Uttarakhand Government
Uttarakhand Government
Home उत्तरप्रदेश LOCKDOWN: इस एप की सहायता से ग्रामीण घर मंगा सकेंगे आवश्यक सामान

LOCKDOWN: इस एप की सहायता से ग्रामीण घर मंगा सकेंगे आवश्यक सामान

COVID-19: सारे रिकॉर्ड तोड़ रिकवरी रेट में टॉप पर पहुंचा भारत

देश में कोरोना संक्रमण (Corona Infection) के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं। लेकिन इस संक्रमण से ठीक होने वाले लोगों के मामलों ने...

रवि किशन के ड्रग्स के स्टेटमेंट को लेकर अनुराग कश्यप ने किया बड़ा खुलासा, रवि किशन को लेकर कही ये बात

संसद के मानसून सत्र (Monsoon Session) में बॉलीवुड में ड्रग्स का मुद्दा उठाया गया था। इस पर रवि किशन (Ravi Kishan) ने कहा था...

एलएसी की स्थिति और तैयारियों की ‘चाइना स्टडी ग्रुप’ ने की समीक्षा, जानिए बैठक में कौन-कौन रहा मौजूद

चीन और भारत (China and India) के लगातार बने तनाव के माहौल के बीच बीच सरकार ने लद्दाख में अभियान का तैयारियों सहित क्षेत्र...

School Reopen: जानिए किन राज्यों में 21 सितंबर से खुलने जा रहे हैं स्कूल

देश के कई राज्यों में 21 सितंबर से स्कूल खुलने जा रहे हैं। केंद्र सरकार (Central Government) की गाइडलाइंस के मुताबिक 21 सितंबर से...

सुशांत सिंह राजपूत की बहन मीतू सिंह ने शेयर की इमोशनल पोस्ट, मां और भाई के लिए कहीं ये बात

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत को तीन महीने हो चुके हैं। इस मामले की जांच सीबीआई, ईडी और नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो...

लॉकडाउन (Lockdown) में गांव (Village) के लोगों को आवश्यक सामान लेने में परेशानियां हो रही हैं। इसको देखते हुए सरकार (Government) गांव में आवश्यक वस्तुओं की सप्लाई (supply) के लिए ग्रामीण ई-स्टोर (Grameen e-store) लॉन्च (launch) करने जा रही है। ग्रामीण ई स्टोर एक एप है जिसकी मदद से गांव में रहने वाले लोग अपनी जरूरत का सामान अपने घरों तक मंगा सकेंगे।
GRAMEEN E STOREइस कार्य के लिए कॉमन सर्विस सेंटर (Common Service Centre) से जुड़े विलेज लेवल एंटरप्रेन्‍योर्स (Village Level Entrepreneurs) की सहायता ली जाएगी। सीएससी (CSC) भारत सरकार (Indian government) के इलेक्ट्रॉनिक्स एवं आईटी मंत्रालय (Ministry of Electronics and IT) के अधीन काम करता है। सीएससी  के सीईओ ने बताया कि यह एप दो-तीन दिनों में लॉन्च हो जाएगा। यह स्मार्ट फोन के गूगल प्ले स्टोर (Google Play Store) में उपलब्ध होगा। ग्रामीणों के सामान मंगवाने व  उनके घर तक पहुंचाने की जिम्मेदारी बीएलई (VLE) की होगी। इस एप पर सामान की कीमत को भी दर्शाया जाएगा। अगर यह प्रयोग सफल रहा तो गांव में अमेज़न (Amazon), फ्लिपकार्ट (Flipkart) जैसी सुविधा भी शुरू हो जाएगी।

Related News

COVID-19: सारे रिकॉर्ड तोड़ रिकवरी रेट में टॉप पर पहुंचा भारत

देश में कोरोना संक्रमण (Corona Infection) के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं। लेकिन इस संक्रमण से ठीक होने वाले लोगों के मामलों ने...

रवि किशन के ड्रग्स के स्टेटमेंट को लेकर अनुराग कश्यप ने किया बड़ा खुलासा, रवि किशन को लेकर कही ये बात

संसद के मानसून सत्र (Monsoon Session) में बॉलीवुड में ड्रग्स का मुद्दा उठाया गया था। इस पर रवि किशन (Ravi Kishan) ने कहा था...

एलएसी की स्थिति और तैयारियों की ‘चाइना स्टडी ग्रुप’ ने की समीक्षा, जानिए बैठक में कौन-कौन रहा मौजूद

चीन और भारत (China and India) के लगातार बने तनाव के माहौल के बीच बीच सरकार ने लद्दाख में अभियान का तैयारियों सहित क्षेत्र...

School Reopen: जानिए किन राज्यों में 21 सितंबर से खुलने जा रहे हैं स्कूल

देश के कई राज्यों में 21 सितंबर से स्कूल खुलने जा रहे हैं। केंद्र सरकार (Central Government) की गाइडलाइंस के मुताबिक 21 सितंबर से...

सुशांत सिंह राजपूत की बहन मीतू सिंह ने शेयर की इमोशनल पोस्ट, मां और भाई के लिए कहीं ये बात

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत को तीन महीने हो चुके हैं। इस मामले की जांच सीबीआई, ईडी और नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो...

यूपीएससी आईईएस, आईएसएस परीक्षा का टाइम टेबल हुआ जारी

यूपीएससी ने इंडियन इकोनामिक सर्विसेज (IES) एग्जामिनेशन और इंडियन स्टैटिसटिकल सर्विसेज (ISS) एग्जामिनेशन 2020 का टाइम टेबल (Time Table) जारी कर दिया है। यह...