iimt haldwani

जानिए! कैसा रहेगा नया साल 2019,इन राशियों में नौकरी-व्यापार में बन रहे तरक्की के योग…

288

नई दिल्ली-न्यूज टुडे नेटवर्क: राशिफल 2019 में हम 12 राशियों के लिए आने वाला साल कैसा रहने वाला है बता रहे हैं। आर्थिक जीवन, शिक्षा करियर सेहत और लव लाइफ के लिए साल 2019 क्या कुछ लेकर आया है ये संदेह अब खत्म हो चुका है। साल 2018 को अलविदा कहने के साथ साल 2019 के वार्षिक राशिफल को हम लेकर आए हैं। तो आज हम आपके डर को दूर करते हुए बताते हैं कि 12 राशियों मेष राशि, वृष राशि, मिथुन राशि, कर्क राशि, सिंह राशि, कन्या राशि,तुला राशि,वॄश्चिक राशि,धनु राशि,मकर राशि, कुम्भ राशि, मीन राशि के लिए साल 2019 कैसा रहेगा? तो आइए जानते हैं साल 2019 सिंह राशि वालों के लिए क्या नई सौगात लेकर आया है।

drishti haldwani

maxresdefault

मेष 

मेष राशि वाले जातकों के लिए यह वर्ष प्रारंभ में कुछ विषमताओं का सामना करने वाला रहेगा। परिवार में अशांति वाला माहौल रहेगा व पारिवारिक क्लेश रहेगा। आर्थिक परेशानी रहेगी। कभी-कभी अनावश्यक भय भी रहेगा। आपको इस वर्ष में सफलता तो कम मिलेगी, साथ ही इच्छित फल में भी कमी रहेगी। आप अपवाद वाली स्थिति में रहेंगे। आय से अधिक खर्च रहने से कर्ज की स्थिति बन सकती है, ध्यान देना होगा। मार्च से घर-गृहस्थी की समस्या हल होगी, परंतु अभी भी इच्छित फल में देर होगी। राजकीय व प्रशासनिक कार्यों में सफलता मिलेगी। सुख की अनुकूलता का अहसास होगा। नवंबर में मान-सम्मान में वृद्धि होगी। व्यवसाय में वृद्धि नजर आएगी। जीवनसाथी को सुख मिलेगा। आर्थिक स्थिति में सुधार होगा। सुख-शांति मिलेगी। तीर्थयात्रा के योग बनेंगे साथ ही स्थायी संपत्ति के अवसर मिलेंगे व सफलता भी मिलेगी। धन-धान्य एवं संतान सुख के साथ-साथ अन्य सुख भी प्राप्त होंगे। कृषक व अधिकारी वर्ग के लिए यह वर्ष अच्छा रहेगा। इस राशि वाले विद्यार्थी वर्ग के लिए यह वर्ष विचारणीय रहेगा। महिला वर्ग के लिए ठीक-ठीक रहेगा।
विशेष- गुरु, शनि के जप व आराधना वर्ष में करना लाभप्रद रहेगा।

वृषभ

वृषभ राशि वाले जातकों के लिए इस वर्ष के प्रारंभ में सुख-शांति रहेगी। मान-सम्मान मिलेगा, परंतु स्वयं के निम्न विचारों के कारण ये परेशान रहेंगे। आर्थिक स्थिति श्रेष्ठ रहेगी। संकट से छुटकारा मिलने लगेगा। मन में उत्साह रहेगा जिससे सुविचार व उमंगता के साथ अच्छा परिवर्तन मिलने से आय के नए स्रोत खुलेंगे जिसके परिणामस्वरूप आर्थिक स्थिति और मजबूत होगी। मार्च से जीवनसाथी व संतान से सुख मिलेगा। धन से भी सुख रहेगा, परंतु कर्ज का भय व वाद-विवाद की स्थिति बनी रहेगी। राजकीय कार्यों में रुचि बढ़ेगी, साथ ही सफलता भी मिलेगी। व्यापार वृद्धि, धन-संपदा व शौर्य-पराक्रम में भी वृद्धि होगी। वर्ष के उत्तरार्द्ध में विद्यार्थी वर्ग को सफलता मिलेगी, परंतु दुर्घटना हो सकती है इस पर ध्यान देना होगा। व्यापारी व राजनीतिक वर्ग के लिए वर्ष सफल रहेगा। कृषि वालों के लिए मध्यम रहेगा। नौकरी वाले जातकों के लिए यह वर्ष ठीक-ठीक रहेगा।
विशेष- वर्ष में राहु की शांति जप, पाठ-पूजन लाभप्रद रहेगा।

