Uttarakhand Government
Uttarakhand Government
Home उत्तरप्रदेश LOCKDOWN: बैंकों में लग रहींं लंबी कतारें, नहीं दे रहे लॉकडाउन के...

LOCKDOWN: बैंकों में लग रहींं लंबी कतारें, नहीं दे रहे लॉकडाउन के नियमों पर ध्‍यान  

BAREILLY: स्कूल फीस को लेकर अभिभावक पहुंचे कलेक्ट्रेट और की ये मांग

बरेली: अभिभावक और स्कूल प्रबंधन (School Management) के बीच फीस को लेकर तकरार जारी है। कोरोना महामारी (Corona Epidemic) के चलते पिछले छह महीने...

रिया और शौविक चक्रवर्ती की जमानत याचिका पर आज नहीं होगी सुनवाई, जानिए कारण

सुशांत सिंह राजपूत केस (Sushant Singh Rajput) से जुड़े ड्रग्स मामले (Drugs Cases) में रिया चक्रवर्ती की मुश्किलें कम नहीं हो रही है। मंगलवार...

Covid Vaccine: भारत बायोटेक बनाएगी एक अरब कोरोना वैक्सीन

पूरी दुनिया कोरोना वायरस महामारी (Corona virus vaccine) से परेशान है। सभी लोगों की आस कोरोना वैक्सीन पर लगी हुई है। इसी बीच कोरोना...

सुशांत सिंह राजपूत की बहन श्वेता ने शेयर किया फैंस द्वारा भेजे गए मैसेज का वीडियो, और कहीं ये बात

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की बहन श्वेता सिंह कीर्ति (Shweta Singh Kirti) सोशल मीडिया पर लगातार सुशांत के लिए न्याय की मांग...

टाइम मैगज़ीन ने जारी की 100 प्रभावशाली लोगों की सूची, PM मोदी के साथ ये लोग भी हैं शामिल

साल 2020 में दुनिया भर के सबसे प्रभावशाली व्यक्तियों की सूची प्रतिष्ठित मैगजीन 'टाइम' (time magazine) ने जारी कर दी है। टाइस मैग्जीन की...

बरेली: लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान गरीब लोगों को पैसे की बजह से कई दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। सरकार ने गरीबों की इस समस्‍या को कम करने के लिए गरीबों के जनधन खातों में रुपये भेजे हैं। ये जन-धन खाते (Jan Dhan accounts) सरकार ने कई साल पहले खुलवाए थे। इन रुपयों को निकालने के लिए लोग लंबी-लंबी कतारों में लगे दिखाई दिए। जहां सोशल डिस्‍टेशिंग (Social distancing) का कोई ध्‍यान नहीं दिया गया। इससे कोरोना संक्रमण (Corona infection) के फैलने का खतरा भी बढ़ जाता है।
bank
कई साल पहले सरकार की तरफ से गरीबों के लिए खुलवाए गए जन-धन खातों को लॉकडाउन के दौरान उपयोग में लाया गया। जिनमें सरकार द्वारा उनके लिए पांच-पांच सौ रुपये भेजे गए। यह सूचना जब खाताधारकों (Account holders) को मिली तो शनिवार सुबह से ही बैंकों के आगे सोशल डिस्टेंस की परवाह किए बगैर महिलाएं लंबी-लंबी लाइनों में खड़ी नजर आईं। 
bank
इस मामले में जब एसबीआई बैंक (SBI Bank) कर्मचारी महेंद्र मेहरोत्रा से बात की गई तो उन्होंने बताया कि सरकार द्वारा डाले गए पैसे को निकालने के लिए ये लोग इकठ्ठा हुए हैं। इन लोगों से कई बार सोशल डिस्टेंस बनाने की बात की गई है। लेकिन लोग सुनने को राजी नहीं हैं। साथ ही मेहरोत्रा ने बताया कि सर्वर डाउन (server down) होने की वजह से यह भीड़ बढ़ गई है। वहीं पैसे निकालने आईं महिलाओं ने सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि इस समय परेशानी की घड़ी चल रही है इस मौके पर यह पैसे हमारे बहुत काम आएंगे।

Related News

BAREILLY: स्कूल फीस को लेकर अभिभावक पहुंचे कलेक्ट्रेट और की ये मांग

बरेली: अभिभावक और स्कूल प्रबंधन (School Management) के बीच फीस को लेकर तकरार जारी है। कोरोना महामारी (Corona Epidemic) के चलते पिछले छह महीने...

रिया और शौविक चक्रवर्ती की जमानत याचिका पर आज नहीं होगी सुनवाई, जानिए कारण

सुशांत सिंह राजपूत केस (Sushant Singh Rajput) से जुड़े ड्रग्स मामले (Drugs Cases) में रिया चक्रवर्ती की मुश्किलें कम नहीं हो रही है। मंगलवार...

Covid Vaccine: भारत बायोटेक बनाएगी एक अरब कोरोना वैक्सीन

पूरी दुनिया कोरोना वायरस महामारी (Corona virus vaccine) से परेशान है। सभी लोगों की आस कोरोना वैक्सीन पर लगी हुई है। इसी बीच कोरोना...

सुशांत सिंह राजपूत की बहन श्वेता ने शेयर किया फैंस द्वारा भेजे गए मैसेज का वीडियो, और कहीं ये बात

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की बहन श्वेता सिंह कीर्ति (Shweta Singh Kirti) सोशल मीडिया पर लगातार सुशांत के लिए न्याय की मांग...

टाइम मैगज़ीन ने जारी की 100 प्रभावशाली लोगों की सूची, PM मोदी के साथ ये लोग भी हैं शामिल

साल 2020 में दुनिया भर के सबसे प्रभावशाली व्यक्तियों की सूची प्रतिष्ठित मैगजीन 'टाइम' (time magazine) ने जारी कर दी है। टाइस मैग्जीन की...

MJPR University: विवि के नए कुलपति आते ही NAAC की निरीक्षण कमेटी में हुए बदलाव

रुहेलखंड विश्वविद्यालय (Rohilkhand University) में नए कुलपति आते ही NAAC के मूल्यांकन की तैयारी तेजी से होने लगी है। कुलपति ने शोध के मामलों...