drishti haldwani

केजरीवाल का मास्टर स्ट्रोक : घोषणापत्र – अब सरकारी नौकरी में दिल्लीवासियों को 85 फीसदी आरक्षण देने का वादा

71

नई दिल्ली-न्यूज टुडे नेटवर्क। लोकसभा चुनाव 2019 के लिए आम आदमी पार्टी ने भी अपना घोषणा-पत्र जारी कर दिया है। पार्टी मुख्यालय में प्रेसवार्ता कर लोकसभा चुनाव के लिए घोषणा पत्र जारी करने के दौरान मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भाजपा पर हमला भी बोला। पार्टी मुख्यालय में प्रेसवार्ता कर लोकसभा चुनाव के लिए घोषणा पत्र जारी करने के दौरान मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भाजपा पर हमला भी बोला। केजरीवाल ने कहा कि वह भाजपा के अलावा किसी भी सरकार का समर्थन करेंगे। मोदी-शाह की जोड़ी को सत्ता से बेदखल करने के लिए आप किसी भी पार्टी की सरकार को समर्थन देगी।

iimt haldwani

mage-20

बेरोजगारी बड़ा मुद्दा

सीएम अरविंद केजरीवाल ने घोषणा-पत्र में दिल्ली को मुख्य रूप से केन्द्र बिंदु में रखा है। क्योंकि दिल्ली की 7 लोकसभा सीटों को जीतने के लिए खास तौर आप ने यह घोषणा-पत्र तैयार किया है। इसमें कई वादें आप ने किए हैं लेकिन केजरीवाल ने मास्टर स्ट्रोक जो खेला उसमें बेरोजगारी को सबसे बड़ा मुद्दा बनाया है। केजरीवाल ने यह माना है कि अन्य राज्यों की तरह दिल्ली के भीतर स्थानीय लोगों को नौकरी नहीं मिल पा रही है। इसमें बाहर से आने वाले लोगों का कब्जा बढ़ता जा रहा है। लिहाजा आम आदमी पार्टी अब सरकारी नौकरियों में 85 फीसदी तक आरक्षण दिल्ली के मूलनिवासियों को देगी। इसके साथ केजरीवाल ने यह भी कहा कि हमारा सबसे बड़ा एजेंडा मोदी-शाह की जोड़ी को केंद्र में सरकार बनाने से रोकना है। इसके साथ ही उन्होंने दिल्ली को पूर्ण राज्य बनाने के वादे पर जोर दिया।

kejari

‘आप’ के घोषणा-पत्र में 10 बड़े वादें …

  • अगर दिल्ली में AAP  के सातों सांसद आते हैं तो हम कुछ भी करके दिल्ली को पूर्ण राज्य बनवा कर रहेंगे।
  • दिल्ली पूर्णराज्य बनेगी तो यहां के 85प्रतिशत बच्चों को कॉलेजों में एडमिशन मिल पाएगा।
  • दिल्ली सरकार की 85 फीसदी नौकरियां दिल्ली के वोटरों को मिलेंगी।
  • दिल्ली पूर्णराज्य बनेगी, तो पुलिस जनता के प्रति जवाबदेह होगी, जिससे महिलाएं सुरक्षित होंगी।
  • दिल्ली पूर्णराज्य बनेगी तो सभी कच्चे कर्मचारियों को पक्का कर पाएंगे।
  • दिल्ली पूर्णराज्य बनेगी तो रूष्टष्ठ सरकार के अंदर आएगी फिर दिल्ली और भी साफ बनेगी।
  • 2019 का चुनाव, भारत के जनतंत्र को बचाने का चुनाव है, देश के संविधान को बचाने का चुनाव है।
  • कांग्रेस और बीजेपी ने दिल्ली को पूर्ण राज्य बनाने के वादे पर धोखा दिया है।
  • भारत अगर धर्म और जाति के नाम पर बंट गया तो भारत नहीं बचेगा।
  • अगर भारत बचेगा तो पार्टियां बचेंगी, भारत बचेगा तो ये मेनिफेस्टो बचेगा।