mithun

मिथुन

मिथुन राशि वाले जातकों के लिए यह वर्ष मिश्रित फल वाला रहेगा। पारिवारिक क्लेश व आर्थिक समस्या रहेगी। धन संचय की चिंता बनी रहेगी अत:परिवार में सामंजस्य बनाकर रखना होगा। व्यापार-व्यवसाय में मंदी रहेगी। स्वास्थ्य की परेशानी रहेगी। स्थान परिवर्तन भी हो सकता है। सगे-संबधी व मित्रों से दूरी बनेगी। सामाजिक कार्यों से यात्राएं होंगी, परंतु कार्य सेवा में नेतृत्व का अभाव रहेगा जिससे कार्यों में विघ्न आएंगे व इच्छित कार्य में विघ्न आएंगे। गृहस्थ जीवन में उतार-चढ़ाव रहेगा। मार्च से जीवनसाथी को कष्ट व संतान से दूरी होगी। आमदनी में वृद्धि होगी, परंतु सम्मान में कमी होगी जिसके कारण कष्ट व विरोध का सामना करना पड़ेगा अत: वाणी में नम्रता लानी पड़ेगी। राजनीति में भी परेशानी आएगी अत: सावधानी रखना पड़ेगी। नेता, व्यापारी व कृषकों के लिए यह वर्ष सावधानी रखने वाला रहेगा। विद्यार्थी वर्ग के लिए यह वर्ष सफलता वाला रहेगा। महिला वर्ग के लिए मध्यम रहेगा।

कर्क

कर्क राशि वाले जातकों के लिए यह वर्ष श्रेष्ठ रहेगा। सामाजिक व पारिवारिक मान-सम्मान में वृद्धि होगी। सामाजिक कार्यों में रुचि बढ़ेगी व यश प्राप्त होगा। दृढ़ता व विश्वास में वृद्धि होगी। पारिवारिक सुख में वृद्धि होगी, साथ ही भौतिक सुख-सुविधा में वृद्धि होगी। वर्ष के उत्तरार्द्ध में विदेश यात्रा होगी। व्यापार व राजनीति में सफलता मिलेगी। भाग्य साथ देगा। पारिवारिक सामंजस्यता भी रहेगी जिससे मन में आनंद की अनुभूति होगी। लोक-कल्याण के भी कुछ कार्य होंगे। सोने के आभूषण की खरीदारी होगी, साथ ही वस्त्रों के व्यापारी को अच्छा लाभ होगा। नौकरी में पदोन्नति होगी, परंतु उत्तरार्द्ध में स्वास्थ्य में तकलीफ रहेगी विशेषकर पेट की तकलीफ रहेगी। गैस व अपचन आदि बना रहेगा अर्थात इस राशि के व्यापारी वर्ग, कृषक, विद्यार्थी व नौकरी वाले ही सफल रहेंगे।
विशेष- दान-पुण्य पूरे वर्ष आपके लिए लाभप्रद रहेगा।

सिंह

सिंह राशि वाले जातकों के लिए यह वर्ष शुभ-अशुभ दोनों फल वाला रहेगा। कामकाज सोच-समझकर करें। जिस कार्य का कोई महत्व नहीं, उस कार्य को न करें वरना परेशानी बढ़ेगी। शारीरिक कष्ट भी रहेगा। रिश्तेदारों व साथियों से विरोध की स्थिति बनेगी। समझदारी से रिश्तों व दोस्ती को लेकर चलें। अध्यात्म व ज्ञान के प्रति रुचि में वृद्धि होगी। देश व विदेश की यात्रा भी होगी, परंतु संतुष्टि नहीं होगी। तीर्थ के लिए मन बनेगा, परंतु योग कम बनेंगे अर्थात अच्छे-बुरे दोनों विचार मन में आएंगे। इस कारण कामकाज में रुकावट, धन की हानि व सुख में कमी आएगी। घर व गृहस्थी में परेशानी रहेगी। नए वाहन के योग बनेंगे। कुछ उठापटक भी करना पड़ सकती है। दिसंबर माह में घर-गृहस्थी के सुख व व्यापार में वृद्धि होगी। कृषि में लाभ उचित रहेगा, परंतु चालबाजी जीवन में नुकसान देगी। व्यापारी वर्ग के लिए यह वर्ष ठीक रहेगा। विद्यार्थी वर्ग के लिए यह वर्ष परेशानी वाला रहेगा। नौकरी वर्ग वालों के लिए यह वर्ष मिश्रित फल वाला रहेगा।
विशेष- पूरे वर्ष गुरु की आराधना लाभप्रद रहेगी।

