Uttarakhand Government
Uttarakhand Government
Home उत्तरप्रदेश LOCKDOWN: करमपुर के 150 उपद्रवियों को सर्विलांस से तलाश रही पुलिस

LOCKDOWN: करमपुर के 150 उपद्रवियों को सर्विलांस से तलाश रही पुलिस

MJPR University: विवि के नए कुलपति आते ही NAAC की निरीक्षण कमेटी में हुए बदलाव

रुहेलखंड विश्वविद्यालय (Rohilkhand University) में नए कुलपति आते ही NAAC के मूल्यांकन की तैयारी तेजी से होने लगी है। कुलपति ने शोध के मामलों...

Bareilly: विद्युत कर्मचारी निजीकरण के विरोध में शुरू करेंगे यह अभियान, सरकार को दी चेतावनी

विद्युत विभाग में निजीकरण किए जाने का विरोध तेजी से चल रहा है। इसके लिए विद्युत कर्मचारियों ने निजीकरण के विरोध में पंडित दीनदयाल...

सुशांत सिंह राजपूत केस में हो सकती है चौथी एजेंसी की एंट्री, केंद्र सरकार ने ड्रग्स संबंधी मामलों की जांच के लिए दी मंजूरी

सुशांत सिंह राजपूत केस (Sushant Singh Rajput Case) में सीबीआई, ईडी, एनसीबी के बाद अब चौथी एजेंसी एनआईए भी शामिल हो सकती है। ड्रग्स...

तय समय से पहले समाप्त हो रहा है लोकसभा का मानसून सत्र, जानिए क्यों?

लोकसभा का मानसून सत्र (Monsoon Session) आज समाप्त हो जाएगा। आज लोकसभा (Loksabha) की कार्यवाही का आखरी दिन है। आज की कार्यवाही बुधवार शाम...

Covid-19: देशभर में एक दिन में मिले इतने संक्रमित कि कुल संख्या हो गई 56 लाख के पार

भारत में कोरोना वायरस (corona virus) के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। लेकिन पिछले कुछ दिनों से थोड़ी राहत देखने को...

बरेली: लॉकडाउन (Lockdown) का पालन कराने को लेकर करमपुर में पुलिस (Police) पर हुए हमले के बाद से ही ज्यादातर आरोपी फरार हैं। जिनको पुलिस लगातार तलाश कर रही है। लगभग 150 से अधिक उपद्रवियों को पुलिस सर्विलांस (Surveillance) की मदद से तलाश कर रही है। इसके साथ ही फारार आरोपियों के रिश्तेदारों का भी इन डाटा (data) जुटाया जा रहा है ताकि पुलिस जल्द से जल्द उन्हें पकड़ सके। लॉकडाउन तोड़ने की सूचना पर पर इज्जतनगर थाने की चीता मोबाइल पुलिस(Cheetah Mobile Police) वहां पहुंच गई थी। उसने सड़क पर घूम रहे लोगों को दौड़ा दिया था।

police इसी दौरान करमपुर चौधरी गांव के प्रधान तसब्बर खान समेत 300 से ज्यादा लोगों ने पुलिस चौकी (police station) को घेर लिया। हाइवे जाम कर चौकी फूंकने की कोशिश की थी। इसके बाद पुलिस ने कार्रवाई (Action) करते हुए उपद्रवियों पर जमकर लाठियां बरसा कर 44 लोगों को गिरफ्तार (Arrested) कर लिया था। जिन्हें पुलिस ने मंगलवार की सुबह जेल भेज दिया था। इसके बाद से ही पुलिस गांव में ही रहने वाले करीब 150 उपद्रवियों को तलाश कर रही है। जिनका अब तक कोई सुराग पुलिस के हाथ नहीं लगा है। उपद्रवियों तक पहुंचने के लिए पुलिस अब सर्विलांस की मदद ले रही है। इसके साथ ही पुलिस फरार उपद्रवियों के रिश्तेदारों का भी डाटा जुटा रही है।

Related News

MJPR University: विवि के नए कुलपति आते ही NAAC की निरीक्षण कमेटी में हुए बदलाव

रुहेलखंड विश्वविद्यालय (Rohilkhand University) में नए कुलपति आते ही NAAC के मूल्यांकन की तैयारी तेजी से होने लगी है। कुलपति ने शोध के मामलों...

Bareilly: विद्युत कर्मचारी निजीकरण के विरोध में शुरू करेंगे यह अभियान, सरकार को दी चेतावनी

विद्युत विभाग में निजीकरण किए जाने का विरोध तेजी से चल रहा है। इसके लिए विद्युत कर्मचारियों ने निजीकरण के विरोध में पंडित दीनदयाल...

सुशांत सिंह राजपूत केस में हो सकती है चौथी एजेंसी की एंट्री, केंद्र सरकार ने ड्रग्स संबंधी मामलों की जांच के लिए दी मंजूरी

सुशांत सिंह राजपूत केस (Sushant Singh Rajput Case) में सीबीआई, ईडी, एनसीबी के बाद अब चौथी एजेंसी एनआईए भी शामिल हो सकती है। ड्रग्स...

तय समय से पहले समाप्त हो रहा है लोकसभा का मानसून सत्र, जानिए क्यों?

लोकसभा का मानसून सत्र (Monsoon Session) आज समाप्त हो जाएगा। आज लोकसभा (Loksabha) की कार्यवाही का आखरी दिन है। आज की कार्यवाही बुधवार शाम...

Covid-19: देशभर में एक दिन में मिले इतने संक्रमित कि कुल संख्या हो गई 56 लाख के पार

भारत में कोरोना वायरस (corona virus) के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। लेकिन पिछले कुछ दिनों से थोड़ी राहत देखने को...

सावधान! अपने बच्चों को डीजल से रखिए दूर, ले सकता है जान, देखिए पूरी घटना

दुनिया भर में तरह-तरह की अजीबोगरीब घटनाएं घटती रहती हैं, जो लोगों को हैरतअंगेज में डाल देती है। वहीं अब एक डेढ़ साल के...