहले पति ने उसे वैधानिक तलाक दिया। इसके बाद उसने और हेड कांस्टेबल ने कोर्ट मैरिज की। महिला ने कोर्ट मैरिज का सर्टिफिकेट भी कन्या पक्ष के साथ ही विवाह समारोह में मौजूद लोगों और पुलिस अधिकारियों को दिखाया। कहा कि कुछ माह पूर्व ही हम दोनों ने रुद्रपुर में फ्लैट खरीदा है। दीपावली और करवाचौथ साथ मनाया।