kanya

कन्या 

कन्या राशि वाले जातकों के लिए यह वर्ष व्यापार सुख वाला रहेगा। घर-परिवार में विग्रह की स्थिति न बने, ये ध्यान रखे। पारिवारिक सुख के लिए संयम से काम लें। धर्म व पुण्य के प्रति रुचि होगी। लाभ भी प्राप्त होगा। धन अभाव रहेगा। संघर्ष अधिक करने पर कार्य की सफलता मिलेगी। संतान से सुख प्राप्त होगा। आय के नए रिश्ते खुलेंगे व आय में वृद्धि होगी। शारीरिक कष्ट रहेगा। घटना-दुर्घटना हो सकती है, सावधानी रखना पड़ेगी। शनि की पनौती से भी परेशानी आएगी। पारिवारिक क्लेश व फिजूलखर्च में वृद्धि होगी। मित्रों से दूरी हो सकती है। विरोधी व शत्रु से भय लगा रहेगा। कल्पना अधिक रहेगी व कार्य कम होंगे। विद्यार्थी वर्ग के लिए यह वर्ष श्रेष्ठ व सफलता वाला रहेगा। कृषि में भी अच्छी उन्नति होगी। राजनीतिक वर्ग के लिए वर्ष के मध्य का समय छोडक़र श्रेष्ठ रहेगा। कर्मठता व लगनशीलता से कार्य करने पर इस राशि वाले प्रत्येक वर्ग के लिए सफल व उन्नति वाला रहेगा।
विशेष- : वर्ष में शनि के जप व हनुमानजी की आराधना लाभप्रद रहेगी।

तुला 

तुला राशि वाले जातकों के लिए यह वर्ष विवाद-उलझनों से उभरकर मान-सम्मान वाला रहेगा। उत्कृष्ट वर्ष रहेगा। व्यापार में वृद्धि होगी। संपत्ति में भी वृद्धि होगी, साथ ही स्थायी संपत्ति होगी। किसी रत्न से सम्मानित होने के योग बनते हैं। स्वर्ण आभूषण आदि की बढ़ोतरी होगी। राजनीतिक पक्ष वालों को नए पद-प्रतिष्ठा मिलेगी। यह वर्ष मनोकामना पूर्ण होने वाला रहेगा। घर-गृहस्थी में सुख बढ़ेगा। मित्रों व मिलने वालों का सहयोग मिलेगा। किसी पिछड़े मित्र से मिलन होगा। संतान व जीवनसाथी से सुख प्राप्त होगा। आर्थिक स्थिति में अच्छा सुधार होगा। महत्वाकांक्षा त्यागने से धर्म के नए कार्य आपके द्वारा होंगे जिससे मानसिक सुख की प्राप्ति होगी अत: धर्म व तीर्थ का लाभ लें। अपनों से सादगीपूर्ण व्यवहार रखना भविष्य के लिए फायदेमंद होगा। कुछ साधना सिद्धि के योग भी बनते हैं। शारीरिक कष्ट रहेगा। शारीरिक कमजोरी में मन की दृढ़ता ही आपको स्वस्थ व सुखी रखेगी अर्थात शौर्य व आत्मबल से कार्य करें। अविवाहित कन्या के लिए विवाह वाला वर्ष रहेगा। मनोरथ पूर्ण होंगे। विद्यार्थी वर्ग के लिए संघर्ष वाला वर्ष रहेगा। राजकीय अधिकारी वर्ग के लिए अच्छा रहेगा। नेतागण व व्यापारी वर्ग के लिए भी वर्ष अच्छा रहेगा। कृषि वालों के लिए यह वर्ष मध्यम रहेगा।
विशेष- वर्षभर राहु के जप व आराधना लाभप्रद रहेगी।

