Uttarakhand Government
Uttarakhand Government
Home उत्तरप्रदेश LOCKDOWN: शैक्षणिक सत्र न हो खराब, इसके लिए सभी बच्चे होंगे पास

LOCKDOWN: शैक्षणिक सत्र न हो खराब, इसके लिए सभी बच्चे होंगे पास

Covid-19: झाड़ू लगाने से भी फैलता है कोरोना, AIIMS के डॉक्टर का दावा

देश में कोरोना वायरस तेजी से बढ़ता जा रहा है। बड़ी सी बीच चौंकाने वाली रिपोर्ट्स भी सामने आ रही हैं। ऐसे में एम्स...

COVID-19: देश में रिकवरी रेट हुआ 80 प्रतिशत से अधिक, एक दिन में ठीक हुए इतने मरीज

देश में कोरोना संक्रमण (Corona Infection) से ठीक होने वाले लोगों की संख्या बड़े रहे हैं। पिछले एक दिन में 90 हजार से अधिक...

MJPRU: रुहेलखंड यूनिवर्सिटी फिर शुरू कर रहा है एमफार्मा, इन विषयों की होगी पढ़ाई

बरेली: रुहेलखंड यूनिवर्सिटी (Rohilkhand University) के फार्मेसी विभाग को एमफार्मा (M Pharma) पाठ्यक्रम दोबारा शुरू करने की अनुमति मिल गई है। इससे समय से...

COVID-19: देश में कोरोना के नए मामलों में आई कमी, 24 घंटे में सामने आए इतने नए केस

देश में पिछले 24 घंटे में आए कोरोना के नए मामलों में कमी आई है। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के...

यूपी: भू-माफियों से खाली कराई जाएंगी जमीनें, योगी सरकार ने बनाई यह कार्ययोजना

योगी सरकार (Yogi government) एक बार फिर से भू-माफियों के खिलाफ सख्त नजर आ रही है। सरकार ने भू-माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई करने की...

कोरोना वायरस महामारी (coronavirus pandemic) का असर हर तरफ देखने को मिल रहा है। शिक्षा के क्षेत्र में भी इसका बहुत बड़ा प्रभाव देखने को मिला है। इस महामारी को देखते हुए उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (Uttar Pradesh Secondary Education Council) ने प्रदेश के सभी स्कूलों में कक्षा 6, 7, 8, 9 और कक्षा 11 के छात्र-छात्राओं को अगली कक्षा में प्रोन्नत करने का आदेश दिया है। माध्यमिक शिक्षा के प्रमुख सचिव आराधना शुक्ला ने इसके आदेश जारी कर दिए हैं।
madhyamik shiksha vibhaagप्रदेशभर में कोरोना वायरस के संक्रमण की स्थितियों को सुधारने के लिए लॉकडाउन (Lockdown) लगा हुआ है। लॉकडाउन के कारण बच्चों की परीक्षाओं (Examination) में असर पड़ा है। जिसको देखते हुए यूपी सरकार ने शैक्षणिक सत्र नियमित करने के उद्देश्य से यह महत्वपूर्ण फैसला लिया है। यूपी बोर्ड ने अपने सभी स्कूल के कक्षा 6, 7, 8, 9 तथा 11 के छात्र-छात्राओं अगले सत्र 2020-21 में प्रमोशन (Promotion) करने का निर्णय किया है। यह आदेश सभी जिला विद्यालय निरीक्षकों को भेज दिये गए हैं।

माध्यमिक शिक्षा विभाग की प्रमुख सचिव आराधना शुक्ला ने बताया कि कोरोना संक्रमण रोकने के लिए किए गए लाकडाउन में उत्पन्न असाधारण परिस्थितियों को देखते हुए शैक्षणिक सत्र को नियमित रखने के लिए यह निर्णय लिया गया है।

Related News

Covid-19: झाड़ू लगाने से भी फैलता है कोरोना, AIIMS के डॉक्टर का दावा

देश में कोरोना वायरस तेजी से बढ़ता जा रहा है। बड़ी सी बीच चौंकाने वाली रिपोर्ट्स भी सामने आ रही हैं। ऐसे में एम्स...

COVID-19: देश में रिकवरी रेट हुआ 80 प्रतिशत से अधिक, एक दिन में ठीक हुए इतने मरीज

देश में कोरोना संक्रमण (Corona Infection) से ठीक होने वाले लोगों की संख्या बड़े रहे हैं। पिछले एक दिन में 90 हजार से अधिक...

MJPRU: रुहेलखंड यूनिवर्सिटी फिर शुरू कर रहा है एमफार्मा, इन विषयों की होगी पढ़ाई

बरेली: रुहेलखंड यूनिवर्सिटी (Rohilkhand University) के फार्मेसी विभाग को एमफार्मा (M Pharma) पाठ्यक्रम दोबारा शुरू करने की अनुमति मिल गई है। इससे समय से...

COVID-19: देश में कोरोना के नए मामलों में आई कमी, 24 घंटे में सामने आए इतने नए केस

देश में पिछले 24 घंटे में आए कोरोना के नए मामलों में कमी आई है। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के...

यूपी: भू-माफियों से खाली कराई जाएंगी जमीनें, योगी सरकार ने बनाई यह कार्ययोजना

योगी सरकार (Yogi government) एक बार फिर से भू-माफियों के खिलाफ सख्त नजर आ रही है। सरकार ने भू-माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई करने की...

Bareilly: गर्मा गर्मी के बीच आए IMA पदों के नतीजे, देखें कौन बना नया अध्यक्ष

बरेली में आईएमए अध्यक्ष पद के चुनाव (IMA President election) के नतीजे सामने आ गए हैं। पति के लिए त्रिकोणीय मुकाबले में डॉ. विमल...