Uttarakhand Government
Uttarakhand Government
Home उत्तरप्रदेश MISSION SMART CITY: बरेली और मुरादाबाद स्मार्ट सिटी की दौड़ में पीछे

MISSION SMART CITY: बरेली और मुरादाबाद स्मार्ट सिटी की दौड़ में पीछे

एलएसी की स्थिति और तैयारियों की ‘चाइना स्टडी ग्रुप’ ने की समीक्षा, जानिए बैठक में कौन-कौन रहा मौजूद

चीन और भारत (China and India) के लगातार बने तनाव के माहौल के बीच बीच सरकार ने लद्दाख में अभियान का तैयारियों सहित क्षेत्र...

School Reopen: जानिए किन राज्यों में 21 सितंबर से खुलने जा रहे हैं स्कूल

देश के कई राज्यों में 21 सितंबर से स्कूल खुलने जा रहे हैं। केंद्र सरकार (Central Government) की गाइडलाइंस के मुताबिक 21 सितंबर से...

सुशांत सिंह राजपूत की बहन मीतू सिंह ने शेयर की इमोशनल पोस्ट, मां और भाई के लिए कहीं ये बात

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत को तीन महीने हो चुके हैं। इस मामले की जांच सीबीआई, ईडी और नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो...

यूपीएससी आईईएस, आईएसएस परीक्षा का टाइम टेबल हुआ जारी

यूपीएससी ने इंडियन इकोनामिक सर्विसेज (IES) एग्जामिनेशन और इंडियन स्टैटिसटिकल सर्विसेज (ISS) एग्जामिनेशन 2020 का टाइम टेबल (Time Table) जारी कर दिया है। यह...

Covid-19: भारत में कोरोना मरीजों की संख्या 53 लाख के पार, पिछले 24 घंटों में मिले इतने केस

भारत में कोरोना वायरस (corona virus) थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। लगातार कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ती जा रही है। वहीं...

MISSION SMART CITY: बरेली और मुरादाबाद स्मार्ट सिटी मिशन (Smart City Mission) की प्रगति (Progress) में पीछे होने पर मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने नाराजगी जताई और संबंधित मंडलायुक्तों से स्पष्टीकरण (Explanation) भी मांगा है। उन्होंने स्मार्ट सिटी में काम करने वाली संस्थाओं को तेजी से काम करने का निर्देश दिया है और निर्धारित लक्ष्य पूरा न करने वाली संस्था से दंड से वसूला जाएगा।
smart-cityकमिश्नर रणबीर प्रसाद ने कहा कि स्मार्ट सिटी के प्रोजेक्ट (Project) तैयार हो गए हैं। जमीन न मिलने की वजह से देरी हो रही थी। यह जमीन नगर निगम बोर्ड (Municipal board) को देना है। अगले महीने तक अधकितम कामों के टेंडर (Tender) हो जाएगें अब तक 363  करोड़ के टेंडर हो चुके हैं। कंपनी (Company) में मुख्य भूमिका सीईओ (CEO) और नगर आयुक्त (Municipal Commissioner) की है इसमें राजनेताओं को नहीं रखा जायेगा इसी कारण महापौर (Mayor) को नहीं बुलाया गया।

कमिश्‍नर ने बताया कि चौथे चरण में बरेली को स्मार्ट सिटी घोषित किया गया है। इसको देखते हुए हमारा काम खराब नहीं है। कंपनी ने ज्यादातर प्रोजेक्ट पर काम कर लिया है। सड़कों, चौराहों और पार्कों में होने वाले काम दि‍खने भी लगे हैं। नगर निगम बोर्ड से जमीन नहीं मिल पाने की वजह से काम में देरी हो रही है। उन्होंने कहा की स्मार्ट सिटी तहत हमारे शहर के लिए प्रस्तावित कार्य दूसरों शहरों के मुकाबले ज्यादा बेहतर है।

Related News

एलएसी की स्थिति और तैयारियों की ‘चाइना स्टडी ग्रुप’ ने की समीक्षा, जानिए बैठक में कौन-कौन रहा मौजूद

चीन और भारत (China and India) के लगातार बने तनाव के माहौल के बीच बीच सरकार ने लद्दाख में अभियान का तैयारियों सहित क्षेत्र...

School Reopen: जानिए किन राज्यों में 21 सितंबर से खुलने जा रहे हैं स्कूल

देश के कई राज्यों में 21 सितंबर से स्कूल खुलने जा रहे हैं। केंद्र सरकार (Central Government) की गाइडलाइंस के मुताबिक 21 सितंबर से...

सुशांत सिंह राजपूत की बहन मीतू सिंह ने शेयर की इमोशनल पोस्ट, मां और भाई के लिए कहीं ये बात

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत को तीन महीने हो चुके हैं। इस मामले की जांच सीबीआई, ईडी और नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो...

यूपीएससी आईईएस, आईएसएस परीक्षा का टाइम टेबल हुआ जारी

यूपीएससी ने इंडियन इकोनामिक सर्विसेज (IES) एग्जामिनेशन और इंडियन स्टैटिसटिकल सर्विसेज (ISS) एग्जामिनेशन 2020 का टाइम टेबल (Time Table) जारी कर दिया है। यह...

Covid-19: भारत में कोरोना मरीजों की संख्या 53 लाख के पार, पिछले 24 घंटों में मिले इतने केस

भारत में कोरोना वायरस (corona virus) थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। लगातार कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ती जा रही है। वहीं...

मानवीय पहल: इस काम को लेकर CM योगी की हो रही खूब तारीफ, जानें पूरी खबर

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ब्लड कैंसर (blood cancer) से पीड़ित आईआईटी के शोध छात्र आशीष दीक्षित की मदद के लिए 10 लाख रुपये देने...