वृश्चिक

वृश्चिक राशि वालों के लिए यह वर्ष मिश्रित फल वाला रहेगा। पिछले वर्ष की अपेक्षा यह वर्ष सफलता वाला रहेगा। शारीरिक कष्ट रहेगा। आधि-व्याधि से परेशानी। मन-वाणी व विचारों में तर्क-संगति से स्वजन व ईष्ट मित्रों से विचारों के मतभेद होते हुए भी अनुचित लाभ मिलेगा। घर-गृहस्थी में उतार-चढ़ाव होते हुए भी शांति का एहसास रहेगा। आर्थिक स्थिति में परिवर्तन। सावधानी से कार्य लें। कर्ज से बचें, नहीं तो स्वयं को भय बना रहेगा। घर में बड़े-बुजुर्गों को शारीरिक व मानसिक कष्ट रहेगा। अविवाहित बालकों के लिए विवाह के योग बनेंगे। कार्यों में विघ्न आएंगे। दुर्घटना में चोट लग सकती है। वृद्धों की सेवा से हर कष्ट से सफलता मिलेगी। शांति, समझदारी व प्रेम से काम लेने से अच्छे कार्यों की शुरुआत होगी। पेट व पैर संबंधी तकलीफ रहेगी। व्यापारी वर्ग के लिए यह वर्ष मध्यम रहेगा। राजनेता के लिए यह वर्ष उलझन वाला रहेगा व कृषक वर्ग के लिए ठीक-ठीक रहेगा।
विशेष- गायत्री जप व आराधना वर्षभर के लिए लाभप्रद रहेगी।

धनु

धनु राशि वाले जातकों के लिए यह वर्ष  साढ़ेसाती   वाला रहेगा। अवमानना व अपमान का भी सामना करना पड़ सकता है। धैर्य से ही फायदेमंद रहेगा। आमदनी से अधिक खर्च रहेगा। इस आर्थिक कष्ट के कारण वाद-विवाद भी हो सकता है। शारीरिक व मानसिक कष्ट रहेगा। असहनशीलता न करें। सहनशीलता से सफलता मिलेगी। उद्वेग,क्रोध, बुरे विचारों व वासनादि से बचें तथा चपलता व चतुराई से कार्य करें जिससे कि सुखी जीवन हो। अपने व पराए सभी में असहयोग की भावना दिखाई देगी। जिद करना नुकसानदायक हो सकता है। खान-पान का ध्यान रखें, नहीं तो शारीरिक तकलीफ होगी। विरोधी आप पर हावी हो सकते हैं, ध्यान देना होगा। जल्दबाजी से नहीं, तर्क-बुद्धि व संयम-सादगी से कार्य लें। घर-गृहस्थी में खटपट व विचारों में मतभेद संभव हैं। किसी के छल-कपट में आ सकते हैं। झूठ का सहारा लेकर कर्म करने वाली स्थिति बनेगी। व्यापारी वर्ग के लिए यह वर्ष अच्छा रहेगा। वर्ष के मध्य माह में तकलीफ रहेगी। कृषक वर्ग सालभर उलझनों में रहेगा। आर्थिक के साथ ही वह मानसिक रूप से परेशान रहेगा। विद्यार्थी वर्ग को नए आयाम मिलेंगे। महिला वर्ग के लिए यह वर्ष मध्यम फल वाला रहेगा।
विशेष – मां दुर्गा की आराधना व मंत्र जप लाभप्रद रहेगा।

