मुजफ्फरनगर-कांग्रेस की बिरयानी पार्टी में मचा बवाल, चले लाठी-डंडे, प्रत्याशी समेत 25 लोगों पर हुई ये बड़ी कार्रवाई

78

मुजफ्फरनगर-न्यूज टुडे नेटवर्क-लोकसभा चुनाव का रंग देश भर चढ़ा हुआ है। ऐसे में सभी दल एक के बाद एक जनसभाओं को संबोधित कर रहे है। लेकिन अगर पार्टी के समर्थकों मेें ही गहमा-गहमी हो जाय तो स्थिति सुधरने के बजाय बिगड़ जाती है। ऐसा वाक्या कल मुजफ्फरनगर में हो गया। बिजनौर से कांग्रेस के लोकसभा प्रत्याशी तथा बसपा सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे नसीमुद्दीन सिद्दीकी की सभा के बाद माहौल खराब हो गया। नसीमुद्दीन सिद्दीकी की सभा के बाद पूर्व विधायक के आवास पर आयोजित एक बिरयानी पार्टी में बवाल हो गया। कार्यकर्ताओं के दो गुटों में संघर्ष इतना बढ़ गया कि दोनों तरफ से लाठी-डंडे चलने लगे। इस दौरान पुलिस ने आठ लोगों को हिरासत में लेकर पूर्व विधायक समेत 25 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। जिसके बाद मामला दिनभर चर्चाओं में रहा।

बिरयानी को लेकर हुई कहासुनी

बिजनौर लोकसभा क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी नसीमुद्दीन सिद्दीकी की सभा के बाद पूर्व विधायक के आवास पर आयोजित बिरयानी पार्टी में आपाधापी मच गई। इस दौरान कहासुनी में कार्यकर्ताओं के दो गुटों में संघर्ष हो गया। दोनों ओर से जमकर लाठी-डंडे चले। बवाल की सूचना पर पहुंची पुलिस ने लाठी चार्ज के बाद स्थिति को नियंत्रित किया। पुलिस ने आठ लोगों को हिरासत में लेकर पूर्व विधायक समेत 25 लोगों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया है। तनाव को देखते हुए गांव में पंजाब पुलिस को भी तैनात किया गया है। बताया जा रहा है कि सभा में मदरसे के छात्रों के अलावा विभिन्न गांवों से लोग आए थे।

 

मारपीट में पांच लोग घायल

बिरयानी के वितरण में भी काफी आपाधापी मच गई। कार्यकर्ता इधर-उधर प्लेटें फेंकने लगे। इसको लेकर कुछ युवकों में कहासुनी हुई और देखते ही देखते लाठी-डंडे चलने लगे तो भगदड़ मच गई। इस दौरान मारपीट में पांच लोग घायल हो गए। पुलिस ने लाठियां फटकारकर भीड़ को नियंत्रित किया। पंजाब पुलिस के जवानों ने भी लोगों को दौड़ाया। पुलिस कई लोगों को हिरासत में थाने ले आई। कांग्रेस प्रत्याशी नसीमुद्दीन सिद्दीकी, पूर्व विधायक मौलाना जमील अहमद कासमी समेत 25-30 लोगों के विरुद्ध आचार संहिता का उल्लंघन करने और मतदाताओं को प्रलोभन देकर मतदान प्रभावित करने का मुकदमा दर्ज किया गया है।