किच्छा- हादसे का कारण बनी ये छोटी-सी चूक, रात के अंधेरे में बुझ गए तीन घरों के चिराग

Slider

किच्छा- न्यूज टुडे नेटवर्क: देर रात लकड़ियों से भरी ट्रॉली से एक बाइक पर सवार तीन युवक भीड़ गए। टक्कर इनती जबरदस्त थी कि अस्पताल पहुंचते ही दो युवकों ने दम तोड़ दिया। जबकि तीसरे घर के चिराग को अस्पताल में उपचार के दौरान डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। इधर टक्कर के बाद ट्रॉली चालक घटनास्थल पर ही गाड़ी छोड़कर फरार हो गया है। बता दें देर रात किच्छा से तीन युवक बाइक से दरऊ जा रहे था। इसी दौरान अजाद नगर के पास उनकी बाई लकड़ी से लदी ट्रॉली से भिड़ गई। बाइक सवारों की चीख-पुकार सुनकर मौके पर स्थानीय लोग पहुंचे और खून से लथपथ तीनों युवकों को अस्पताल पहुंचाया। अस्पताल में डॉक्टरों ने दो को मृत घोषित कर दिया और एक को हायर सेंटर रेफर किया।

Slider

अस्पताल पहुंचे ही तोड़ा दम

जानकारी के मुताबिक बुधवार रात करीब साढ़े आठ बजे अमन ( 25) पुत्र छोटेलाल निवासी पुरानी मंडी किच्छा, विकास (20) पुत्र सपन मंडल निवासी बेदी मोहल्ला किच्छा और धनंजय पांडे (30) पुत्र सुरेंद्र पांडे निवासी बंदिया एक बाइक पर सवार होकर किच्छा से ग्राम दरऊ की तरफ जा रहे थे। ग्राम आजाद नगर के सामने उनकी बाइक लकड़ी लदी ट्रॉली से टकरा गई। राहगीरों की मदद से तीनों को सीएचसी लाया गया, जहां से उन्हें जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। यहां पहुंचने पर अमन और धनंजय को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। तीसरे घायल विकास ने एसटीएच पहुंचने पर दम तोड़ दिया। मामले पुलिस कार्यवाई जारी है।

नोटवही देखा जाए तो लोग अक्सर एक बाइक में तीन-तीन सवार होकर या बिना हैलमेट बाइक चलाकर ट्रैफिक नियमों को अपने हाथ में लेते है। कभी-कभी छोटी सी चूक आपकी जान भी ले सकती है। इसलिए ट्रैफिक नियमों का हमेशा पालन करें और सुरक्षित रहे।

उत्तराखंड की बड़ी खबरें