iimt haldwani

लक्ष इंटरनेशल स्कूल में मनाया गया कारगिल विजय दिवस, शहीदों को दी श्रद्धांजलि

85

कमलुआगांजा रोड स्थित लक्ष इंटरनेशनल स्कूल में कारगिल विजय दिवस बड़े ही जोश के साथ मनाया गया। कार्यक्रम के दौरान शुरुआत में सर्वप्रथम विद्यालय के समस्त स्टाफ के द्वारा मोमबत्ती जलाकर शहीदों को श्रद्धांजलि दी गई। उसके बाद टीचर्स द्वारा बच्चों को कारगिल विजय दिवस के बारे में बताया गया कि 26 जुलाई को हमारा करगिल विजय दिवस मनाया जाता है।

amarpali haldwani

kargil5

बच्चों को दी कारगिल दिवस की जानकारी

वर्ष 1999 में भारतीय सेना के जवानों ने अपने अदम्य साहस और वीरता से करगिल और उसके आसपास की दूसरी चोटियों पर कब्जा जमा पाकिस्तानी सेना को खदेड़ बाहर किया और इन चोटियों पर फिर से विजय हासिल की थी। इस मुहिम में भारतीय सेना के तकरीबन 500 वीर सपूत शहीद हुए थे। 26 जुलाई 1999 के दिन भारतीय सेना ने करगिल युद्ध के दौरान चलाए गए ऑपरेशन विजय को सफलतापूर्वक अंजाम देकर अपनी मातृभूमि को घुसपैठियों के चंगुल से मुक्त कराया था। इसी की याद में 26 जुलाई अब हर वर्ष कारगिल विजय दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस प्रकार हमारे देश के वीरों ने अपनी मातृभूमि की रक्षा के लिए अपने प्राणों की आहुति दी और कारगिल युद्ध में विजय प्राप्त की।

kargill4

बच्चों ने किया शहीदों को नमन

उसके बाद कक्षा-3 की पलाक्षा के द्वारा कारगिल विजय दिवस पर भाषण दिया गया तथा कक्षा-4 की हृद्यांशी के द्वारा देश भक्ति कविता प्रस्तुत की गई और साथ ही सीनियर बच्चों के द्वारा देश भक्ति गीत कर चले हम फिदा देश भक्ति गीत गाकर शहीदों को नमन किया। कार्यक्रम के अंत में भारत माता की जय के नारे के साथ प्रबंधक महादेय श्री मोहित शर्मा जी द्वारा बच्चों को देश प्रेम का सन्देश दिया गया।