inspace haldwani
inspace haldwani
Home उत्तरप्रदेश MJPRU Mobile App: रुहेलखंड विश्वविद्यालय के मोबाइल ऐप से कर सकेंगे ये...

MJPRU Mobile App: रुहेलखंड विश्वविद्यालय के मोबाइल ऐप से कर सकेंगे ये काम

बरेली: डॉक्टर के घर से ज्वैलरी और नगदी लेकर नौकरानी फरार

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। बरेली के बारादरी इलाके से एक डॉक्टर के घर से नौकरानी ज्वेलरी व नकदी लेकर फरार हो गई। डॉक्टर ने दिल्ली...

बरेली: गैस रिफलिंग के दौरान ईको कार बनी आग का गोला

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। बरेली के नवाबगंज में ईको गाड़ी में गैस सिलेण्डर से गैस भरते समय गाड़ी ने एकाएक आग पकड़ ली। आग लगने...

यूपी: हाइवे पर घने कोहरे में भिड़े दो ट्रक, चालक घायल

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के पीलीभीत में पूरनपूर आसाम हाइवे पर घने कोहरे में दो ट्रकों की भिड़ंत हो गई। हादसे के बाद ट्रक...

सीतापुर: सांसद राजेश वर्मा ने भाजपा स्नातक प्रत्याशी ई० अवनीश कुमार सिंह के लिए किया जनसम्‍पर्क

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। सीतापुर जिले के तंबौर मतदान केंद्र पर केपीएस डिग्री कॉलेज में आयोजित मतदाता सम्मेलन में मुख्य अतिथि सीतापुर सांसद एवं प्रदेशअध्यक्ष...

सीतापुर: कंपोजिट विद्यालय मेंं बच्चो को दी गई यातायात संबंधी जानकारी

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। शासन के निर्देशानुसार लोगो को यातायात के बारे मे जागरूक करने के लिए यातायात माह का पखवारा चलाया जा रहा है।...

Bareilly: कोरोना महामारी के दौरान हालातों को देखते हुए रुहेलखंड विश्वविद्यालय (Rohilkhand University) प्रशासन मोबाइल ऐप बना रहा है। डीन स्टूडेंट वेलफेयर ने मोबाइल ऐप के लिए मसौदा तैयार कर लिया है। मोबाइल ऐप में बहुत सारे ऑप्शन होंगे जो यूनिवर्सिटी की ऑफिशल वेबसाइट (Official website) पर उपलब्ध है। इससे किसी भी सूचना का तत्काल अलर्ट छात्रों के पास पहुंचेगा। 
rohilkhand university
एमजेपीआरयू अपनी सभी सूचनाएं ऑफिशियल वेबसाइट पर जारी करता है। इसके लिए छात्रों को कंप्यूटर या मोबाइल पर वेबसाइट देखनी पड़ती है। परंतु हर बार यह संभव नहीं है। इसलिए छात्रों की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए विश्वविद्यालय प्रशासन मोबाइल एप्लीकेशन (Mobile application) तैयार कर रहा है। ताकि छात्रों को कंप्यूटर या साइबर कैफे की जरूरत न पड़े। लॉकडाउन के दौरान छात्र आसानी से मोबाइल एप्लीकेशन एक्सेस कर सकेंगे और छात्रों के पास सूचनाओं का रियल टाइम अलर्ट (Real time alert) पहुंच सकेगा।

प्रो. एके जेटली ने बताया कि मोबाइल ऐप बनाने के लिए एजेंसी की तलाश होगी। हमारी कोशिश रहेगी कि मोबाइल एप्लीकेशन बेहतर और कम कीमतों में तैयार हो। उन्होंने बताया कि ऐप में क्या-क्या होना चाहिए इसकी पूरी लिस्टिंग (Listing) कर ली गई है। ऐप में सर्कुलर से लेकर एकेडमिक, रिसर्च और कॉलेजों से जुड़ी सभी सूचनाएं अपडेट होती रहेंगी। उन्‍होंने बताया कि इसके लिए देश के प्रमुख संस्थानों के मोबाइल ऐप को भी देखा गया है। ऐप को इस तरह तैयार किया जाएगा कि सभी छात्रों को सूचनाएं मिल सकें और वह अपने सभी काम ऐप पर ही कर सकें।

Related News

बरेली: डॉक्टर के घर से ज्वैलरी और नगदी लेकर नौकरानी फरार

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। बरेली के बारादरी इलाके से एक डॉक्टर के घर से नौकरानी ज्वेलरी व नकदी लेकर फरार हो गई। डॉक्टर ने दिल्ली...

बरेली: गैस रिफलिंग के दौरान ईको कार बनी आग का गोला

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। बरेली के नवाबगंज में ईको गाड़ी में गैस सिलेण्डर से गैस भरते समय गाड़ी ने एकाएक आग पकड़ ली। आग लगने...

यूपी: हाइवे पर घने कोहरे में भिड़े दो ट्रक, चालक घायल

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। यूपी के पीलीभीत में पूरनपूर आसाम हाइवे पर घने कोहरे में दो ट्रकों की भिड़ंत हो गई। हादसे के बाद ट्रक...

सीतापुर: सांसद राजेश वर्मा ने भाजपा स्नातक प्रत्याशी ई० अवनीश कुमार सिंह के लिए किया जनसम्‍पर्क

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। सीतापुर जिले के तंबौर मतदान केंद्र पर केपीएस डिग्री कॉलेज में आयोजित मतदाता सम्मेलन में मुख्य अतिथि सीतापुर सांसद एवं प्रदेशअध्यक्ष...

सीतापुर: कंपोजिट विद्यालय मेंं बच्चो को दी गई यातायात संबंधी जानकारी

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। शासन के निर्देशानुसार लोगो को यातायात के बारे मे जागरूक करने के लिए यातायात माह का पखवारा चलाया जा रहा है।...

बरेली: डीडीपुरम के ग्रीन चिली रेस्टोरेंट में दर्जन भर किशोर पी रहे थे हुक्का पुलिस आई, फिर क्या‍ हुआ देखें यह खबर…

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। बरेली के पाश इलाकों में रेस्‍टोरेंट की आड़ में हुक्‍का बार चलने पर रोक नहीं लग पा रही है । पुलिस...