मकर

मकर राशि वाले जातकों के लिए यह वर्ष शनि की प्रथम ढैया वाला रहेगा। वर्ष में चिंता रहेगी, साथ ही भय बना रहेगा। यह वर्ष संतान के सुख व नाना प्रकार के लाभ वाला रहेगा। व्यापार में वृद्धि होगी। कारोबार व धन-संपत्ति में भी वृद्धि होगी। राज्य से सम्मानित होने का योग है। विवाह व रोजगार के योग बनेंगे। कोर्ट-कचहरी के कार्यों में सफलता मिलेगी। न्याय के प्रति अविश्वास, विश्वास में बदलेगा। लक्ष्मी प्राप्ति होगी जिससे कि धर्म के प्रति भी आस्था होगी। शत्रु व झंझटों से छुटकारा मिलेगा। विद्यार्थियों के लिए उच्च शिक्षा के अवसर बढ़ेंगे जिससे कि वे उत्साह से आगे कार्य करें। निरुत्साह सफलता में रुकावट का कार्य कर सकता है। बंधु, मित्र व कुटुम्ब से विशेष प्रयोजन में सहयोग प्राप्त होगा। घर-गृहस्थी में सुख की वृद्धि होगी। उत्तरार्द्ध में कुछ उलझनें आ सकती हैं। चतुराई से समाधान हो जाएगा। व्यापारी वर्ग के लिए यह वर्ष अच्छा रहेगा। राजनीति वालों के लिए सावधानी से कार्य करने वाला रहेगा। कृषक वर्ग के लिए सफलता वाला रहेगा। नौकरी करने वालों के लिए यह वर्ष वाद-विवाद वाला रहेगा।
विशेष – वर्षभर गणेशजी की आराधना व जप लाभप्रद रहेंगे।

kumbh

कुंभ

कुंभ राशि वाले जातकों के लिए वर्ष कर्मप्रधान व मान-सम्मान वाला रहेगा। सामाजिक कार्यों में रुचि बढ़ेगी। उचित लाभ मिलेगा। धन का सदुपयोग होगा अर्थात धन-संपत्ति में विशेष वृद्धि होगी, साथ ही सुयश की प्राप्ति होगी। अच्छे मित्र व स्नेह, व्यवहार तथा सद्गुण में वृद्धि के साथ-साथ आरोग्यता बनी रहेगी। मनोबल को उच्च बनाकर रखें। महिला वर्ग के लिए यह वर्ष अतिउत्तम रहेगा। संतति व स्वजन से सहयोग प्राप्त होगा। सहभागिता व अपनत्व से अच्छा लाभ होगा। वर्ष के उत्तरार्द्ध में दुष्ट, दुर्जन व कुसंगति स्वत: निर्बल होगी। सद्गुण के मार्ग व सद्विचारों से प्रेरणा पाकर महानता का कार्य करें। विशेष संघर्ष से सफलता मिलेगी। विद्यार्थी वर्ग को अधिक परिश्रम से सफलता प्राप्त होगी। संशय की स्थिति भी बनी रहेगी। स्वकर्म-धर्म पर निर्भय रहना होगा। कृषक, व्यापारी, राजनेता एवं अधिकारी वर्ग के लिए सफलता वाला वर्ष रहेगा।
विशेष – जप-तप व रामजी के ध्यान द्वारा सुख-शांति की प्राप्ति होगी।

मीन

मीन राशि वाले जातकों के लिए यह वर्ष उत्तम फल वाला रहेगा। जीवनसाथी व संतान से सुख प्राप्त होगा। शारीरिक तकलीफ खत्म होगी। मन में दृढ़ संकल्पता रहेगी। धर्म के प्रति रुचि बढ़ेगी। शत्रु पर विजय प्राप्त होगी। व्यापार में वृद्धि होगी। भूमि व भवन से भी लाभ प्राप्त होगा। सुख-संपदा में वृद्धि होगी। समाज में मान-सम्मान की वृद्धि होगी व सफलता मिलेगी। राजकीय कार्यों में भी सफलता मिलेगी। विवेक व विचार से काम लेना होगा। इस वर्ष स्थान परिवर्तन के भी योग बन रहे हैं। नौकरी में पदोन्नति होगी। कृषक वर्ग के लिए यह वर्ष अच्छा रहेगा। उच्च वर्ग के अधिकारियों के लिए यह वर्ष अच्छा रहेगा। इस वर्ष चलित कार्यों से बचना होगा वरना हानि हो सकती है। राजनीति वालों के लिए यह वर्ष मिश्रित फल वाला रहेगा। माता-पिता को शारीरिक कष्ट रहेगा। बहन को ससुराल में सुख मिलना प्रारंभ हो जाएगा। लोककल्याणकारी कार्यों में रुचि बढ़ेगी।

विशेष : पूरे वर्ष धार्मिक कार्य करें व नवग्रह के जप करना लाभप्रद रहेगा।