LOCKDOWN: RSS ने गोद लिए बरेली के 32 हजार परिवार, इस नंबर पर काल कर आप भी ले सकते हैं मदद   

बरेली: कोरोना संक्रमण (Corona infection) को फैलने से रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरे देश में लॉकडाउन (Lockdown) किया है। जिसके चलते लोग अपने घरों में रहने के लिए मजबूर हैं। ऐसे में रोज कमाने-खाने वालों के सामने भोजन की कोई समस्‍या न आए, इसके लिए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने योजना बनाई। जिसके अंर्तगत बरेली महानगर व जनपद के 32 हजार जरूरतमंद परिवारों को संघ ने गोद ले लिया है। इस कार्य को पूरा करने के लिए संघ की ओर से 800 कार्यकर्ता लगाए गए हैं। संघ के विभाग संचालक केसी गुप्ता ने बताया कि ऐसे जरूरतमंद परिवारों को सूचीबद्ध करने के बाद उन तक राशन पहुंचाने का काम दो अप्रैल से शुरू कर दिया गया है।
rss
संघ ने बताया कि 31 मार्च तक इन परिवारों को भोजन के पैकेट (Food packets) पहुंचाए गए। प्रत्येक पैकेट में पांच किलो आटा, एक किलो चावल, एक किलो दाल, एक थैली नमक, आधा किलो चीनी, सौ-सौ ग्राम हल्दी व लाल मिर्च और आल रखे गए। यह राशन खत्म होने पर जरूरतमंदों को दोबारा राशन वितरित किया जाएगा। उन्‍होंने बताया कि बरेली महानगर में तीन सौ और जनपद में पांच सौ यानी कुल 800 कार्यकर्ता वितरण में लगे हुए हैं। महानगर प्रचारक आलोक प्रकाश ने बताया कि संघ ने डिस्ट्रिक्ट आंवला के बहेड़ी और बरेली से कुल 32 हजार परिवारों को चिह्नित किया गया है। यह सभी ऐसे परिवार हैं जिनको आरएसएस (RSS) की तरफ से राशन, दवा और जरूरत का सामान मुहैया कराया जाएगा। संघ ने इस कार्य में समाज सेवा में सक्रिय रहने वाले करीब नौ सौ लोगों का सहयोग लिया। 

संघ हेल्पलाइन नंबर 
संघ ने एक हेल्पलाइन नंबर (Helpline number) 8077930098 जारी किया है। जिस पर फोन करके भोजन, राशन एवं दवा  से संबंधित मदद मांग सकते हैं। संघ के कार्यकर्ता जरूरतमंद के घर पर ही ये सुविधाएं पहुंचाएंगे।

यहाँ भी पढ़े

COVID-19: क्या हवा से भी फैलने लगा है कोरोना? मंत्रालयों ने ज्वाइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया ये

उत्तराखंड की बड़ी खबरें