Liquid Mirror Telescope: भारत के इस शहर में बन रही एशिया की सबसे बड़ी लिक्विड मिरर दूरबीन

जल्द ही झीलों का शहर (City of Lakes) अंतरिक्ष विज्ञान क्षेत्र (space science sector) में बड़ी उपलब्धि से जुड़ने जा रहा है। मुक्तेश्वर स्थित देवस्थल में एशिया की सबसे बड़ी 4 मीटर इंटरनेशनल लिक्विड मिरर टेलीस्कोप (International liquid mirror telescope) की स्थापना लगभग पूरी हो चुकी है। इसके कार्य योजना के लिए आज भारत, बेल्जियम और कनाडा के वैज्ञानिक ऑनलाइन विचार करेंगे।
Liquid Mirror Telescope
यह परियोजना लगभग अपने अंतिम चरण में है। इसे बनाने में करीब 10 करोड़ की लागत आई है। इसमें भारत, बेल्जियम के साथ कनाडा संयुक्त भागीदार बना है। बेल्गो-इंडियन नेटवर्क फॉर एस्ट्रोनॉमी एंड एस्ट्रोफिजिक्स प्रोजेक्ट (Belgo Indian Network for Astronomy and Astrophysics Project) के तहत साल 2012 में आईएलएमटी के लिए एक प्रोजेक्ट तैयार किया गया। दूरबीन स्थापित करने के लिए यूरोपियन देशों में नैनीताल स्थित आर्यभट्ट प्रेक्षण विज्ञान एवं शोध संस्थान के अधीन देवस्थल पर अंतिम मुहर लगी।

इस परियोजना में करीब 8 साल की प्रक्रिया के बाद अक्टूबर से शुरू करने का दावा किया जा रहा है। मौजूदा वक्त में दूरबीन की स्थापना में ढाई सौ करोड़ तक लागत सामान्य है, लेकिन तीन देशों के सहयोग से बन रहा यह प्रोजेक्ट करीब आठ साल पुराना है इसलिए दस करोड़ लग रहा है। इससे पहले भारत ने बेल्जियम की मदद से एशिया की सबसे बड़ी 3.6 मीटर प्रकाशीय दूरबीन भी यहां स्थापित की है।
                    http://www.narayan98.co.in/
Narayan College                    https://youtu.be/yEWmOfXJRX8

उत्तराखंड की बड़ी खबरें