inspace haldwani
Home देश महबूबा मुफ़्ती ने कहा- पारा को इसलिए सताया जा रहा ताकि वह...

महबूबा मुफ़्ती ने कहा- पारा को इसलिए सताया जा रहा ताकि वह झूठे आरोपों को कबूल कर लें

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री एवं पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी की प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने बुधवार को आरोप लगाया कि उनकी पार्टी के नेता वाहिद उर रहमान पारा को अपराध अनुसंधान विभाग (सीआईडी) सता और प्रताड़ति कर रही है ताकि वह झूठे आरोपों को स्वीकार कर लें।

महबूबा ने कहा कि जम्मू -कश्मीर सीआईडी ने विशेष जांच दल (एसआईटी) के प्रमुख को हटा दिया है  क्योंकि उन्होंने पारा के खिलाफ मनगढंत आरोपों को लगाने में सहयोगी होने से इनकार कर दिया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा,“जम्मू-कश्मीर सीआईडी उन केंद्रीय एजेंसियों की सूची में शामिल हो गई है जो कश्मीरियों को आतंकित करने और उन्हें झूठे मामलों में फंसाने का काम करती हैं। वाहिद के खिलाफ झूठे आरोपों को लगाने में विफल रहने के बाद सीआईडी ने एसआईटी प्रमुख को बदल दिया है क्योंकि उन्होंने पारा के खिलाफ मनगढ़ंत आरोपों को तैयार करने में सहयोगी होने से इनकार कर दिया है।”

पीडीपी प्रमुख ने कहा,“ पारा को हिरासत में सताया और प्रताड़ति किया जा रहा है ताकि वह झूठे आरोपों को स्वीकार कर लें।” उन्होंने कहा कि झूठी स्वीकारोक्ति नहीं किये जाने के कारण पारा को अमानवीय स्थिति में रखा गया है। उन्होंने कहा,“पहले दिन से ही यह जांच फजीर्वाड़े पर आधारित और राजनीति से प्रेरित है।”

गौरतलब है कि पुलवामा से जिला विकास परिषद (डीडीसी) चुनाव के लिए नामांकन दाखिल करने के पांच दिन बाद पारा को राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने गिरफ्तार कर लिया था। हालांकि परिवार के सदस्यों एवं पीडीपी नेताओं के उनके पक्ष में अभियान चलाने के कारण वह चुनाव जीत गये।

आतंकवादियों के साथ संबंध होने के आरोप में गिरफ्तार होने के करीब डेढ़ माह बाद विशेष अदालत के न्यायाधीश सुनीत गुप्ता ने 1० जनवरी को पारा को जमानत दे दी। न्यायमूर्ति गुप्ता ने कहा कि आरोपी के खिलाफ प्रथम दृष्ट्या अपराध विशेषकर गैरकानूनी गतिविधियां अधिनियम (यूएपीए) के तहत कोई केस नहीं बनता प्रतीत होता है।

लेकिन रिहाई के चंद घंटों के भीतर ही जम्मू-कश्मीर पुलिस की ही एक इकाई काउंटर इंटेजीजेंस कश्मीर (सीआईके) ने फिर से पारा को गिरफ्तार कर लिया।

दक्षिण कश्मीर विशेषकर पुलवामा में पीडीपी का आधार मजबूत करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले पारा का नाम निलंबित पुलिस उपाधीक्षक दविंदर सिंह के मामले की जांच के दौरान उभर कर सामने आया था। सिंह को उस समय गिरफ्तार किया गया था जब वह हिज्बुल मुजाहिद्दीन के दो आतंकवादियों को अपने वाहन से श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग के जरिये ले जा रहा था।

Related News

साल 1935 के बाद सबसे छोटा टेस्ट मैच साबित हुआ अहमदाबाद का मैच

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में भारत और इंग्लैंड के बीच का तीसरा टेस्ट मैच वर्ष 1935 के बाद का सबसे...

इंडो पाक बार्डर पर संघर्ष विराम का पूरी तरह पालन करने पर सहमति

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। इंडो पाक बार्डर पर अब दोनों देश संघर्ष विराम और अन्‍य समझौतों का पालन करेंगे। भारत और पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा...

ब्रज की किसान महापंचायत: प्रियंका गांधी ने कहा-गोवर्धन पर्वत बचाकर रखना कहीं सरकार बेच ना दे

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने मंगलवार को मथुरा में कहा कि गोवर्धन पर्वत बचाकर रखिएगा कहीं सरकार इसे भी ना बेच...

गणतंत्र दिवस हिंसा: षड्यंत्रकारी किसान नेता समेत दो को जम्मू से किया गिरफ़्तार

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। दिल्‍ली पुलिस ने जम्‍मू से किसान नेता समेत दो अन्‍य को हिरासत में लिया है। यह लोग गणतंत्र दिवस के दिन...

तांडव वेब सीरीज विवाद: AMAZON PRIME की इंडिया हेड बयान दर्ज कराने पहुंचीं हजरतगंज कोतवाली

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। अमेजन प्राइम की इंडिया हेड अपर्णा पुरोहित मंगलवार दोपहर लखनऊ पहुंच गई हैं। वेब सीरीज तांडव को लेकर दर्ज हुए मुकदमे...

वाराणसी: गोरखा ट्रेनिंग सेन्टर ने 94 जवानों को देश सेवा के लिए समर्पित किया, नेपाली प्रतीक खुखरी भेंट की गई

न्‍यूज टुडे नेटवर्क। गोरखा ट्रेनिंग सेन्‍टर में प्रशिक्षण पाए जवानों को भारतीय सेना में शामिल कर लिया गया। यह जवान अब देश सेवा में...